सदस्य:P.V.Kavya/पशु बीमा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

परवरिश पशुओ और बेचने के लिए पोल्ट्री अप्रत्याशित और जोखिम भरा हो सकता है| यही कारण है कि एक ठोस और पशुधन या मुर्गी बीमा पॅलिसी एक आवश्यकता है वह है| यह बीमा उन अप्रत्याशित घटनाओं और दुर्घटनाओं कि अपने जानवरों और अपनी आजीविका तबाह कर सकते हैं से अपने निवेश की सुरक्षा करता है| फ़ार्म पशु बीमा अपने विशेष पशु समूह को कवर के लिए अनुकूलित किया जा सकता है, तो पशु, सूअर, भेड, एमु, बकरी, मुर्गी या अपने खेत पर इनमें से किसी भी संयोजन है या नहीं| भारतीय कृषि उद्योग, एक और हरित क्रांति कि इसे और अधिक आकर्षक और लाभदायक बनाता के कगार पर भारत में कुल कृषि उत्पादन के रूप में अगले दस साल में दोगुना होने की संभावना है और वह भी एक जैविक तरीके से| पशु बीमा पॉलिसी अपने मवेशियों है, जो एक ग्रामीण समुदाय की सबसे मूल्यवान संपत्ति है की मृत्यु के कारण वित्तीय नुकसान से भारतीय ग्रामीन लोगों की सुरक्षा के लिए प्रदान की जाती है| नीति होने गाय, बैल या तो सेक्स एक पशु चिकित्सक/ सर्जन द्वारा ध्वनि और उत्तम स्वास्थ्य और चोट या रोग से मुक्त होने के रूप में प्रमाणित की भैंस और जो माइक्रो फ़ाइनेंस संस्थानों, गैर सरकारी संगठनों के सदस्य कर रहे हैं व्यक्तियों को शामिल किया, सरकार प्रायोजित संगठनों और इस तरह के संबंध समूहों/ ग्रामीण और सामाजिक क्षेत्र में संस्थानों|

पशु बीमा

अनुक्रम

विशेषताएं[संपादित करें]

मवेशियों की मौत[संपादित करें]

पशु, नीति अनुसूची में विनिर्दिष्ट जीवन दुर्घटना या अनुबंधित रोगों या शल्यक्रिया के नुकसान के मामले में एक भौगोलिक क्षेत्र का बीमा कवर| नीति भी मवेशी जो सूखा, महामारी तथा अन्य प्राकृतिक आपदाओं की स्थिति में कहा भौगोलिक क्षेत्र के बाहर होने वाली बीमा की विषय वस्तु हैं की मौत को शामिल किया|

स्थायी विकलांगता कवर[संपादित करें]

मवेशियों की स्थायी और पूर्ण विकलांगता के जोखिम को शामिल किया गया|

विशेषताएं

मवेशियों की मृत्यु दर के कारणों[संपादित करें]

  • २४% सांस की समस्याओं के मरने
  • १३% पाचन समस्याओं के मरने
  • १२% मौसम की घटनाओं के मरने
  • प्रजनन का एक परिणाम के रूप में १२%

पशुधन बीमा की मूल बातें[संपादित करें]

व्यक्तिगत कवरेज[संपादित करें]

यह बीमा आम तौर पर एक व्यक्तिगत आधार पर उच्च मूल्य जानवरों को शामिल किया| जानवरों के इस तरह के एक कान टैग के रूप में कुछ की पह्चान मार्कर या विवरण के अनुसार नीति पर सूचीबध्द है, और एक विशिष्ट डॉलर की राशि के लिए कवर कर रहे हैं|

कंबल कवरेज[संपादित करें]

नीति के इस प्रकार आप एक पूर्व मूल्य के लिए अपने सभी खेत संपत्ति का बीमा करने के लिए अनुमति देता है| यह संरचना, उपकरण, उपकरण और पशुधन भी शामिल है|

झुंड कवरेज[संपादित करें]

यह पशुओं के लिए बीमा का सबसे सरल और सबसे प्रचलित प्रकार है| इस कवरेज आप, उदाहरण के लिए, जानवरों की एक विशिष्ट संख्या के लिए बीमा करने के लिए २०० की डायरी मवेशी या ५०० सूअरों की अनुमती देता है|

पशुधन बीमा

पशु बीमा मूल बातें[संपादित करें]

पशुधन दूध पिलाने की और बढते सुविधा कवरेज[संपादित करें]

आग, बिजली, आँधी, डूबने, बाढ, इमारत ढहने, बर्बरता सहित नुकसान का एक सूचीबध्द कवर कारण की वजह से कवर पशुओं की मौत के लिए कवरेज प्रदान बर्फ़ानी तूफ़ान, और अधिक के कारण गला दबाने में मदद करता है| कवर पशुधन की चोरी के लिए कवरेज भी शामिल किया गया है|

हाइपोथर्मिया कवरेज[संपादित करें]

पशुधन दूध पिलाने की और जहां हाइपोथर्मिया कवर पशुओं की मौत ठंड में बारिश, ओले के साथ वर्षा, बर्फ़ानी तूफ़ान, या बर्फ़ का तूफ़ान परिणामों के लिए जोखिम की वजह से नुकसान की एक कवर कारण के रूप में बढ सुविधा कवरेज को हाइपोथर्मिया जोडता है|

शव हटाने कवरेज[संपादित करें]

पशुधन दूध पिलाने की और बढते सुविधा कवरेज करता है, तो इस तरह के शवों पशुधन कि नुकसान के एक कवर कारण का परिणाम के रूप में मृत्यु हो गई कवर कर रहे हैं करने के लिए शव हटाने व्यय कवरेज जोडता है|

दूषित भोजन या पानी कवरेज[संपादित करें]

नुकसान का कवर कारणों के रूप में पशुधन को दूध पिलाने के लिए दूध या पानी और बढते सुविधा कवरेज दूषित जोडता है, जहां कवर पशुओं की मौत में दूध या पानी के परिणामों में एक जहरीले पदार्थ की खपत|

हाइलाइट[संपादित करें]

१-यह योजना निम्नलिखित है, स्वेदेशी या विदेशी संकर नस्ल को शामिल किया|

  • दुधारू गायों और भैंसों
  • बछडों
  • स्टड बुल्स
  • बैल और बधिया नर भैंसों

२-एक निर्धारित उम्र समूह के भीतर पशु स्टैंडर्ड बीमा योजना के तहत स्वीकार कर रहे हैं| ३-पॉलिसी के तहत बीमा राशि जानवर के बाजार मूल्य होगा| ४-समूह छूट भी उपलब्ध हैं| ५-पॉलिसी के तहत क्षतिपूर्ति बीमित राशि या बीमारी जो भी कम हो से पहले बाजार मूल्य होगा| ६-प्रतिवर्ष बुनियादी प्रीमियम दर बीमित राशि ४% है| दीर्घकालिक नीतियों को भी लंबे समय तक छूट के साथ जारी किए जाते हैं| ७-नीति के तहत प्रीमियम दरों सरकार रियायती योजनाओं के तहत पशुओं को कवर करने के लिए रियायती कर रहे हैं|

पशुधन बीमा हाइलाइट

बहिष्करण[संपादित करें]

  • दुर्भावनापूर्ण या जानबूझकर कदाचार या उपेक्षा, लदान से अधिक है, अकुशल उपचार|
  • अन्य उदेश्य के लिए पशु के उपयोग की तुलना में लिखित रूप में कंपनी की सहमति के बिना प्रस्ताव प्रपत्र में कहा गया है|
  • जानबूझकर कृत्य या घोर लापरवाही
  • मवेशियों की मौत को रोकने में विफ़लता
  • दुर्घटनाए हुई या बीमारियों के जोखिम के प्रारंभ से पहले अनुबंध| रोग पॉलिसी अवधि के प्रारंभ से १५ दिनों के भीतर अनुबंध|
  • हवा या समुद्र के द्वारा ट्रांजिट|
  • जानबूझकर वध| जब तक यह वध एक पशु चिकित्सक या एक उचित सरकारी प्राधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया है|
  • आतंकवाद, युध्द, रेडियोधर्मिता और परमाणु खतरों के अधिनियमों
  • पारिणामिक क्षति

पशु बीमा के प्रकार[संपादित करें]

भेड और बकरी बीमा[संपादित करें]

भेड और बकरी बीमा

अपनी भेडों और बकरियों आमतौर पर अपने खेत पैकेज के हिस्से के रूप में शामिल किया जाता है| कृषि बीमा अपनी सुविधाओं और संरचनाओं, साथ ही अपनी भेडों और बकरियों को शामिल किया| आम तौर पर, एक सामान्य खेत या कृषि व्यवसाय नीति बीमारी या बीमारी से मौत को कवर नहीं करेंगे, लेकिन दुर्घटनाओं, मौसम की घटनाओं, मौत को कवर किया जाएगा, जबकि परिवहन और कहा कि प्रकृति की बातें| आप उच्च मूल्य भेड या बकरी है कि आप व्यक्तिगत रूप से बीमा करना चाहते है, तो आप एक विशेष जानवर मृत्यु दर नीति पर विचार करना चाहिए| एक स्वतंत्र विश्र्वसनीय विकल्प सदस्य एजेंट आप विशेष जानवर मृत्यु दर कवरेज, अगर यह अपने राज्य में उपलब्ध है, अपने विशिष्ट भेड खेती की जरूरत के लिए मिल सकता है| अपने एजेंट भेड बीमा है कि आप मन की शांति दे देंगे खोजने में मदद कर सकते हैं|

चिकन बीमा और मुर्गी पालन के लिए अन्य कवरेज[संपादित करें]

चिकन और मुर्गी बीमा

पोल्ट्री बीमा पॅलिसियों जोखिम है कि अपने पोल्ट्री आपरेशन का सामना कर रहा से बचाने के लिए अनुकूलित कर रहे हैं| चाहे आप मुर्गी, टर्की या यहां तक कि ईएमयू बढा, वहाँ एक बीमा विकल्प है कि अपने निवेश की रक्षा कर सकता है| सबसे नीतियों प्रत्यक्ष शारीरिक खतरों की एक विस्तृत रेंज की वजह से नुकसान के लिए तैयार कर रहे हैं| आपका बीमा लागू विकल्पों के साथ यदि आवश्यक संशोधन किया जा सकता है| मानक नीति भी अनुबंधित वाहक द्वारा शवों को हटाने और परिवहन के मुर्गी पालन के लिए क्षतिपूर्ति कर सकते हैं, उदाहरण के लिए| बीमारी और रोग इन नीतियों के तहत कवर नहीं कर रहे हैं| इनमे से चुन सकते है:

  • शक्ति रूकावट या यांत्रिक टूटने कि कवर मुर्गी की मौत का कारण बनता है
  • कवर घटना से अंडा उत्पादन की रूकावट के कारण आय की हानि
  • कवर घटना से मांस पक्षियों की कमी की वजह से आय का नुकसान|

पशु बीमा योजना[संपादित करें]

पशुधन बीमा योजना, एक केन्द्र प्रायोजित योजना है, जो २००५-२००६ और १० वीं पंचवर्षीय योजना के २००६-२००७ और १०० चयनित जिलों में ११ वीं पंचवर्षीय योजना के वर्ष २००७-२००८ के दौरान पायलट आधार पर लगू किया गया था| योजना देश के १०० नव चयनित जिलों में वर्ष २००८-२००९ से एक नियमित आधार पर लागू किया जा रहा है| इस योजना के तहत संकर और अधिक उपज देने वाली गाय-बैल और भैंस को उनके वर्तमान बाजार मूल्य के अधिकतम पर बीमा किया जा रहा है| बीमा के प्रीमियम में ५०% की धुन पर सब्सिडी दी जाती है| सब्सिडी का पूरा खर्च केंद्र सरकार द्वारा वहन किया जा रहा है| सब्सिडी के लाभ के लिए तीन साल की अधिकतम की एक नीति के लिए प्रति लाभार्थी २ जानवरों की एक अधिकतम करने के लिए प्रदान की जा रही है| योजना संबंधित राज्यों के राज्य पशुधन विकास बोर्ड के माध्यम से गोवा को छोडकर सभी राज्यों में लागू किया जा रहा है| इस योजना के १०० वर्ष पायलट की अवधि और स्वदेशी पशु, याक और मिथुन सहित पशुओं के अधिक प्रजातियों के दौरान कवर जिलों में लागू किया जाना प्रस्तावित है| पशुधन बीमा योजना के मौत के कारण और लोगों को पशुओं के बीमा के लाभ का प्रदर्शन और परम के साथ इसे लोकप्रिय बनाने के लिए उनके जानवरों के किसी भी संभावित नुकसान के खिलाफ़ किसानों और पशु पालकों को सुरक्षा प्रदान करने के दोहरे उदेश्य से तैयार की गई है पशुओं और उनके उत्पादों में गुणात्मक सुधार को प्राप्त करने का लक्ष्य है|

पशुधन बीमा योजना के क्रियान्वयन के लिए दिशा-निर्देश[संपादित करें]

पशुधन सेक्टर राष्ट्रीय, विशेष रूप से ग्रामीन अर्थव्यवस्था का एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है| पूरक आय पशुओं के पालन से निकाली गई किसानों को फ़सल उत्पादन की अनिक्ष्चितताओं का सामना करना पड, के अलावा गरीब और भूमिहीन किसानों को जीविका प्रदान करने से समर्थन करने का एक बडा स्रोत है| व्यापक दिशा निर्देश, मुख्य कार्यकारी अधिकारियों की प्रशंसनीय विवेक के अधीन योजना नीचे विस्तृत रहे हैं को लागू करने के लिए राज्यों द्वारा पीछा किया जाना:

क्रियान्वयन एजेंसी[संपादित करें]

पशुपालन, डेयरी और मत्स्य पालन विभाग के पशु और गर्भाधान द्वारा भैंसों की अनुवंशिक उत्रयन के रूप में अच्छी तरह के रूप में स्वदेशी जानवरों के अधिग्रहण के बारे में लाने के उदेश्य से मवेशी और भैंस प्रजनन के लिए राष्ट्रीय परियोजना की केन्द्र प्रायोजित योजना लागू कर रहा है| राज्य क्रियान्वयन एजेंसियों राज्य पशुधन विकास बोर्ड की तरह के माध्यम से कार्यान्वित किया जाता है| आदेश और पशुधन बीमा के बीच तालमेल के बारे में लाने के लिए, बाद योजना के माध्यम से लागू किया जाएगा| राज्यों में जो NPCBB को लागू नहीं कर रहे हैं या जहां कोई देखते हैं, पशुधन बीमा योजना राज्य पशुपालन विभागों के माध्यम से कार्यान्वित किया जाएगा|

पशु बीमा योजना

कार्यपालक प्राधिकारी[संपादित करें]

राज्य पशुधन विकास बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी को भी इस योजना के लिए कार्यकारी अधिकार होगा| उन राज्यों में जहां एसी कोई जगह बोर्डों, निदेशक में हैं, पशुपालन विभाग इस योजना के कार्यकारी अधिकार होगा| सीईओ योजना जिले में पशुपालन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी सबसे माध्यम से विभिन्न जिलों में लागू करना होगा, इस उदेश्य के लिए आवश्यक निर्देश राज्य सरकार द्वारा जारी किए जाने के लिए होगा| प्रीमियम सब्सिडी, पशु चिकित्सा चिकित्सकों के मानदेय का भुगतान, पंचायतों आदि के माध्यम से जागरूकता पैदा करने के लिए केन्द्रीय कोष S.I.A के साथ रखा जएगा इस योजना के कार्यकारी अधिकारी के रूप में, मुख्य कार्यकारी अधिकारी निष्पादन, और इस योजना की निगरानी के लिए जिम्मेदार होगा|

जिलों में इस योजना के लागू किया जाएगा[संपादित करें]

योजना देश के १०० नव चयनित जिलों में नियमित आधार पर लागू किया जाना है| योजना संकर और अधिक उपज देने वाली गाय-बैल और भैंस केवल करने के लिए प्रतिबंधित क्र दिया जाएगा| इस उदेश्य के लिए चयनित जिलों की सूची अनुबंध में दी गई है| यह योजना केवल इन जिलों में लागू किया जाना है|

बीमित पशु की पहचान[संपादित करें]

पशु का बीमा ठीक से और विशिष्ट रूप से बीमा दावे के समय पहचान होना जरूरी होगा| कान टैगिंग, इसलिए, मूर्ख सबूत के रूप में दूर संभव के रूप में होना चाहिए| कान टैगिंग या माइक्रोचिप्स फ़िक्सिंग की हाल ही में प्रौघोगिका की पारंपरिक विधि पॉलिसी लेते समय पर इस्तेमाल किया जा सकता है| पहचान के निशान फ़िक्सिंग की लागत बीमा कंपनियों और इसके रखरखाव की जिम्मेदारी द्वारा वहन किया जाएगा चिंतित लाभार्थियों पर झूठ होगा| प्रकृति और टैगिंग सामग्री की गुणवत्ता परस्पर लाभार्थियों और बीमा कंपनी से सहमत होना होगा| पशु चिकित्सा चिकित्सकों की जरूरत है और टैग अपने दावे के निपटारे के लिए तय करने के महत्व के बारे में लाभार्थियों मार्गदर्शन ताकि वे टैग के रखरखाव के लिए उचित देखभाल कर सकते हैं|

पशु के बाजार मूल्य का निर्धारण[संपादित करें]

एक जानवर अपनी वर्तमान बाजार मूल्य के अधिकतम के लिए बीमा किया जाएगा| पशु बीमा के लिए की बाजार कीमत लाभार्थी द्वारा संयुक्त रूप से मूल्यांकन किया जाएगा, पशु चिकित्सा व्यवसायी और बीमा एजेंट प्राधिकृत|

दावों का निपटान[संपादित करें]

बीमित पशु की पहचान

दावो के निपटान की विधि बीमा करने के लिए अनावश्यक कठिनाई से बचने के बहुत ही सरल और शीघ्र हिना चाहिए| बीमा कंपनी के साथ अनुबंध में प्रवेश करते हैं, प्रक्रिया अपनाई जाने वाली/ दावे के निपटान के लिए आवश्यक दस्तावेज स्पष्ट रूप से जाहिर किया जाना चाहिए| दावे के मामले कारण बनने में, बीमा राशि के भुगतान के लिए सकारात्मक अपेक्षित दस्तावेज प्रस्तुत करने के बाद १५ दिनों के भीतर किया जाना चाहिए| पशु बीमा, वहीं मुख्य कार्यकारी अधिकारियों को सुनिक्ष्चित करना चाहिए कि स्पष्ट प्रक्रियाओं दावों के निपटान के लिए जगह में डाल रहे हैं और आवश्यक दस्तावेजों सूचीबध्द हैं और एक ही नीति दस्तावेजों के साथ चिंतित लाभार्थियों को उपलब्ध कराया गया है|

बीमा एजेंटों के लिए आयोग[संपादित करें]

बीमा एजेंट की सक्रिय और समर्पित भागीदारी योजना के कुशल कार्यान्वयन के लिए सबसे जरूरी है| बीमा कंपनी अपने प्रीमियम आय से बाहर एजेंट के लिए प्रीमियम राशि का कम से कम १५% का भुगतान करने के लिए राजी किया जाना चाहिए| बीमा कंपनी के साथ अनुबंध में प्रवेश करते हैं, इस कार्यान्वयन एजेंसी द्वारा यह सुनिक्ष्चित किया जाना है|

संदर्भ[संपादित करें]

[1] [2] [3] [4]

[5]

  1. https://www.trustedchoice.com/farm-ranch/livestock-cattle/
  2. http://www.dahd.nic.in/related-links/livestock-insurance-0
  3. https://www.hdfcergo.com/rural-insurance/cattle.html
  4. http://newindia.co.in/Content.aspx?pageid=76
  5. https://www.thehartford.com/business-insurance/livestock-insurance