सामग्री पर जाएँ

तेरा मेरा साथ रहे (2001 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
तेरा मेरा साथ रहे

तेरा मेरा साथ रहे का पोस्टर
निर्देशक महेश मांजरेकर
लेखक दीपक कुलकर्णी (संवाद)
निर्माता एन. आर. पचीसिया
अभिनेता अजय देवगन,
सोनाली बेंद्रे,
नम्रता शिरोडकर,
दुष्यंत वाघ
संगीतकार आनन्द राज आनन्द
प्रदर्शन तिथियाँ
16 नवंबर, 2001
देश भारत
भाषा हिन्दी

तेरा मेरा साथ रहे 2001 में बनी हिन्दी भाषा की फिल्म है। यह महेश मांजरेकर द्वारा निर्देशित है। इसमें अजय देवगन, दुष्यंत वाघ, सोनाली बेंद्रे और नम्रता शिरोडकर हैं।[1]

संक्षेप[संपादित करें]

राज दीक्षित (अजय देवगन) एक सम्मानित आम व्यक्ति है जो अपने छोटे भाई राहुल (दुष्यंत वाघ) के साथ रहता है। सुमन (नम्रता शिरोडकर) और उसके माता-पिता (शिवाजी साटम और रीमा लागू) उसके पड़ोसी हैं। वह उसके माता-पिता जैसे हैं। राहुल के जीवन में बाधा राहुल की शारीरिक विकलांगता है। इसकी वजह से राज को उसके पास होना ही पड़ता है। सुमन राज से प्यार करती है और खुलेआम इसका इज़हार करती है। राज को एक ऐसी पत्नी की ज़रूरत है जो राहुल को अपने जीवन में स्वीकार करने को तैयार हो। राज द्वारा उसकी भावनाओं को नजरअंदाज किए जाने के कारण, सुमन पड़ोस में किसी और के साथ घूमने लगती है। इससे उसके माता-पिता बहुत नाराज होते हैं और वह अंत में घर छोड़ देती है।

खन्ना (प्रेम चोपड़ा) राज के शांत व्यक्तित्व का फायदा उठाता है और उसे अपनी भतीजी, माधुरी (सोनाली बेंद्रे) से शादी करने के लिए कहता है। राज को प्रस्ताव स्वीकार करने और माधुरी के साथ रिश्ता विकसित करने में ज्यादा समय नहीं लगता। राज ने माधुरी को समझाया कि प्रेमी होने के नाते उनके रिश्ते में विकास की बहुत कम गुंजाइश है। माधुरी की राय है कि राहुल को एक विशेष स्कूल में भेजा जाना चाहिए, जो राज को सख्त नापसंद है। इसलिए माधुरी रिश्ता खत्म कर देती है। राज 15 साल तक राहुल की देखभाल करते-करते थक गया है और अब एक सामान्य पारिवारिक जीवन जीना चाहता है। वह अपना मन बदल लेता है और राहुल को एक विशेष स्कूल में दाखिला दिला देता है। राज और माधुरी अपने रिश्ते को फिर से जीवंत कर लेते हैं। हालाँकि, राज को राहुल की याद आने लगती है और इससे उसके काम पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। इस बीच, सुमन लौट आती है। अंत में राज, माधुरी और राहुल साथ में रहते हैं।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत समीर द्वारा लिखित; सारा संगीत आनन्द राज आनन्द द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."दिल वही बेक़रार होता है"उदित नारायण, अलका याज्ञनिक3:14
2."डम डम डीगा डीगा"अतुल काले, बेला शिंदे6:02
3."हाथों की लकीरों में"उदित नारायण, अलका याज्ञनिक5:48
4."हक़ जता दे"सुखविंदर सिंह, हेमा सरदेसाई5:22
5."जम्बो जेट"अतुल काले4:34
6."मैं सोचूँ"हरिहरन, अलका याज्ञनिक5:17
7."पहली नज़र"उदित नारायण, अलका याज्ञनिक5:14
8."तड़पाती है, तरसाती है"उदित नारायण, अलका याज्ञनिक5:06
9."तेरा मेरा साथ रहे"उदित नारायण, अलका याज्ञनिक1:50
10."तेरा मेरा साथ रहे — पुरुष संस्करण"उदित नारायण6:00
11."तुझसे बिछड़ के"उदित नारायण1:14

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "दिवाली पर आई ये 8 फिल्में निकली फुस्सी बम, सलमान-अक्षय तक नहीं बचा पाए FLOP होने से". Asianet News Network Pvt Ltd. अभिगमन तिथि 25 जनवरी 2024.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]