कोटवन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

परिचय[संपादित करें]

कोटवन
गाँव
लुआ त्रुटि Module:Location_map में पंक्ति 502 पर: Unable to find the specified location map definition. Neither "Module:Location map/data/उत्तर प्रदेश, भारत" nor "Template:Location map उत्तर प्रदेश, भारत" exists।
निर्देशांक: 27°28′N 77°16′E / 27.47°N 77.26°E / 27.47; 77.26निर्देशांक: 27°28′N 77°16′E / 27.47°N 77.26°E / 27.47; 77.26
राज्यFlag of India.svg भारत
राज्यउत्तर प्रदेश
जिलामथुरा
ऊँचाई189 मी (620 फीट)
जनसंख्या (2011)[1]
 • कुल5,193
भाषाएँ
 • आधिकारिकहिन्दी
समय मण्डलआई एस टी (यूटीसी+5:30)
पिन281403
दूरभाष कोड05662
वाहन पंजीकरणUP-85

कोटवन मथुरा जिले, उत्तर प्रदेश, भारत का एक गाँव है। यह हिन्दूमत की मान्यता के अनुसार वह स्थान है जहाँ कृष्ण ने अपना बचपन बिताया और ब्रज भूमि के मुख्य स्थानों में से एक है।[2] यह गाँव आगरा से 100 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

गाँव का स्रोत[संपादित करें]

"कोटवन" रूपा के बेटे कटरमल और दाहगाँव से बनता है जिसे उसके एक और भाई मोमल ने विकसित किया था। उनके पिता दुजाना के मूल निवासी थे जो दिल्ली के निकट है।

भूगोल[संपादित करें]

कोटवन 27°28′N 77°16′E / 27.47°N 77.26°E / 27.47; 77.26 पर स्थित है।

कोटवन उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले के नंदगाँव ब्लॉक का एक गाँव है। यह आगरा खंड में आता है। यह मथुरा जिला मुख्यालय से ५५ किलोमीटर उत्तर पर स्थित है। यह नंदगाँव से १० किलोमीटर दूर है। राज्य राजधानी लखनऊ से यह ४२९ किलोमीटर दूर है।

नबीपुर (३ किलोमीटर), हटाना (४ किलोमीटर), लालपुर (५ किलोमीटर), खरौत (५ किलोमीटर) और बातें खुर्द (६ किलोमीटर) आसपास के गाँव हैं। कोटवन के पूर्व में छाटाब्लॉक है, होडल ब्लॉक उत्तर में है, हसनपुर ब्लॉक उत्तर में है, पुनाहना ब्लॉक पश्चिम में है।

होडल, पलवल, वृंदावन और मथुरा आस-पास के शहर हैं।

यह स्थान मथुरा जिले और भरतपुर जिले की सीमा में है। भरतपुर जिले की कमान इस जगह के पश्चिम में है। यह राजस्थान के राज्य की सीमा के निकट है।

जनसंख्या[संपादित करें]

कोटवन में जनगणना 2011[संपादित करें]

कोटवन की स्थानीय भाषा हिन्दी है। गाँव की कुल जनस्ंख्या 5193 थी और घरों की संख्या 802 है। महिलाओं की जनस्ंख्या 47.2% है। गाँव की साक्षरता दर 58.0% है और महिला साक्षरता दर 21.8% है।

जनसंख्या[संपादित करें]

जनगणना मापदण्ड जनगणना की जानकारी
कुल जनसंख्या 5193
घरों की कुल संख्या 802
महिला साक्षरता % 47.2% (2452)
कुल साक्षरता दर % 58% (3013)
महिला साक्षरता दर % 21.8% (1134)
अनुसूचित जनजाति % 0.0% (00)
अनुसूचित जाति % 19.6% (1019)
कामगार जनसंख्या % 24.5%
बच्चों (0-6) की जनसंख्या 790
लड़्कियों (0-6) की जनसंख्या % 44.4% (351)

धार्मिक धरोहर[संपादित करें]

कोटवन को हिन्दू धर्म की वैष्णव परम्परा के लिए एक पवित्र स्थल माना गया है। इसे ब्रज और शीतलकुंड की पूजा से सम्बंधित बताया गया है जो कृष्ण से जुड़े हैं।

राधा कृष्ण के लाखों श्रद्धालु इन तीर्थस्थलों का हर वर्ष दौरा करते हैं और कई त्योहारों में भाग लेते हैं। कृष्ण-भक्ति का एक केन्द्र काफ़ी समय से ब्रजभूमि रही है।

इतिहास[संपादित करें]

कोटवन का अतीत हिन्दू सभ्यता और इतिहास से जुड़ा है और यह सदियों से एक महत्त्वपूर्ण हिन्दू तीर्थस्थल है।

कोटवन मथुरा जिले के नंदगाँव ब्लॉक में स्थित है। यह महाराज सीताराम के अधीन था जो एक महान सेनापति और भरतपुर राज्य के रेवारी परगना के ज़मीनदार थे। उनका भरतपुर के राजपरिवार के साथ सम्बंध था।

यातायात[संपादित करें]

सड़क[संपादित करें]

कोटवन को सड़क से दिल्ली से राष्ट्रीय राजमार्ग २ से जोड़ दिया गया है।[3]


रेल[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Census of India
  2. {{cite web|title=UP gets officially designated ‘teerth sthals’ in Kotwan related to Sheetal Kund
  3. "NHAI". अभिगमन तिथि फ़रवरी 14, 2018.