जोखिम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

जोखिम (risk) किसी मूल्य की चीज़ को पाने या खोने की सम्भावना को कहते हैं। जोखिम के कार्यों और प्रक्रियाओं में अनिश्चितता का तत्व उपस्थित होता है।[1] जोखिम एक विस्तृत अवधारणा है जिसका विभिन्न परस्थितियों में विभिन्न प्रकार से विश्लेषण व प्रबंधन किया जाता है।

वित्त[संपादित करें]

वित्तीय निवेश में जोखिम का बहुत महत्व है। निवेश की परिभाषा ही है कि भविष्य के धन के लिए वर्तमान धन का त्याग।[2] ऐसे में भविष्य में धन वापिस मिलेगा या नहीं, यह एक जोखिम है। निवेश दो प्रकार का होता है, जोखिम रहित - जिनमें भविष्यधन प्राप्ति की संभावना पूरी है जैसे कि सरकारी प्रतिभूतियाँ, और जोखिम सहित जिनमें भविष्यधन प्राप्ति में संशय हो सकता है जैसे कि शेयर आदि। वित्त बाजार का मूल मंत्र ही है अधिक जोखिम अधिक लाभ। बीमा क्षेत्र संपूर्णतया जोखिम की संभावनाओं पर ही आधारित है। जोखिम को कम से कम रखते हुए लाभ को अधिक से अधिक करने का प्रयास ही वित्त व्यवसाय का आधार है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. John Handmer and Paul James (2005). "Trust Us and Be Scared: The Changing Nature of Risk". Global Society 21 (1): 119–30.
  2. शार्पे, अलेक्ज़ेंडर, बेली. इन्वेस्टमेंट्स. प्रेंटिस हाल इंडिया. पृ॰ १. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 81-203-0982-0.