दमन और दीव

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(दमन एवं दीव से अनुप्रेषित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
दमन और दीव
दामांव आनी दीव
દમણ અને દીવ
Daman and Diu

भारत के मानचित्र पर दमन और दीवदामांव आनी दीवદમણ અને દીવDaman and Diu

भारत का केन्द्र-शासित प्रदेश
राजधानी दमन
सबसे बड़ा शहर दमन
जनसंख्या 2,43,247
 - घनत्व 2,172 /किमी²
क्षेत्रफल 112 किमी² 
 - ज़िले 2
राजभाषा कोंकणी, गुजराती, हिन्दी, अंग्रेज़ी[1]
अतिरिक्त राजभाषा [1]
गठन 30 मई 1987
सरकार
 - उपराज्यपाल
 - प्रशासक प्रफुल्ल खोदा पटेल
 - मुख्यमंत्री
आइएसओ संक्षेप IN-DD
daman.nic.in
दिउ मे संत पॉल का चर्च Diu

दमन और दीव मुंबई के समीप अरब सागर में स्थित द्वीप समूह हैं जो भारत का एक केन्द्र शासित प्रान्त है। यहाँ की राजधानी दमन है।

दमण[संपादित करें]

केंद्र शासित प्रदेश दमन गुजरात राज्‍य के वलसाड जिला के नजदीक स्थित है। पहले यह पुर्तगालियों के कब्‍जे में था। स्‍वतंत्रता के बहुत बाद तक यह पुर्तगालियों के कब्‍जे में रहा। 1961 ई. जब गोवा को पुर्तगालियों के कब्‍जे से मुक्‍त कर भारत में मिलाया गया, उसी समय दमन को भी भारत में शामिल कर लिया गया। उस समय इसे गोवा में मिला दिया गया था। 1987 ई. में इसे अलग से केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया।

मुख्य आकर्षण[संपादित करें]

दमनगंगा नदी[संपादित करें]

दमनगंगा नदी 72 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल वाले इस केंद्र शासित प्रदेश को दो भागों, नानी दमन (छोटा दमन) तथा मोटी दमन (बड़ा दमन) में बांटती है। होटल तथा रेस्‍टोरेंट नानी दमन में स्थित है जबकि प्रशासनिक भवन तथा चर्च बड़े दमन अर्थात मोती दमन में स्थित है। मोती दमन में दमनगंगा टूरिस्‍ट काम्‍पलेक्‍स भी है। इस काम्‍पलेक्‍स में कैफे, कॉटेज तथा झरने भी हैं।

मोटी दमन[संपादित करें]

मोती दमन में अनेक चर्च स्थित है। यहां का सबसे प्रसिद्ध चर्च कैथेडरल बोल जेसू है। इसका निर्माण 1603 ई. में हुआ था। इस कैथेडरल में लकड़ी की बहुत सुंदर कारीगरी की गई है। इस चर्च की दीवारों पर की गई चित्रकारी भी काफी आकर्षक है। इन चित्रों में ईसा मसीह को चित्रित किया गया है। इसी के पास सत्‍य सागर उद्यान भी है। इस उद्यान में शाम के समय घूमने का एक अलग ही मजा है। इस उद्यान में रेस्‍टोरेंट तथा बार की व्‍यवस्‍था भी है।

नानी दमन[संपादित करें]

संत जेरोम किला नानी दमन में 1614 ई. से 1627 ई. के बीच बना था। इस किले का निर्माण मुगल आक्रमणों से सुरक्षा के लिए किया गया था। इस किले में तीन बुर्ज हैं। इस किले सामने नदी बहती है। इस किले में इसके संरक्षक संत की मूर्त्ति स्‍थापित है। इस समय इस किले में एक कब्रिस्‍तान तथा एक स्‍कूल है।

देविका बीच[संपादित करें]

यह बीच दमन से 5 किलोमीटर उत्तर में स्थित है। इस बीच के पास पर्यटकों की सुविधा के लिए रेस्‍टोरेंट, बार तथा होटल की व्‍यवस्‍था है। इस बीच में स्‍नान नहीं करना चाहिए क्‍योंकि इस बीच में पानी के अंदर पत्‍थर है। यहां पर दो पुर्तगाली चर्च भी हैं।

जैमपोरे बीच[संपादित करें]

यह बीच नानी दमन के दक्षिण में स्थित है। यह एक प्रसिद्ध पिकनिक स्‍पॉट है। यहां से समुद्र का नजारा बहुत सुंदर दिखता है।

भोजन[संपादित करें]

यहां के सभी होटलों में आमतौर पर रेस्‍टोरेंट हैं। किदादे दमन होटल में रेस्‍टोरेंट भी है। इस रेस्‍टोरेंट में केकड़ा तथा झींगा मछली का लजीज व्‍यंजन परोसा जाता है। यहां के सेफ का कहना है कि आप जिस तरह का भोजन मांगें आपको यहां मिल जाएगा। सैंडी रिजॉर्ट में भी खाने पीने की अच्‍छी व्‍यवस्‍था है। होटल मिरामर्स सी फूड तथा दक्षिण भारतीय भोजन के लिए प्रसिद्ध है। जजीरा उदय रेस्‍टोरेंट भी सी फूड के लिए प्रसिद्ध है।

दीव[संपादित करें]

केंद्र शासित प्रदेश दीव गुजरात राज्‍य के जूनागढ़ जिला के नजदीक स्थित है।

राजनीति[संपादित करें]

भारत की लोकसभा में दमन एवं दीव के लिए एक सीट आबंटित है। वर्तमान सोलहवीं लोकसभा में यहाँ का प्रतिनिधित्व श्री लालूभाई पटेल कर रहे हैं जो कि भारतीय जनता पार्टी से संबद्ध हैं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Report of the Commissioner for linguistic minorities: 50th report (July 2012 to June 2013)" (PDF). Commissioner for Linguistic Minorities, Ministry of Minority Affairs, Government of India. http://nclm.nic.in/shared/linkimages/NCLM50thReport.pdf. अभिगमन तिथि: 12 जुलाई 2017.