ईक्वाडोर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ईक्वाडोर गणराज्य
República del Ecuador
ईक्वाडोर का ध्वज ईक्वाडोर का कुल चिन्ह
ध्वज कुल चिन्ह
राष्ट्रवाक्य: "God, homeland and liberty"
"भगवान, मातृभूमि और स्वतंत्रता"
राष्ट्रगान: We Salute You, Our Homeland
हमारी मातृभूमि, तुझे सलाम
ईक्वाडोर की स्थिति
राजधानी क्विटो
[कृपया उद्धरण जोड़ें]) 00°9′ S 78°21′ O
सबसे बडा़ नगर गुआयाकिल
राजभाषा(एँ) स्पेनिश1
सरकार राष्ट्रपति गणराज्य
राष्ट्रपति
उप राष्ट्रपति
राफेल कोरेया
लेनिन मोरेनो
क्षेत्रफल
 - कुल [[1 E11 m²|256,370[कृपया उद्धरण जोड़ें] वर्ग किमी]] ([[en:List of countries and outlying territories by area|73वां[कृपया उद्धरण जोड़ें]]])
98,985[कृपया उद्धरण जोड़ें] वर्ग मील
 - जल(%) 4
जनसंख्या
 - 2009 अनुमान 14,573,101[कृपया उद्धरण जोड़ें] (66वां)
 - जन घनत्व 53.8/वर्ग किमी (151वां)
139.4/वर्ग मील
सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) (पीपीपी) 2008 अनुमान
 - कुल
$106.993 बिलियन (-)
 - प्रति व्यक्ति $7,685 (-)
मानव विकास सूचकांक  (2006) Green Arrow Up Darker.svg 0.807 (उच्च) (72वां[कृपया उद्धरण जोड़ें])
मुद्रा अमेरिकी डॉलर2 (USD)
समय मंडल ECT, GALT (यूटीसी - 5, - 6)
 - ग्रीष्म (DST) - (यूटीसी -)
इंटरनेट टीएलडी .ec
दूरभाष कोड +593
1क्वेचुआ और अन्य अमेरिकन भाषाएं स्थानीय समुदाय द्वारा बोली जाती है।

2सोक्रे 2000 तक, जिसके बाद से अमेरिकन डालर और ईक्वेडोरियन सेंटावो सिक्के

ईक्वाडोर, आधिकारिक तौर पर इक्वाडोर गणराज्य (शाब्दिक रूप से, "भूमध्य रेखा का गणराज्य"), दक्षिण अमेरिका में स्थित एक प्रतिनिधि लोकतांत्रिक गणराज्य है। देश के उत्तर में कोलंबिया, पूर्व और दक्षिण में पेरू और पश्चिम की ओर प्रशांत महासागर स्थित है। यह एक दक्षिण अमेरिका में उन दो देशों (अन्य चिली) में से है, जिसकी सीमाएं ब्राजील के साथ नहीं मिलती है।[कृपया उद्धरण जोड़ें] देश के हिस्से में मुख्य भूमि के पश्चिम में प्रशांत महासागर में स्थित गालापोगोस द्वीप भी आते हैं। भूमध्य रेखा, जिसके आधार पर देश का नाम रखा गया है, इक्वाडोर को दो भागों में विभाजित करती है। इसकी राजधानी क्विटो और सबसे बड़ा शहर गुआयाकिल है।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

आधुनिक इतिहास[संपादित करें]

१५३३ में स्पेन द्वारा विजय प्राप्त करने से पहले तक ईक्वाडोर उत्तरी इंका साम्राज्य का भाग था। सन् १५६३ में कुइटो स्पेनी साम्राज्य का एक केंद्र बना और १७१७ में न्यू ग्रानाडा के वाइसरोयल्टी का भाग बना। वाइसरोयल्टी के क्षेत्रों जैसे न्यू ग्रानाडा (कोलंबिया), वेनेजुएला, और कुइटो ने १८१९ और १८२२ के बीच अपनी-अपनी स्वतंत्रताओं की घोषणा की और ग्रान कोलंबिया के नाम से एक महासंघ बनाया।[कृपया उद्धरण जोड़ें] १८३० में जब क्विटो महासंघ से विलग हो गया तो इसका नाम "भूमध्य रेखीय गणराज्य" रख दिया गया। सन् १९०४ से १९४२ के मध्य पडोसी देशों से संघर्षों के कारण ईक्वाडोर को अपना बहुत सा भूभाग खोना पड़ा। १९९५ में पेरू के साथ सीमा विवाद के कारण जो युद्ध धधक रहा था वह १९९९ में सुलझा लिया गया। यद्यपि सन् २००४ में ईक्वाडोर नागरिक शासन के २५ वर्ष पूरे कर रहा था, लेकिन ये पूरा दौर राजनैतिक उथल पुथल भरा ही रहा था। क्विटो में हुए विरोध प्रदर्शनों के कारण ईक्वाडोर में पिछली तीन लोकतांत्रिक सरकारों को कार्यकाल पूरा होने से पूर्व ही अपदस्त होना पड़ा। २००७ में नए संविधान की रुपरेखा तैयार करने के लिए संविधान सभा का चुनाव किया गया है, और स्वतन्त्रता मिलने के बाद से ये ईक्वाडोर का २० वां संविधान है।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

राज्य-शासन[संपादित करें]

  • प्रशासनिक प्रभाग - २४ प्रांत
    ईक्वाडोर के प्रांत।
    • १.एज़ुए
    • २.बोलिवार
    • ३.कैनार
    • ४.कारची
    • ५.चिम्बोरैजो
    • ६.कोटोपाक्सी
    • ७.एल ओरो
    • ८.एस्मेरालडस
    • ९.गैलापागोस
    • १०.गुयास
    • ११.इम्बाबुरा
    • १२.लोजा
    • १३.लौस रियोस
    • १४.मनाबी
    • १५.मोरोना-सैंटियागो
    • १६.नैपो
    • १७.औरेलाना
    • १८.पास्तज़ा
    • १९.पिचिंचा
    • २०.सैंटा एलेना
    • २१.सैंटो डोमिंगो डीलोस त्साचिलास
    • २२.सुकुम्बिओस
    • २३.तुन्गुराहुआ
    • २४.ज़ैमोरा-चिन्चिपी

अर्थव्यवस्था[संपादित करें]

ईक्वाडोर पर्याप्त रूप से अपने तेल संसाधनों पर निर्भर है, जिसकी देश को निर्यात से होने वाली कमाई में आधे से अधिक भागीदारी है और सार्वजनिक क्षेत्र का एक चौथाई राजस्व इसी से प्राप्त होता है।[कृपया उद्धरण जोड़ें]१९९९-२००० में ईक्वाडोर को गहन आर्थिक संकट का सामना करना पड़ा जिससे देश के सकल घरेलु उत्पाद में ६% की कमी आई और साथ ही गरीबी रेखा से नीचे रहने वालों की संख्या में भी वृद्धि हुई। बैंकिंग क्षेत्र भी धराशायी हो गया और उस वर्ष ईक्वाडोर अपने बाह्य ऋण के भुगतान में भी चूक गया। २००० में राष्ट्रीय कांग्रेस द्बारा बहुत से ढांचागत सुधारों को स्वीकृति दी गई जिसमें अमेरिकी डॉलर को कानूनी निविदा के रूप में अपनाए जाने का भी प्रावधान था। डॉलरीकरण के कारण अर्थव्यस्था को सुदृढ़ता मिली, और आगे आने वाले वर्षों में फिर से विकास को गति मिली जिसका श्रेय ऊँचे तेल मूल्यों, विप्रेषण, और अपारंपरिक निर्यातों में हुई वृद्धि को जाता है।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

२००२-०६ की अवधि में अर्थव्यस्था ५.५% की दर से बढ़ी, जो पिछले २५ वर्षों में सबसे ऊँची पंच वर्षीय दर थी|२००६ में गरीबी दर में भी गिरावट हुई लेकिन फिर भी ये ३८% तक बनी रही| २००६ में सरकार द्वारा विदेशी तेल कंपनियों पर अप्रत्याशित कर लगा दिया गया जिससे अमेरिका के साथ होने वाली मुक्त व्यापार वार्ता निलंबित हो गयी। इन उपायों के चलते वर्ष २००७ में तेल उत्पादन में भी कमी आई।[कृपया उद्धरण जोड़ें] राष्ट्रपति रफेल कौरिया द्वारा ऋण डिफ़ॉल्ट का भय दिखाया गया और उस भय को ध्यान में रखते हुए, भय से निबटने के लिए दिसम्बर २००८ में कुछ व्यावसायिक बांड दायित्वों से मुख मोड़ लिया। उन्होंने निजी तेल कंपनियों पर भी एक उच्च अप्रत्याशित राजस्व कर लगा दिया और उनके साथ किये हुए अनुबंधों पर पुनः वार्ता आरम्भ करी ताकि कर के अहक्त प्रभावों को दूर किया जा सके। इससे आर्थिक अनिश्चितता उत्पन्न हुई; निजी निवेश में गिरावट आई और आर्थिक विकास धीमा हुआ है।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

अंतर्राष्ट्रीय मुद्दे[संपादित करें]

कोलम्बिया में जारी संयोजित अवैध मादक पदार्थों की तस्करी कोलंबिया से लगती हुई छिद्रिल सीमा द्वारा ईक्वाडोर में भी होती है, इक्वाडोर की साझा सीमा हजारों कोलंबियाई नागरिक भी अपने देश में हिंसा से बचने के लिए ईक्वाडोर में प्रवेश करते हैं।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

  • शरणार्थियों और आंतरिक विस्थापित - ११,५२६ (कोलंबिया); नोट - यु.एन.एच.सी.आर (UNHCR) के अनुमानानुसार लगभग २,५०,००० कोलंबियाई नागरिक ईक्वाडोर में शरण चाहते है लेकिन निर्वासित होने के भय से अपना पंजीकरण नहीं कराते (२००७)।[कृपया उद्धरण जोड़ें]