सामग्री पर जाएँ

सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय

स्थापित2020; 4 वर्ष पूर्व (2020)
प्रकार:राजकीय
कुलाधिपति:उत्तराखण्ड के राज्यपाल
कुलपति:नरेन्द्र सिंह भंडारी
अवस्थिति:अल्मोड़ा, उत्तराखण्ड, भारत
परिसर:नगरीय
पुराने नाम:SSJ Campus
सम्बन्धन:यूजीसी
जालपृष्ठ:ssju.ac.in

सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय (एसएसजे विश्वविद्यालय) भारत के उत्तराखण्ड राज्य के अल्मोड़ा नगर में स्थित एक राजकीय विश्वविद्यालय है।[1] विश्वविद्यालय की स्थापना २०२० में सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय अधिनियम, २०१९ (२०२० के उत्तराखण्ड अधिनियम संख्या १९)[2] के तहत की गयी, जिसे उत्तराखंड कैबिनेट द्वारा अक्टूबर २०१९ में अनुमोदित किया गया था।[3] विश्वविद्यालय का संचालन अगस्त २०२० में शुरू हुआ,[4] जब विश्वविद्यालय के पहले कुलपति, नरेंद्र सिंह भंडारी ने अपना पद ग्रहण किया।[5] विश्वविद्यालय के तीन परिसर हैं :-

  1. सोबन सिंह जीना परिसर, अल्मोड़ा
  2. लक्ष्मण सिंह महार परिसर, पिथौरागढ़
  3. पं॰ बद्रीदत्त पाण्डेय परिसर, बागेश्वर

पिथौरागढ़ और बागेश्वर, दोनों परिसरों की स्थापना २०२० में कुमाऊं विश्वविद्यालय से एसएसजे विश्वविद्यालय के अलग होने के साथ हुई थी।

  1. "University". ugc.ac.in. 4 December 2020. मूल से 2020-12-04 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 December 2020.
  2. "State Universities: Rajbhawan, Uttarakhand, India". Rajbhawan Uttarahand Govt. of Uttarakhand. 20 October 2020. मूल से 2020-10-20 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 4 December 2020.
  3. "Uttarakhand govt approves new water policy". Outlook India. अभिगमन तिथि 30 December 2020.
  4. Upreti, Gopesh (14 August 2020). "प्रो.नरेन्द्र सिंह भण्डारी ने सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय अल्मोड़ा के पहले कुलपति का कार्यभार किया ग्रहण". शक्ति न्यूज अल्मोड़ा |. मूल से 6 जनवरी 2021 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 6 January 2021.
  5. "Bhandari to be first VC of Soban Singh Jeena varsity". The Pioneer (अंग्रेज़ी में). अभिगमन तिथि 4 December 2020.

बाहरी कड़ियाँ

[संपादित करें]