मेरे अंगने में

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
मेरे अंगने में
शैली हास्य, नाटक
सर्जक स्फेयर
निर्देशक पार्थो मित्र
सितारे नीचे देखें
निर्माण का देश भारत
भाषा(एं) हिन्दी
सत्र संख्या 1
प्रकरणों की संख्या 772 (6 अगस्त 2017 में)
निर्माण
निर्माता सूजोय वादध्वा
कैमरा सेटअप बहू-कैमरा
प्रसारण अवधि 23 मिनट
निर्माण कंपनी स्फेयर
प्रसारण
मूल चैनल स्टार प्लस
छवि प्रारूप 576आई (एसडीटीवी)
1080आई (एचडीटीवी)
मूल प्रसारण 15 जून 2015 (2015-06-15) – 6 अगस्त 2017 (2017-08-06)
स्तर प्रसारित
बाह्य सूत्र
आधिकारिक जालस्थल

मेरे अंगने में भारतीय हिन्दी धारावाहिक है। इसका प्रसारण स्टार प्लस पर 15 जून 2015 से शुरू हुआ। यह धारावाहिक दर्शको के बीच काफी लोकप्रिय था शाम वाले स्लॉट में भी इस धारावाहिक ने काफी अच्छी प्रतिक्रियाएं हासिल की। इस धारावाहिक का अंतिम प्रसारण 6 अगस्त 2017 में किया गया। इस धारावाहिक को स्टार के अन्य चैंनल स्टार उत्सव में पुनः प्रसारित किया गया।

[1]

कहानी[संपादित करें]

यह कहानी मुग़लसराई, उत्तर प्रदेश की है, जहाँ श्रीवास्तव परिवार रहता है। जिसमें शांति देवी या दादी घर की मुखिया हैं। सभी उनकी बात मानते हैं। लेकिन इस परिवार को तब झटका लगता है, जब इनकी नातिन रिया घर आती है। और दादी सास और पोत बहु के बीच विचारो की जंग शुरू हो जाती है। दोनों के बीच की लड़ाई हास्य भी उत्पन्न करती है। और इसी तरह इनकी ज़िन्दगी चलती रहती है। कुछ समय बाद रिया गर्भवती हो जाती है इससे सभी परिवार वाले काफी खुश होते है लेकिन बच्चे को जन्म देते समय रिया की मौत हो जाती है। शिवम् रिया की मौत के कारण अपनी बच्ची से नफरत करने लगता है जिसका सभी परिवार वाले विरोध करते है। इसी समय शांती सदन में चरनी(आरती) नाम की तलाकशुदा लड़की का प्रवेश होता है। आरती सभी को डर से अपने तलाकशुदा होने की बात छुपाती है इस डर से के सभी उसकी सच्चाई जानने के बाद उसे घर से निकाल देंगे। इस तरह कुछ दिन बीत जाते है। आरती और बच्चे में काफी लगाव हो जाता है। इसि समय अमित भी चरनी को पसंद करने लगता है और अपनी पत्नी रानी से बदला लेने के लिए चरनी से शादी करने का फैसला लेता है। इनकी शादी तय हो जाती है लेकिन रानी और चरनी दोनों इससे खुश नहीं होते है और शादी रोकने की कोशिश करते है और आखिर में अमित शादी के मंडप से भाग जाता है, इस समय शिवम् चरनी की मांग भर देता है जिससे चरनी की तलाकशुदा होने की बात सबके सामने आ जाती है और सभी उससे नफरत करने लगते है। लेकिन धीरे धीरे चरनी सबका दिल जीत लेती है इसप्रकार 772 कड़ियों के बाद इस कहानी का सुखद अंत हो जाता है।

कलाकार[संपादित करें]

  • ऋचा मुखर्जी - आरती/चरनी (मुख्य कलाकार)(2017)
  • करम राजपाल - शिवम श्रीवास्तव(मुख्य कलाकार)(2015-17)
  • कृत्तिका देसाई खान - शांति देवी श्रीवास्तव(मुख्य कलाकार)(2015-17)
  • वरुण बदोला - राघव श्रीवास्तव(2015-17)
  • अनन्या खरे - सरला अगरवाल(2015-17)
  • सुचिता त्रिवेदी - कौशल्या श्रीवास्तव(2015-17)
  • चारु असोपा - प्रीति श्रीवास्तव(2015-17)
  • नीरज मालवीय - अमित अगरवाल(2015-17)
  • पल्लवी गुप्ता - परिणीता अगरवाल(2015-17)
  • अदिति दधीच - बंटी(2015-16)
  • आशीष रॉय - अशोक अगरवाल(2015-17)
  • विजय कलवानी - गुप्ता(2015-17)
  • यस्सर नोमनी - मुन्ना भैया(2015)
  • एकता कौल - रिया माथुर(पूर्व मुख्य किरदार-मृत)(2015-17)

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]