त्रिनिदाद और टोबैगो

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य
ध्वज कुल चिह्न
राष्ट्रवाक्य: "Together we aspire, together we achieve"
अंग्रेजी: हम साथ कामना करते है, हम साथ प्राप्त (कामयाबी) करते है।
राष्ट्रगान: फोर्ज्ड फ्रोम द लव ऑफ् लिबर्टी
राजधानी पोर्ट ऑफ स्पेन
10°40′N 61°31′W / 10.667°N 61.517°W / 10.667; -61.517
सबसे बड़ा town चगवानस
राजभाषा(एँ) अंग्रेजी
सरकार गणराज्य
 -  राष्ट्रपति जॉर्ज मैक्सवेल रिचर्ड्स
 -  प्रधान मंत्री कमला प्रसाद बिसेसर
स्वतन्त्रता
 -  यूनाइटेड किंगडम 31 अगस्त 1962 
क्षेत्रफल
 -  कुल ५,१३० वर्ग किलोमीटर (१७१वाँ)
१,९८१ वर्ग मील
 -  जल (%) नगण्य
जनसंख्या
 -  जुलाई २०११ प्राक्कलन १२,२७,५०५ (१५२ वाँ)
सकल घरेलू उत्पाद (पीपीपी) २०१० प्राक्कलन
 -  कुल $२६.४०० बिलियन
 -  प्रति व्यक्ति $२०,१३७
मानव विकास सूचकांक (२०१०) 0.७३६
उच्च · ५९वाँ
मुद्रा त्रिनिदाद और टोबैगो डॉलर (TTD)
समय मण्डल (यू॰टी॰सी॰-4)
दूरभाष कूट 1-868
इंटरनेट टीएलडी .tt

त्रिनिदाद और टोबैगो आधिकारिक रूप से त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य कैरिबियाई सागर में स्थित, पूरी तरह से द्विपों पर स्थित देश है। यह दक्षिण कैरिबिया में, वेनेज़ुएला के उत्तर-पूर्व में है। इसकी जलसीमा बारबाडोस से उत्तर-पूर्व में, गयाना से दक्षिण-पूर्व में तथा वेनेज़ुएला से दक्षिण और पश्चिम में जलसीमा साझा करती है|

इस देश का क्षेत्रफल ५,१३० वर्ग किलोमीटर है। इस द्वीप समूह में दो मुख्य द्वीप है- त्रिनिदाद और टोबैगो। इन मुख्य द्वीपों के अलावा कई छोटे-छोटे द्वीप हैं। त्रिनिदाद, देश के ९४% क्षेत्र और ९६% आबादी के साथ, देश का सबसे बड़ा और सबसे ज्यादा जनसँख्या वाला द्वीप है।

त्रिनिदाद द्वीप, १४९८ में कोलंबस के आगमन से लेकर १८ फ़रवरी १७९७ में स्पैनिश गवर्नर के ब्रिटेन को आत्मसमर्पण तक, स्पेन के अधीन था। इस दौरान टोबैगो द्वीप पर स्पैनिश, ब्रिटिश, फ्रेंच, डच, कौरलैंड का शासन रहा। सन १८०२ मई त्रिनिदाद और टोबैगो को एमिएन्ज़ की संधि के तहत ब्रिटेन को सौंप दिया गया था। १९६२ में इसे आज़ादी मिली और १९७६ में यह गणराज्य बना। इसकी अर्थव्यवस्था अन्य अंग्रेजी भाषी केरिबियन देशों से उलट मुख्यतः उद्योगों पर आधारित है।

इस देश की सरकार ने देश का बहुत अच्छी तरह से आर्थिक विकास किया। २००३-२००८ के बीच देश की विकास दर ७% थी। यह कैरीबिया की आर्थिक शक्ति है।

अर्थव्यवस्था[संपादित करें]

त्रिनिदाद की अर्थव्यवस्था मुख्यतः पेट्रोलियम उद्योग पर आश्रित है। पर्यटन और विनिर्माण भी स्थानीय अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण हैं। पर्यटन एक बढ़ता हुआ क्षेत्र है, हालाँकि कई अन्य कैरेबियाई द्वीपों की तुलना में यह कम है। मुख्य कृषि उत्पादों में नींबू, कोको और अन्य उत्पाद शामिल हैं। विश्व बैंक के अनुसार, त्रिनिदाद और टोबैगो दुनिया के शीर्ष उच्च आय अर्थव्यवस्थाओं में ६९वें स्थान पर है।

हाल में हुए विकास में द्रवित प्राकृतिक गैस(एलएनजी), पैट्रोरसायन और इस्पात में किये निवेश की भूमिका है। इसके अलावा पेट्रोकेमिकल, एल्युमिनियम और प्लास्टिक पर आधारित परियोजनाएँ नियोजन के विभिन्न चरणों में हैं। त्रिनिदाद और टोबैगो तेल और गैस के प्रमुख कैरेबियाई उत्पादक है और इसकी अर्थव्यवस्था इन संसाधनों पर बहुत निर्भर है, लेकिन यह कैरेबियाई द्वीपों को विनिर्मित सामग्रियाँ मुख्य रूप से खाद्य और पेय पदार्थों और सीमेंट की आपूर्ति भी करता है।

भाषा[संपादित करें]

अंग्रेजी इस देश की औपचरिक भाषा है (अंग्रेजी के स्थानीय मानक को 'त्रिनिदाद अंग्रेजी' कहते है)। परन्तु मुख्य बोलचाल की भाषा अंग्रेजी पर आधारित दो क्रेओले भाषाएँ हैं। त्रिनिदाद में त्रिनिदाद क्रेओले और तोबागोना में तोबागोना क्रेओले, यह देश की स्पेनी, भारतीय, अफ़्रीकी तथा यूरोपीय विरासत को उजागर करती हैं।

जनसांख्यिकी[संपादित करें]

सन 2005 के अध्यनन के अनुसार देश में रहने वाले 13 लाख लोगो में से 96% त्रिनिदाद द्वीप में रहते है और 4% टोबागो द्वीप में। जातीय संरचना इस देश की विदेशी उपनिवेशीकरण और आप्रवासन द्वारा प्रभावित है। कोई भी जातीय समूह बहुसंख्यक नहीं है। किन्तु सबसे बड़ा समूह भारतीय है जो देश की कुल आबादी का 40% है। लगभग उतने ही अफ़्रीकी है (39.5%), इस तरह भारतीय और अफ़्रीकी मूल के लोगो की संयुक्त आबादी 80% हुई। मिश्रित कौम के लोग, यूरोपीय लोग, चीनी, सिरीय-लेबनान के लोग तथा मूल अमरीकी बाकी 20% का ज्यादातर हिस्सा बनाते है।


धर्म[संपादित करें]

यहाँ पर कोई प्रमुख धर्म नहीं है। कोई भी एक धार्मिक समुदाय 50% से अधिक नहीं है। ईसाईधर्मं को 40.6% है, हिन्दुधर्म को 22.5% लोग मानते है, इस्लाम को 7% लोग मानते है। यहाँ एक छोटा यहूदी धर्म भी है। यहूदी 0.1% है। 1.9% लोग नास्तिक है।

सेना[संपादित करें]

त्रिनिदाद और टोबैगो डिफेन्स फ़ोर्स इस देश की सुरक्षा और इसकी आज़ादी की रक्षा के लिए जिम्मेदार है। इसके अंतर्गत एक रेजिमेंट, एक कोस्ट गार्ड टुकड़ी, वायु सेना और डिफेन्स रिज़र्व्ड फ़ोर्स भी है। यह ब्रिटेन से आज़ादी मिलते ही सन 1962 में स्थापित की गयी थी। यह अंग्रेजी भाषी कैरिबिया की सबसे बड़ी सेनाओ में से एक है।

सेना के मिशन का उद्देश्य है "त्रिनिदाद और टोबैगो गणराज्य के संप्रभुता का बचाव, राष्ट्रीय समुदाय के विकास के लिए योगदान और राज्य के राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय उद्देश्यों की पूर्ति में सरकार का समर्थन"। इस फ़ौज ने १९९० में एक तख्ता पलट की कोशिश को नाकाम किया। इस सेना ने सयुंक्त राष्ट्र के हैती अभियान में १९९३ से १९९६ के बीच हिस्सा लिया था।

इन्हें_भी_देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]