कहीं प्यार ना हो जाये

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
कहीं प्यार ना हो जाये
कहीं प्यार ना हो जाये.jpg
कहीं प्यार ना हो जाये का पोस्टर
निर्देशक के मुरलीमोहन राव
निर्माता नरेन्द्र बजाज
लेखक संजय छेल
राजेश मलिक
मनोज लालवानी
अभिनेता सलमान ख़ान,
रानी मुखर्जी,
जैकी श्रॉफ,
रवीना टंडन,
मोहनीश बहल,
शक्ति कपूर,
पूजा बत्रा,
कश्मीरा शाह
संगीतकार हिमेश रेशमिया
प्रदर्शन तिथि(याँ) 17 नवम्बर, 2000
देश भारत
भाषा हिन्दी

कहीं प्यार ना हो जाये 2000 की हिन्दी भाषा की रूमानी नाट्य फिल्म है। इस फिल्म में सलमान ख़ान और रानी मुखर्जी मुख्य भूमिकाओं में हैं। जैकी श्रॉफ, मोहनीश बहल और कश्मीरा शाह सहायक भूमिकाओं में हैं। जारी होने पर फ़िल्म ने औसत प्रदर्शन किया था।[1]

संक्षेप[संपादित करें]

ये कहानी एक हँसते-गाते गायक, प्रेम (सलमान ख़ान) की है, जो शादियों और छोटे-बड़े कार्यक्रमों में गाना गाता है। इसके माता-पिता की बहुत पहले मौत हो जाती है और वो अपने शादीशुदा बहन नीलु और उसके पति विनोद के साथ रहता है। प्रेम को निशा (रवीना टंडन) से प्यार होता है और उनकी शादी भी तय हो जाती है। लेकिन शादी के दिन प्रेम बस इंतजार करते ही रह जाता है और निशा आती ही नहीं है। बाद में उसे पता चलता है कि निशा ने अमेरिका में रहने वाले एक अमीर एनआरआई से शादी कर ली है। इस खबर से प्रेम का दिल टूट जाता है और वो शराबी बन जाता है, जिससे उसका कैरियर डूबता चला जाता है।

प्रेम के पड़ोस में मोना के घर पर उसकी चचेरी बहन प्रिया (रानी मुखर्जी) रहने आती है। वो वीडियोग्राफर बनना चाहती है, लेकिन उसकी विधवा माँ (जो पुणे में रहती है) उसकी जल्द से जल्द शादी करवाना चाहती है। वो उसे मुंबई में बस कुछ ही समय रहने की अनुमति देती है। प्रेम और प्रिया, दोनों साथ में शादियों और अन्य कार्यक्रमों में साथ काम करना शुरू कर देते हैं। प्रेम को धीरे धीरे प्रिया से प्यार होने लगता है, लेकिन वो अपनी भावनाओं को अपने अंदर ही दफन कर देता है। प्रिया को भी धीरे धीरे प्रेम से प्यार होने लगता है, लेकिन उसे यही लगता है कि प्रेम अब भी निशा से ही प्यार करता है।

प्रिया की माँ अपनी बेटी के लिए रिश्ता ढूंढना शुरू कर देती है और उसे अमेरिका में रहने वाला एक अमीर और अच्छा परिवार मिल जाता है। दोनों परिवारों में मुलाक़ात के बाद दोनों की शादी तय हो जाती है। बाद में ये पता चलता है कि वो लड़का राहूल (इन्द्र कुमार) कोई और नहीं, बल्कि वही लड़का है, जिससे निशा की शादी होने वाली थी। उसके बाद पता चलता है कि निशा को अपने छोटे भाई के कैंसर के इलाज करवाने के लिए बहुत सारे पैसों की जरूरत थी। इस कारण उसने प्रेम को छोड़ कर एक अमीर आदमी से शादी करने का निर्णय लिया था। जब राहुल को इस बारे में पता चला तो उसने उसके भाई का बिना कोई लाभ देखे इलाज कराया। लेकिन निशा को कोई और पसंद था, इस कारण उसने शादी करने से इंकार कर दिया। प्रिया और राहुल की सगाई हो जाती है और निशा का भाई भी पूरी तरह ठीक हो जाता है। राहुल को निशा धन्यवाद दे कर वापस प्रेम के पास लौटने का निर्णय लेती है।

निशा को लगता है कि उसकी मजबूरीयों के बारे में प्रेम को पता चलेगा तो वो मान जाएगा। प्रेम निशा से कहता है कि अब हम दोनों के बीच पहले जैसा कुछ नहीं हो सकता और अब वो काफी बदल चुका है और मन ही मन प्रिया से प्यार करने लगा है। वो कहता है कि अब वो उससे शादी नहीं कर सकता और उसे शुभकामनाओं के साथ अलविदा कह देता है। उसके अगले ही दिन निशा की विमान में मुलाक़ात राहुल और प्रिया से होती है जो दोनों शादी के लिए आगरा जा रहे हैं। वो उन दोनों को बधाई देती है और प्रिया भी उसे प्रेम के साथ वापस एक होने के लिए बधाई देती है। निशा उसे बताती है कि अब प्रेम उससे प्यार नहीं करता, उसे कोई और लड़की से प्यार है। प्रिया ये सुन कर हैरान रह जाती है। निशा कहती है कि वो उस लड़की को नहीं जानती, लेकिन प्रिया को दिल ही दिल में ऐसा लगता है कि वो लड़की वही है।

इत्तेफाक से प्रिया और राहुल की शादी रोकने के लिए, प्रेम और उसका परिवार भी उसी विमान में बैठता है। प्रेम अपनी दिल की बात बताने के लिए एक गाना गाता है और प्रिया उस गाने को सुन कर समझ जाती है कि प्रेम उससे प्यार करता है। जब विमान आगरा में उतरता है तो प्रेम और प्रिया एक हो जाते हैं और उसी दौरान राहुल और निशा भी एक साथ हो जाते हैं।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

Untitled

सभी हिमेश रेशमिया द्वारा संगीतबद्ध।

क्र॰शीर्षकगीतकारगायकअवधि
1."कहीं प्यार ना हो जाये" (I)राजेश मलिकअलका याज्ञनिक, कुमार सानु5:19
2."साँवरिया रे ओ साँवरिया"सुधाकर शर्माकमाल खान, अलका याज्ञनिक5:13
3."धिन तारा धिन तारा"सुधाकर शर्माकुमार सानु5:08
4."परदेसी" (I)सुधाकर शर्मासोनू निगम, अलका याज्ञनिक5:04
5."आ मेरी लाइफ बना दे"राजेश मलिककमाल खान, सुनीता राव5:03
6."ओ प्रिया ओ प्रिया"सुधाकर शर्माकमाल खान, कुमार सानु, अलका याज्ञनिक, नितिन मुकेश5:50
7."थीम - कहीं प्यार ना हो जाये"राजेश मलिकसोनू निगम, अलका याज्ञनिक3:46
8."कहीं प्यार ना हो जाये" (II)राजेश मलिककुमार सानु, अलका याज्ञनिक5:14
9."परदेसी" (II)सुधाकर शर्मासोनू निगम2:20
10."पैरोडी"सुधाकर शर्मासोनू निगम, अलका याज्ञनिक, कुमार सानु10:24

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "ऑस्कर तक पहुंच चुकी है रानी मुखर्जी की ये फ़िल्म, उनकी ये दिलचस्प बातें सुनकर आ जायेगी 'हिचकी'". दैनिक जागरण. 22 मार्च 2018. अभिगमन तिथि 8 सितम्बर 2018.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]