एक घर बनाऊंगा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
एक घर बनाऊंगा
अन्य नाम सपनों से प्यारा एक घर बनाऊंगा
शैली नाटक
सर्जक बीबीसी वर्ल्डवाइड
लेखक राकेश पासवान
संदीप नाथ
निर्देशक प्रभात प्रभाकर
विनोद लक्ष्मी कुमार
'थीम' संगीत निर्देशक आशीष रेगू
निर्माण का देश भारत
भाषा(एं) हिन्दी
सत्र संख्या 01
प्रकरणों की संख्या 309
निर्माण
निर्माता राकेश पासवान
संपादक जनक चौहान
अनिल वैश्य
स्थल लखनऊ
प्रसारण अवधि 21 मिनट
निर्माण कंपनी बीबीसी वर्ल्डवाइड
प्रसारण
मूल चैनल स्टार प्लस
छवि प्रारूप 1080आई (एचडीटीवी)
मूल प्रसारण अप्रैल 29, 2013 (2013-04-29) – जून 7, 2014 (2014-06-07)
बाह्य सूत्र
आधिकारिक जालस्थल

एक घर बनाऊंगा एक भारतीय हिन्दी धारावाहिक है। जिसका प्रसारण स्टार प्लस में 29 अप्रैल 2013 से शुरू हुआ। इसकी कहानी शादी में होने वाली समस्याओं पर आधारित है। अंतिम एपिसोड 7 जून 2014 को दिखाया गया। इसके बाद इस धारावाहिक के स्थान पर सुहानी सी एक लड़की को दिखाया जाने लगा।

कहानी[संपादित करें]

इसकी कहानी पूनम के इर्द-गिर्द घूमती रहती है, जो इस दुविधा में फंसी रहती है कि शादी के बाद वो अपने माता-पिता की देखभाल कैसे कर सकेगी, क्योंकि शादी के बाद उसे उसके माता-पिता को छोड़ कर पति के घर में रहना पड़ेगा। पूनम का इकलौता भाई ही रहता है, वो भी अमेरिका में ही बस चुका है, और उसे अपने माता-पिता की चिंता भी नहीं रहती है।

पूनम की शादी गौतम से तय हो जाती है, जो एक लालची और सिर्फ अपने आप को देखने वाला लड़का है। उसके लिए शादी का कोई महत्व नहीं है, बस वो शादी केवल दहेज के लिए करना चाहता है। शादी के दिन पूनम को गौतम और उसके परिवार की असलियत का पता चल जाता है और वो शादी करने से मना कर देती है। गौतम का परिवार इस अपमान से क्रोध में आ जाता है और वो उस रिकॉर्डिंग को प्ले करता है, जिसमें आकाश अपनी दोस्त को बताते रहता है कि वो पूनम से प्यार करता है। वे लोग इस रिकॉर्डिंग से ऐसा दिखाने की कोशिश करते हैं कि पूनम का आकाश के साथ चक्कर चल रहा है। पूनम इस बात को सुन कर आकाश को थप्पड़ मार देती है। पूनम और गौतम की शादी टूट जाती है और परिवार वालों के कहने पर पूनम, आकाश से शादी के लिए हाँ कह देती है। उसी दिन उसकी शादी आकाश से हो जाती है।

वहीं दूसरी ओर आकाश के घर में उसकी किसी और के साथ शादी की बात काफी आगे जा चुकी होती है। आकाश जब पूनम के साथ घर आता है तो सारे परिवार वाले उस पर गुस्से से आग बबूले हो जाते हैं और पूनम को अपनी बहू स्वीकार नहीं करते हैं। हालांकि बाद में वे पूनम से कहते हैं कि "उसके पास 6 महीने का समय है, जिसमें उसे सभी का दिल जीतना होगा, यदि वो जीत नहीं पाई, तो उसे घर छोड़ कर जाना पड़ेगा।"

पूनम के मायके छोड़ जाने के साथ ही वहाँ बैंक वाले घर खाली करवाने आ जाते हैं। आकाश को जब इस परेशानी का पता चलता है तो वो बिना पूनम को बताए ही इस परेशानी को हल करने की कोशिश करता है। पहले तो वो उसके माता-पिता का होटल के कमरे में रहने की व्यवस्था कराता है, पर फिर मजबूरी में उसे उन दोनों को अपने ही घर में लाना पड़ जाता है। पूनम जो आकाश से पहले से ही नाराज़ थी, उसे और गुस्सा होने का एक और कारण मिल जाता है। इस तरह से दोनों परिवार एक ही छत के नीचे आ जाता है और पारिवारिक झगड़े नयी स्तर को पार कर जाते हैं।

कलाकार[संपादित करें]

  • इशिता दत्ता — पूनम आकाश गर्ग[1]
  • राहुल शर्मा — आकाश गर्ग
  • नरेन्द्र झा / हेमंत चौधरी — शशिकांत गर्ग
  • नीलिमा परंदेकर — मंगलदेवी शशिकांत गर्ग
  • महावीर मेहता — राजेश
  • सलीना प्रकाश — कनिका जय गर्ग / कन्नु[2]
  • प्युमोरी मेहता — वंदना नाथ
  • प्राची परब — प्राथना
  • मुकेश नथानी — रविकांत गर्ग
  • भारती पाटिल — रविकांत की पत्नी
  • राम मेहर जंगरा — रमेश
  • प्रिया शिंदे — डॉली
  • अंकित अरोड़ा — अभिषेक रविकांत गर्ग
  • इतिश्री सिंह — सरिता अभिषेक गर्ग
  • उर्वशी उपाध्याय — पारुलबेन
  • सचिन छाबरा — गौतम
  • प्रतायुष सिंह — विलियोन
  • रवि सिंह — राघव
  • मोहित सिन्हा — राधे
  • शानबाज़ खान — माता सिंह

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Ek Ghar Banaunga story update: Poonam gets kidnapped". India TV news. मूल से 11 अक्तूबर 2019 को पुरालेखित.
  2. "Salina Prakash enjoys being baddie in Ek Ghar..." Times of India. मूल से 19 अक्तूबर 2017 को पुरालेखित.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]