भारत में कोविड-१९ टीकाकरण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

भारत ने १६ जनवरी २०२१ को कोविड-१९ टीके का प्रशासन शुरू किया। १९ अक्टूबर २०२२ तक, भारत ने पहली, दूसरी और एहतियाती (बूस्टर) खुराक मिलाकर २.१९ अरब से अधिक खुराक दी है।[1] भारत में, &&&&&&&&&&&&&095.&&&&&095% पात्र आबादी (१२+) को टीके का पहला खुराक और &&&&&&&&&&&&&088.&&&&&088% पात्र आबादी (१२+) को टीके का दोनों खुराक मिल चुका है।[2]

कोविड-१९ टीकाकरण कार्यक्रम
India Vaccination Map.jpg
राज्य अनुसार प्रति व्यक्ति पूर्ण टीकाकरण
प्रतिशत (%) १९ अक्टूबर २०२२ तक
तिथि 16 जनवरी २०२१ (२०२१-०१-१६) – अब तक
स्थान भारत भारत
कारण भारत में कोरोनावायरस महामारी
प्रतिभागी (पार्टिसिपेंट्स)
परिणाम
  • &&&&&&&&&&&&&074.&&&&&074% भारतीय आबादी ने पहली खुराक को प्राप्त किया है।
  • &&&&&&&&&&&&&068.&&&&&068% भारतीय आबादी ने दूसरी खुराक को प्राप्त किया है।
वेबसाइट MoHFW (एमओएचएफW) Co-WIN (कोविन)
१९ अक्टूबर २०२२ (१०:०० PM) तक

भारत ने अबतक भारत में निर्मित कोविशील्ड(यानी ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन) (सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया) और तीन स्थानीय रूप से विकसित टीके कोवैक्सिन (भारत बायोटेक), जाइकोव-डी (ज़ाइडस कैडिला) और कॉर्बेवैक्स (बायोलॉजिकल-ई) को मंजूरी दी है। भारत में कुछ विदेशी टीके जैसे स्पुतनिक वी, मोडर्ना वैक्सीन, जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन, फाइजर वैक्सीन और कोवोवैक्स (नोवावैक्स) वैक्सीन को अब तक मान्यता दी जा चुकी है।

टीके[संपादित करें]

भारत में दो प्रमुख स्वीकृत COVID-19 टीके हैं:
कोविशील्ड और कोवैक्सीन

कोविशील्ड[संपादित करें]

कोविशील्ड की एक शीशी, एस्ट्राजेनेका वैक्सीन का भारतीय निर्मित संस्करण

1 जनवरी 2021 को, भारत के औषधि महानियंत्रक (DGCI) ने कोविशील्ड के आपातकालीन या सशर्त उपयोग को मंजूरी दी।[3] कोविशील्ड ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और इसकी स्पिन-आउट कंपनी, Vaccitech द्वारा विकसित किया गया है।[4]

कोवैक्सीन[संपादित करें]

कोवैक्सीन की एक शीशी, भारत बायोटेक द्वारा भारत की पहली स्वदेशी कोविड-19 वैक्सीन

2 जनवरी 2021 को, कोवैक्सीन भारत बायोटेक द्वारा भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद और राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान के सहयोग से विकसित भारत का पहला कोविड-19 वैक्सीन प्राप्त किया गया। भारत के औषधि महानियंत्रक को इसके आपातकालीन या सशर्त उपयोग के लिए।[5]

वैक्सीन मैत्री[संपादित करें]

वैक्सीन मैत्री (अंग्रेज़ी: Vaccine Friendship)[6] भारत सरकार द्वारा दुनिया भर के देशों को कोविड-19 का टीका उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई एक मानवीय पहल है।[7] सरकार ने 20 जनवरी 2021 से टीके उपलब्ध कराना शुरू किया। 9 मई 2021 तक, भारत ने 95 देशों को टीकों की लगभग 66.3 मिलियन खुराक की आपूर्ति की थी।[8] इनमें से 10.7 मिलियन खुराक भारत सरकार द्वारा 47 देशों को उपहार में दी गई थी। शेष 54 मिलियन की आपूर्ति सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा अपने वाणिज्यिक और COVAX दायित्वों के तहत की गई थी। मार्च 2021 के अंत में, भारत सरकार ने भारत के अपने COVID संकट और इन टीकों की घरेलू आवश्यकता का हवाला देते हुए, कोविशील्ड के निर्यात को अस्थायी रूप से रोक दिया।[9] भारत के स्वास्थ्य मंत्री, श्री मनसुख एल. मांडविया ने सितंबर में घोषणा की कि भारत अक्टूबर से दुनिया के बाकी हिस्सों में टीकों का निर्यात फिर से शुरू करेगा।[10][11]

Oxford AstraZeneca COVID-19 vaccine (Indian version) 2021 L.jpeg
जिन देशों को 6 मार्च 2021 तक भारतीय निर्मित कोवैक्सिन की खुराक मिली है

27 मार्च को भारत द्वारा संयुक्त राष्ट्र के शांति सैनिकों को सभी शांति अभियानों में वितरित करने के लिए COVID-19 टीकों की 200,000 खुराक उपहार में दी गईं।[12]

राज्य या केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा टीकाकरण रोलआउट आँकड़े[संपादित करें]

राज्य/केंद्र शासित प्रदेश जनसंख्या (२०२१ के अनुसार) पहली खुराक दोनों खुराक ऐतिहाती/बूस्टर खुराक कुल खुराक पहली खुराक का प्रतिशत दूसरी खुराक का प्रतिशत
भारत १,३९,००,००,००० १,०२,६७,३४,६८१ ९४,९६,६०,४९५ २१,७९,४६,१३५ २,१९,४३,४१,३११ &&&&&&&&&&&&&074.&&&&&074% &&&&&&&&&&&&&068.&&&&&068%
अण्डमान और निकोबार द्वीपसमूह ४,००,००० 3,51,027 3,46,611 2,27,469 9,25,107 &&&&&&&&&&&&&088.&&&&&088% &&&&&&&&&&&&&087.&&&&&087%
आन्ध्र प्रदेश ५,२७,८७,००० 4,75,41,825 4,46,79,117 1,27,95,325 10,50,16,267 &&&&&&&&&&&&&090.&&&&&090% &&&&&&&&&&&&&085.&&&&&085%
अरुणाचल प्रदेश १५,३३,००० 9,55,140 8,07,750 88,428 18,51,318 &&&&&&&&&&&&&062.&&&&&062% &&&&&&&&&&&&&053.&&&&&053%
असम ३,५०,४३,००० 2,47,27,017 2,19,48,088 29,65,112 4,96,40,217 &&&&&&&&&&&&&071.&&&&&071% &&&&&&&&&&&&&063.&&&&&063%
बिहार १२,३०,८३,००० 7,28,95,251 6,59,59,668 1,13,85,793 15,02,40,712 &&&&&&&&&&&&&059.&&&&&059% &&&&&&&&&&&&&054.&&&&&054%
चण्डीगढ़ १२,०८,००० 11,83,726 9,81,352 96,068 22,61,146 &&&&&&&&&&&&&098.&&&&&098% &&&&&&&&&&&&&081.&&&&&081%
छत्तीसगढ़ २,९४,९३,००० 2,11,61,980 1,99,45,185 53,93,035 4,65,00,200 &&&&&&&&&&&&&072.&&&&&072% &&&&&&&&&&&&&068.&&&&&068%
दादरा और नगर हवेली ६,०८,००० 4,56,160 3,39,404 3,982 7,99,546 &&&&&&&&&&&&&075.&&&&&075% &&&&&&&&&&&&&056.&&&&&056%
दमन एवं दीव ४,०९,००० 3,18,371 2,73,530 6,516 5,98,417 &&&&&&&&&&&&&078.&&&&&078% &&&&&&&&&&&&&067.&&&&&067%
दिल्ली २,०५,७१,००० 1,79,35,388 1,46,42,072 6,76,990 3,32,54,450 &&&&&&&&&&&&&087.&&&&&087% &&&&&&&&&&&&&071.&&&&&071%
गोवा १५,५९,००० 14,27,524 12,52,623 39,056 27,19,203 &&&&&&&&&&&&&092.&&&&&092% &&&&&&&&&&&&&080.&&&&&080%
गुजरात ६,९७,८८,००० 5,38,20,110 5,09,12,652 25,67,765 10,73,00,527 &&&&&&&&&&&&&077.&&&&&077% &&&&&&&&&&&&&073.&&&&&073%
हरियाणा २,९४,८३,००० 2,33,08,563 1,88,07,523 3,75,769 4,24,91,855 &&&&&&&&&&&&&079.&&&&&079% &&&&&&&&&&&&&064.&&&&&064%
हिमाचल प्रदेश ७३,९४,००० 65,53,087 60,24,282 2,59,956 1,28,37,325 &&&&&&&&&&&&&089.&&&&&089% &&&&&&&&&&&&&081.&&&&&081%
जम्मू और कश्मीर १,३४,०८,००० 1,12,54,341 1,09,70,258 3,80,001 2,26,04,600 &&&&&&&&&&&&&084.&&&&&084% &&&&&&&&&&&&&082.&&&&&082%
झारखण्ड ३,८४,७१,००० 2,30,92,852 1,58,82,450 3,03,472 3,92,78,774 &&&&&&&&&&&&&060.&&&&&060% &&&&&&&&&&&&&041.&&&&&041%
कर्नाटक ६,६८,४५,००० 5,39,17,967 5,02,21,110 16,21,367 10,57,60,444 &&&&&&&&&&&&&081.&&&&&081% &&&&&&&&&&&&&075.&&&&&075%
केरल ३,५४,८९,००० 2,83,33,680 2,42,13,357 14,45,130 5,39,92,167 &&&&&&&&&&&&&080.&&&&&080% &&&&&&&&&&&&&068.&&&&&068%
लद्दाख़ २,९७,००० 2,35,828 1,92,314 37,008 4,65,150 &&&&&&&&&&&&&079.&&&&&079% &&&&&&&&&&&&&065.&&&&&065%
लक्षद्वीप ६८,००० 61,400 57,688 3,057 1,22,145 &&&&&&&&&&&&&090.&&&&&090% &&&&&&&&&&&&&085.&&&&&085%
मध्य प्रदेश ८,४५,१६,००० 6,01,78,200 5,61,57,520 10,36,014 11,73,71,734 &&&&&&&&&&&&&071.&&&&&071% &&&&&&&&&&&&&066.&&&&&066%
महाराष्ट्र १२,४४,३७,००० 9,01,72,050 7,16,77,783 21,97,350 16,40,47,183 &&&&&&&&&&&&&072.&&&&&072% &&&&&&&&&&&&&058.&&&&&058%
मणिपुर ३१,६५,००० 15,54,404 12,00,000 78,138 28,32,542 &&&&&&&&&&&&&049.&&&&&049% &&&&&&&&&&&&&038.&&&&&038%
मेघालय ३२,८८,००० 13,91,067 10,18,350 35,463 24,44,880 &&&&&&&&&&&&&042.&&&&&042% &&&&&&&&&&&&&031.&&&&&031%
मिज़ोरम १२,१६,००० 8,60,200 6,76,225 35,547 15,71,972 &&&&&&&&&&&&&071.&&&&&071% &&&&&&&&&&&&&056.&&&&&056%
नागालैण्ड २१,९२,००० 8,98,942 6,87,611 27,630 16,14,183 &&&&&&&&&&&&&041.&&&&&041% &&&&&&&&&&&&&031.&&&&&031%
ओडिशा ४,५६,९६,००० 3,43,76,654 2,99,42,484 10,97,736 6,54,16,874 &&&&&&&&&&&&&075.&&&&&075% &&&&&&&&&&&&&066.&&&&&066%
पुडुचेरी १५,७१,००० 9,63,065 6,94,564 19,481 16,77,110 &&&&&&&&&&&&&061.&&&&&061% &&&&&&&&&&&&&044.&&&&&044%
पंजाब ३,०३,३९,००० 2,34,81,577 1,79,32,542 5,17,191 4,19,31,310 &&&&&&&&&&&&&077.&&&&&077% &&&&&&&&&&&&&059.&&&&&059%
राजस्थान ७,९२,८१,००० 5,60,07,400 4,64,92,623 16,34,600 10,41,34,623 &&&&&&&&&&&&&071.&&&&&071% &&&&&&&&&&&&&059.&&&&&059%
सिक्किम ६,७७,००० 5,83,013 5,26,418 35,945 11,45,376 &&&&&&&&&&&&&086.&&&&&086% &&&&&&&&&&&&&078.&&&&&078%
तमिल नाडु ७,६४,०२,००० 5,78,92,730 4,60,28,550 7,97,578 10,47,18,858 &&&&&&&&&&&&&076.&&&&&076% &&&&&&&&&&&&&060.&&&&&060%
तेलंगाना ३,७७,२५,००० 3,20,56,908 2,96,15,658 6,52,118 6,23,24,684 &&&&&&&&&&&&&085.&&&&&085% &&&&&&&&&&&&&079.&&&&&079%
त्रिपुरा ४०,७१,००० 28,52,887 23,29,217 91,710 52,73,814 &&&&&&&&&&&&&070.&&&&&070% &&&&&&&&&&&&&057.&&&&&057%
उत्तर प्रदेश २३,०९,०७,००० 17,06,32,461 13,83,75,500 27,09,621 31,17,17,582 &&&&&&&&&&&&&074.&&&&&074% &&&&&&&&&&&&&060.&&&&&060%
उत्तराखण्ड १,१३,९९,००० 88,06,506 81,14,104 4,78,725 1,73,99,335 &&&&&&&&&&&&&077.&&&&&077% &&&&&&&&&&&&&071.&&&&&071%
पश्चिम बंगाल ९,८१,२५,००० 7,26,02,450 6,23,21,342 24,55,608 13,73,79,400 &&&&&&&&&&&&&074.&&&&&074% &&&&&&&&&&&&&064.&&&&&064%
मिसलेनियस २२,४२,७०० १५,७८,६३८ १४,५६,९१७ ५२,६८,२५३
१९ अक्टूबर, २०२२ (भारतीय मानक समय के अनुसार रात के १०:०० बजे) तक[13]

१९ अक्टूबर, २०२२ तक, ५ वर्ष और उससे अधिक आयु की आबादी केवल टीकाकरण के लिए पात्र है। उपरोक्त तालिका में दिखाया गया टीकाकरण जनसंख्या का प्रतिशत सभी आयु समूहों के साथ भारत की अनुमानित २०२१ जनसंख्या के अनुसार है। सरकार के अनुसार, २०२१ के लिए अनुमानित मध्य-वर्ष की गणना के आधार पर, देश की १२ वर्ष और उससे अधिक आयु की कुल जनसंख्या लगभग १०८ करोड़ है। कोविड-१९ टीकाकरण अभियान शुरू होने के बाद से देश की ९५.६०% पात्र आबादी (१२+) को टीके का पहला खुराक और ८८.४०% पात्र आबादी को टीके का दोनों खुराक मिल चुका है।

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Vaccination state wise". Ministry of Health and Family Welfare (अंग्रेज़ी में).
  2. "Covid-19 Vaccination in India". Cowin (अंग्रेज़ी में).
  3. "COVID-19 vaccine Covishield gets approval from DCGI's expert panel". The Hindu. 1 January 2021. अभिगमन तिथि 2 January 2021.
  4. "AstraZeneca's COVID-19 vaccine authorised for emergency supply in the UK". AstraZeneca. AstraZeneca. 30 December 2020. अभिगमन तिथि 2 January 2021.
  5. "Expert panel recommends Bharat Biotech's Covaxin for restricted emergency use". News18. 2 January 2021. अभिगमन तिथि 2 January 2021.
  6. "Vaccine Maitri: Consignment of covid vaccines airlifted for Guyana, Jamaica". mint. 2021-03-05. अभिगमन तिथि 2021-04-27.
  7. "Vaccine Maitri: A Sanjeevini for the world". The Hindu Business Line. अभिगमन तिथि 10 March 2021.
  8. "Ministry of External Affairs – Government of India". Ministry of External Affairs – Government of India.
  9. "Coronavirus: India temporarily halts Oxford-AstraZeneca vaccine exports". BBC News. 2021-03-24. अभिगमन तिथि 2021-05-19.
  10. "Covid vaccine: India to resume vaccine exports from October". BBC News (अंग्रेज़ी में). 2021-09-21. अभिगमन तिथि 2021-09-23.
  11. "India Pledges Support To UN To Ensure Syria Gets Covid Vaccines". NDTV.com. अभिगमन तिथि 2021-03-23.
  12. India's 'gift' to UN peacekeepers: 200,000 Covid vaccine doses, Mint, 26 March 2021.
  13. "Ministry of Health and Family Welfare Cumulative Coverage Report of COVID-19 Vaccination Govt Of India" (PDF). www.mohfw.gov.in. अभिगमन तिथि 2022-10-19.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]