कसार देवी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कसार देवी मंदिर

कसार देवी उत्तराखण्ड में अल्मोड़ा के निकट एक गाँव है। यह कसार देवी मंदिर के कारण प्रसिद्ध है। मंदिर दूसरी शताब्दी का है। स्वामी विवेकानन्द १८९० में यहाँ आये थे। इसके अलावा अनेकों पश्चिमी साधक यहाँ आये और रहे। यह क्रैंक रिज के लिये भी प्रसिद्ध है जहाँ १९६०-७० के दशक के हिप्पी आन्दोलन में बहुत प्रसिद्ध हुआ था। आज भी देशी-विदेशी पर्वतारोही और पर्यटक यहाँ आते रहते हैं।

प्रतिवर्ष कार्तिक पूर्णिमा (नवम्बर-दिसम्बर में) को यहाँ कसार देवी का मेला लगता है।

कसार देवी जी पी एस 8 ( KASAR DEVI GPS 8) :-

कसार देवी मंदिर परिसर में जी पी एस 8 ( KASAR DEVI GPS 8) वह पॉइंट है, जिसके बारे में अमेरिका की संस्था नासा (NASA, AMERICA) ने ग्रेविटी पॉइंट के बारे में बताया है। मुख्य मंदिर के द्वार के बायीँ ओर नासा के द्वारा यह स्थान चिन्हित करते ही GPS 8 लिखा है।

स्थलीय निरीक्षण के बाद लिखा लेख- गौरी शंकर काण्डपाल, संस्कृतिकर्मी, अल्मोड़ा/नैनीताल (+918909848043)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]