"नाभिकीय निरस्त्रीकरण हेतु अंतर्राष्ट्रीय अभियान": अवतरणों में अंतर

नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
सम्पादन सारांश नहीं है
छो (बॉट: आंशिक वर्तनी सुधार।)
No edit summary
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब संपादन
 
निशस्त्रीकरण
'''नाभिकीय शस्त्र समाप्ति हेतु अंतर्राष्ट्रीय अभियान''' को २०१७ के [[नोबेल शांति पुरस्कार]] से सम्मानित किया गया।
निशस्त्रीकरण विश्व शांति का एक पवित्र साधन है यह युद्धों को समाप्त कर मानवता कि सच्ची सेवा का मार्ग प्रशस्त करने का एक आन्दोलन है मानव इतिहास में लगभग १४,५०० छोटे बड़े युद्ध लड़े गए और दो बार विश्वयुद्ध का भी सामना भी करना पड़ा इन युद्धों में जन धन कि हानि और आणविक अस्त्रों के प्रयोग ने संपूर्ण मानव सबयता के विनाश का खतरा उत्पन्न कर दिया इस से संपूर्ण विश्व में निशस्त्रीकरण के प्रयास जो पकड़ने लगे.
{{आधार}}
निशस्त्रीकरण का अर्थ हिंसा के समस्त भौतिक और मानवीय साधनों का उन्मूलन करना है. इस कार्यक्रम का उद्देश्य हथियारों की होड़ रोक कर आर्थिक विकास को सुनिश्चित करना है.
मोर्गन थाओ के अनुसार "निशस्त्रीकरण से तात्पर्य सह्श्त्रों की होड़ को समाप्त करने से है"
 
 
निशस्त्रीकरण मूलतः दो प्रकारों का होता है. गुणात्मक और मात्रात्मक.
 
 
आवश्यकता:-
 
 
वर्त्तमान अंतर्राष्ट्रीय राजनीतिक परिदृश्य में निशस्त्रीकरण का मूल प्रेरक शस्त्रीकरण की होड़ है. जिसने संपूर्ण विश्व को आतंकित कर रखा है. एक अनुमान के अनुसार वर्त्तमान में उपलब्ध परमाणु अस्त्रों से लगभग ३० बार पूरी पृथ्वी को नेस्तनाबूत किया जा सकता है. निशस्त्रीकरण का अन्य प्रेरक विश्व शांति की स्थापना का ध्येय भी है. -Atul sahu 67676
 
== सन्दर्भ ==
{{संसूची}}
3

सम्पादन

नेविगेशन मेन्यू