रीमा लागू

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
रीमा लागू
Reema Lagoo.jpg
जन्म गुरिंदर भदभदे
21 जून 1958
बम्बई, बम्बई राज्य
(अब महाराष्ट्र में), भारत
मृत्यु (आयु 59)
मुम्बई, भारत
राष्ट्रीयता भारतीय
व्यवसाय अभिनेत्री, मॉडल
सक्रिय वर्ष 1980–2017
जीवनसाथी विवेक लागू[*]

रीमा लागू (21 जून 1958 – 18 मई 2017) एक भारतीय फिल्म अभिनेत्री थीं। इन्हें हिन्दी और मराठी सिनेमा में सहायक और माँ के कई किरदार निभाने के कारण जाना जाता है।[1] यह लगभग चार दशक से मराठी मंच पर कार्य कर रही थीं। इन्होंने मराठी धारावाहिक "तुजा मजा जामेना" में मुख्य किरदार निभाया था, इसके अलावा हिन्दी धारावाहिक "श्रीमान श्रीमती" और "तू तू मैं मैं" में भी महत्वपूर्ण किरदार निभा चुकी हैं। इन्हें कई हिन्दी फिल्मों में माँ के किरदार निभाने के कारण जाना जाता है, जिसमें मैंने प्यार किया, आशिक़ी, साजन, हम आपके हैं कौन, रंगीला, वास्तव, कुछ कुछ होता है, कल हो ना हो और हम साथ साथ हैं आदि है।[2][3]

अभिनय[संपादित करें]

लागू ने ज्यादातर हिंदी फिल्म उद्योग के कुछ बड़े नामों के साथ सहायक भूमिकाओं में काम किया है। टेलीविजन धारावाहिकों के साथ शुरू होकर, वह फिल्म कयामत से कयामत तक (1988), जहां उन्होंने जूही चावला की माँ की भूमिका निभाई। वह अरुणा राजे की रिहाई (1988) में एक विवादास्पद भूमिका में देखी गई थी। वह तब फिल्म फिल्म मैंने प्यार किया (1989) में सलमान खान की माँ के तौर पर और साजन (1991) में भी अभिनय किया जो बॉक्स ऑफिस पर एक सुपरहिट थी। इसके बाद उन्होंने अपराध थ्रिलर गुमराह (1993) में श्रीदेवी की माँ, जय किशन (1994) के रूप में अक्षय कुमार की माँ और रंगीला (1995) में उर्मिला मातोंडकर की माँ के रूप में अभिनय किया। गुमराह (1993) बॉक्स ऑफिस पर साल का सातवीं सबसे बड़ा ग्रॉसर थी, जय किशन (1994) एक वाणिज्यिक सफलता थी, इस प्रकार घोषित 'सेमिहिट थी और रंगीला (1995) बॉक्स ऑफिस पर इस वर्ष की सबसे अधिक कमाई की थी।

उन्होंने बॉलीवुड उद्योग में सबसे बड़ी हिट फिल्मों में काम किया है जिसमें हम आप के हैं कौन (1994), ये दिल्लगी (1994), दिलवाले (1994), रंगीला (199 5), कुछ कुछ होता है (1998) और कल हो ना हो (2003) आदि फिल्में शामिल हैं।

ज्यादातर फिल्मों में इन्होंने एक अधेड़ उम्र की माँ की भूमिका निभाई। इसके अतिरिक्त आक्रोश (1980) में एक नर्तक और ये दिल्लगी (1994) में एक सख्त व्यवसायी थीं। 1990 में इन्होंने टीवी धारावाहिक तू तू मैं मैं में सुप्रिया पिल्गांवकर के साथ अभिनय किया और श्रीमान श्रीमती में भी अभिनय किया। मराठी रहस्यमयी फ़िल्म बिंदास्त में इनकी भूमिका की काफी सराहना की गई।

उन्होंने वास्तव: द रियलिटी (1999) में एक चुनौतीपूर्ण भूमिका निभाई, डॉन (संजय दत्त) की माँ का चित्रण किया जो अपने बेटे को मारती है। उनके सबसे उल्लेखनीय प्रदर्शनों में से पंकज कपूर और रघुवीर यादव के साथ एक प्रसिद्ध फिल्म रुई का बोझ (1997) में देखा जा सकता है। लागू ने मराठी शो मनाचा मुज्रा पर दिखाई दीं, जो मराठी व्यक्तित्व का सम्मान करता है। यह अमेरिकी रेडियो और टीवी शो दिस इज योर लाइफ के प्रारूप में समान है, ये मुख्यतः मैंने प्यारे किया, साजन, हम साथ-साथ हैं, जुड़वा, पत्थर के फूल, शादी करके फंस गया यार, निश्चय और कहीं प्यार ना हो जाये हैं जैसी फ़िल्मों में बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान की माँ का रोल खेलने के लिए भी जानी जाती हैं।

निजी जीवन[संपादित करें]

रीमा जी का जन्म 1958 में हुआ था। उनका नाम पहले गुरिंदर भदभदे था। इनकी माँ मन्दाकिनी भदभदे एक अभिनेत्री थीं, जो लेकुर उदण्ड जाहली नामक नाटक के कारण मराठी मंच में जानी जाती थी। रीमा जी के अभिनय की कला का पता पुणे में पता चला जब वे हुजूरपगा उच्च माध्यमिक विद्यालय में विद्यार्थी थीं। उच्च माध्यमिक विद्यालय की पढ़ाई पूरी करने के बाद से ही उनकी पेशेवर के रूप में अभिनय की शुरुआत हुई। इनकी अभिनय में पहली नौकरी मराठी मंच पर लगी थी। इसके बाद 1979 में इन्होंने मराठी फिल्म "सिंहासन" से अपने अभिनय के सफर में कदम रखा। इसके एक वर्ष बाद, 1980 में इन्हें "कलयुग" नामक हिन्दी फिल्म में काम मिल गया और इसी से इनकी हिन्दी फिल्मों में भी शुरुआत हुई।

मृत्यु[संपादित करें]

पेट दर्द की शिकायत करने के बाद,रीमा लागू को 18 मई 2017 को मुंबई में कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। दिल का दौरा पड़ने से 3:15 बजे (आईएसटी) उनका निधन हो गया। इनकी मृत्यु के समय में इन्हें पूरी तरह से ठीक बताया गया और स्वास्थ्य संबंधी मुद्दे भी नहीं थे। वह 59 वर्ष की थीं।[4][5][6][7]

फिल्में[संपादित करें]

वर्ष शीर्षक किरदार टिप्पणी
1979 सिंहासन मराठी फिल्म
1980 आक्रोश नौटंकी
1980 कलयुग किरण
1985 नासूर मंजुला मोहिते
1988 हमारा खानदान डॉ॰ जुली
1988 कयामत से कयामत तक कमला सिंह
1988 रिहाई
1989 मैंने प्यार किया कौशल्या चौधरी नामांकित, सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री हेतु फिल्मफेयर पुरस्कार
1990 पुलिस पब्लिक
1990 आशिक़ी श्रीमती विक्रम रॉय नामांकित, सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री हेतु फिल्मफेयर पुरस्कार
1990 प्रतिबंध
1991 बलिदान शारदा ज्ञानोबा मराठी फिल्म
1991 प्यार भरा दिल सुधा सुंदरलाल
1991 पत्तर के फूल मीरा वर्मा
1991 फ़र्स्ट लव लेटर
1991 हेन्ना
1991 साजन कमला वर्मा
1992 सपने साजन के
1992 प्रेम दीवाने सुमित्रा सिंह
1992 जीवालगा
1992 जीना मारना तेरे संग
1992 शोला और शबनम शारदा थापा
1992 वंश रुक्मणी धर्माधिकारी
1992 कैद में है बुलबुल गुड्डू चौधरी
1992 दो हंसो का जोड़ा
1992 निश्चय यशोदा गुजराल
1992 शुभ मंगल सावधान मराठी फिल्म
1992 सपने साजन के दीपक की माँ
1993 श्रीमान आशिक सुमन मेहरा
1993 संग्राम
1993 महाकाल
1993 आज के औरत शान्ता पाटील
1993 गुमराह शारदा चढ़ा
1993 दिल है बेताब
1993 प्यार का तराना
1994 दिलवाले
1994 पथरीला रास्ता
1994 हम आपके हैं कौन श्रीमती सिद्धार्थ चौधरी नामांकित, सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री हेतु फिल्मफेयर पुरस्कार
1995 जय विक्रांता
1995 रंगीला
1996 अपने दम पर सक्सेना
1996 विजेता श्रीमती लक्ष्मी प्रसाद
1996 पापा कहते हैं
1996 प्रेम ग्रंथ पार्वती
1996 माहिर आशा
1996 दिल तेरा दीवाना कुमार की पत्नी
1997 उफ ये मोहब्बत
1997 रुई का बोझ
1997 जुड़वा प्रेम मल्होत्रा की माँ
1997 यस बॉस राहुल जोशी की माँ
1997 बेताबी समीर की माँ
1997 दीवाना मस्ताना बुन्नु की माँ
1998 तिरछी टोपीवाले
1998 प्यार तो होना ही था शेखर की बहन
1998 मेरे दो अनमोल रतन सुमन
1998 दीवाना हूँ पागल नहीं
1998 आंटी न॰ 1 विजयालक्ष्मी
1998 कुछ कुछ होता है अंजलि की माँ
1998 झूठ बोले कौआ काटे सावित्री अभयंकर
1999 हम साथ साथ हैं ममता
1999 बिंधास्त' आसावरी पटवर्धन
1999 आरजू पार्वती
1999 वास्तव : द रियालिटि शान्ता नामांकित, सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री हेतु फिल्मफेयर पुरस्कार
1999 दिलगी
2000 क्या कहना
2000 निदान सुहासिनी नादकरनी
2000 दीवाने
2000 जिस देश में गंगा रहता हैं लक्ष्मी
2000 कहीं प्यार न हो जाये श्रीमती शर्मा
2001 हम दीवाने प्यार के श्रीमति चट्टर्जी
2001 सेंसर
2001 इंडियन श्रीमती सूर्यप्रताप सिंह
2001 तेरा मेरा साथ रहें जानकी गुप्ता
2002 हथियार शान्ता
2002 रेशमगढ़ सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री हेतु महाराष्ट्र राज्य फिल्म पुरस्कार
2003 कवत्य महाकाल
2003 प्राण जाये पर शान न जाये
2003 मैं प्रेम की दीवानी हूँ
2003 चुपके से लक्ष्मी टिमघूरे
2003 कल हो ना हो श्रीमती माथुर
2004 हत्या श्रीमती आर॰ लाल
2005 कोई मेरे दिल में है श्रीमती विक्रम मल्होत्रा
2005 हम तुम और मोम
2005 शादी करके फस गया यार
2005 सैंडविच
2005 डिवोर्स: नोट बिट्वीन हसबेंड एंड वाइफ न्यायाधिस
2006 आई शपथ देवकी देसाई
2007 सावली मराठी फिल्म
2007 देहा पीलू
2008 हमने जीना सीख लिया
2008 सुपरस्टार कुसुम सक्सेना
2008 महबूबा क्वीन मदर
2008 किडनैप सोनिया की दादी
2009 मे शिवजीराजे भोसले बोलतोय जीजाबाई मराठी फिल्म
2009 अग्निदिव्या मराठी फिल्म
2009 आमरस इन्दुमति मराठी फिल्म
2009 घो माला असला हवा दग्दुबाई मराठी फिल्म
2010 मिठाई वर्सेस मिठाई मिताली की माँ
2011 जन्म वंधाना सरपोतदार
2011 मुंबई कटिंग
2011 ट्रेपेड इन ट्रडिसन: रिवाज रंजीत सिंह की पत्नी
2011 धूसर
2012 ओम अल्लाह
2012 498ए: द वेडिग गिफ्ट सुधा पटेल
2013 अनुमति अंबु मराठी फिल्म
2014 उंगली अभय कश्यप की माँ
2015 मैं हूँ रजनीकान्त स्वयं
2015 आई लव एनवाई टिकु वर्मा की गोद ली माँ विशेष उपस्थिती
2015 कतयार कालजात घुसली कतयार मराठी फिल्म
2016 जौनद्या ना बालसाहेब आइसहेब मराठी फिल्म
2017 देवा मराठी फिल्म

धारावाहिक[संपादित करें]

वर्ष शीर्षक किरदार टिप्पणी
1985 खानदान
1988 महानगर
1993 किरदार
1994 आसमान से आगे
1994 श्रीमान श्रीमती कोकिला कुलकर्णी
1994–2000 तू तू मैं मैं देवकी वर्मा सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री हेतु भारतीय टेली पुरस्कार
1997 दो और दो पाँच राधा
1999 वक्त की रफ्तार
2002–2003 धड़कन प्रजकता मराठे
2006 कड़वी, खट्टी, मीठी यशोदा वर्मा
2009 दो हंसों का जोड़ा
2012 लाखों में एक
2013 तुजा मजा जामेना रीमा लिमाए
2016–2017 नामकरण दयावन्ती मेहता

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Game for negative shades". 23 September 2016. http://www.thehindu.com/features/metroplus/Game-for-negative-shades/article14995487.ece. अभिगमन तिथि: 18 May 2017. 
  2. Chaudhuri, Diptakirti (2012). Kitnay Aadmi Thay. Westland. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9789381626191. https://books.google.co.in/books?id=CeVeKRFzEt0C. अभिगमन तिथि: 18 May 2017. 
  3. Joshi, Sumit. Bollywood Through Ages. Best Book Reads. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9781311676696. https://books.google.co.in/books?id=WHQWCgAAQBAJ. अभिगमन तिथि: 18 May 2017. 
  4. "Actor Reema Lagoo passes away". The Hindu. 18 May 2017. http://www.thehindu.com/entertainment/actress-reema-lagoo-passes-away/article18478738.ece. अभिगमन तिथि: 18 May 2017. 
  5. "Actress Reema Lagoo passes away after suffering a cardiac arrest" (en में). NewsBytes. https://www.newsbytesapp.com/timeline/Entertainment/7092/41977/reema-lagoo-bollywood-s-loving-mother-passes-away. 
  6. "रीमा लागू: नहीं रहीं बॉलीवुड की मॉडर्न मां". बीबीसी हिन्दी. http://www.bbc.com/hindi/entertainment-39958193. अभिगमन तिथि: 18 मई 2017. 
  7. "रीमा लागू नहीं रहीं, 7 फिल्मों में सलमान की मां का रोल अदा किया था". दैनिक भास्कर. https://bollywood.bhaskar.com/news/ENT-BNE-veteran-actress-reema-lagoo-passes-away-5600856-NOR.html. अभिगमन तिथि: 18 मई 2017. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]