वार्ता:आमेर दुर्ग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

यह पृष्ठ आमेर दुर्ग लेख के सुधार पर चर्चा करने के लिए वार्ता पन्ना है। यदि आप आप अपने संदेश पर जल्दी सबका ध्यान चाहते हैं, तो यहाँ संदेश लिखने के बाद चौपाल पर भी सूचना छोड़ दें।

लेखन संबंधी नीतियाँ


निर्वाचन स्तर सुधार हेतु टिप्पणियाँ[संपादित करें]

  1. भूमिका में सन्दर्भ न रखें।
  2. आवागमन अनुभाग में कोई सन्दर्भ नहीं दिया गया है।
    • आवागमन में किसी सन्दर्भ की आवश्यकता नहीं समझ आती। यदि कोई सन्दर्भ सुलभ हों तो ठीक वर्ना विमानक्षेत्र या रेलवे स्टेशन हैं त हैं, उनमें सन्दर्भ की आवश्यकता...? फिर भी देखते हैं यदि सुलभ हुए तो।--आशीष भटनागरवार्ता 07:32, 15 फ़रवरी 2018 (UTC)
  3. "आभार: आमेर फ़ोर्ट, अंग्रेज़ी विकिपीडिया पर" ← इसे लेख में रखने की कोई आवश्यकता नहीं है। कृपया वार्ता पृष्ठ में {{अनूदित पृष्ठ}} के द्वारा उन्हें श्रेय दें।
    • मुख्य लेख से हटा कर आभार सांचे में वार्त्ता पृष्ठ पर दिया गया।--आशीष भटनागरवार्ता 07:44, 15 फ़रवरी 2018 (UTC)
  4. किसी वाक्य में आपने "वर्ष ई.", किसी में "वर्ष ई" और किसी में केवल "वर्ष" लिखा है, कृपया इन्हें एक समान ही रखें। (१७४३ ई० आदि का तभी उपयोग करें, जब आप वि.सं. या ई॰ पू॰ आदि वर्षों का भी उल्लेख कर रहे हों।)
  5. "बॉलीवुड फिल्मों में" अनुभाग में आपने यूट्यूब की कड़ी रखी है, कृपया उसे बाहरी कड़ियों में ही रखें।
  6. कृपया मृत कड़ियों के लिए archive कड़ी डालें।
  7. गैर हिन्दी संदर्भों का हिन्दी में अनुवाद भी डालें, और उस भाषा का नाम भी लिखें।
  8. कुछ संदर्भों का स्वरूप ठीक नहीं है। जैसे :- "आमेर किले का इतिहास और तथ्य|अच्छी ज्ञान.कॉम।अभिगमन तिथि: १४-नवं.-२०१७" कुछ में अभिगमन तिथि अंग्रेजी में है, कृपया उसे भी ठीक करें।

-- (वार्ता) 05:05, 15 फ़रवरी 2018 (UTC)

सर्वप्रथम तो समीक्षा हेतु अमूल्य समय देने का हार्दिक धन्यवाद। तदोपरांत आश्वासन, की कुछ टिप्पणियों पर कार्रवाई कर दी गई है, तथा अन्य पर भी कार्याधीन है। साभार आशीष भटनागरवार्ता 07:46, 15 फ़रवरी 2018 (UTC)
@आशीष भटनागर: जी, आवागमन में जो जानकारी दी गई है ये लोगों के लिए अत्यंत उपयोगी होती है। अगर जानकारी सही न हो तो इसे पढ़कर वहाँ जाने वालें व्यक्ति को परेशानी हो सकती है इसलिए इसे संदर्भ जोड़कर सत्यापित करने से विश्वसनीय बन जाएगी।--आर्यावर्त (वार्ता) 10:31, 15 फ़रवरी 2018 (UTC)
आवागमन में पर्याप्त सन्दर्भ जोड़ दिये गए हैं।आशीष भटनागरवार्ता 12:04, 16 फ़रवरी 2018 (UTC)
  1. "संरक्षण" अनुभाग में मात्र एक ही उपानुभाग है "हाथियों पर अत्याचार की चिन्ता" ,ये थोड़ा अटपटा लग रहा है एवं लेख की तारतम्यता तोड़ता प्रतीत होता है ,यदि कुछ सुधार हो पाए तो ठीक,अन्यथा आवश्यक नहीं।
    • उपशीर्षक को सुधारा गया।
  • "आमेर का किला विश्व धरोहर" की जगह "विश्व धरोहर - आमेर का किला ",किया जा सकता है।
    • शीर्षक सुधारा
  • "शिला देवी मन्दिर" अनुभाग को "चतुर्थ प्रांगण" के नीचे जोड़ा जा सकता है जैसे "प्रथम,द्वितीय,तृतीय एवं चतुर्थ प्रांगण" फिर "शिला देवी मन्दिर" ताकि एकरूपता बनी रहे।
    • ये अनुभाग किले में प्रवेश करके बढ़ते हुए क्रम के अनुसार जोड़े गये हैं। आप जैसे जैसे दुर्ग में घुसते जायेंगे, वैसे वैसे वैसे ये अनुभाग आपको मिलते जायेंगे।
  • आवागमन में सड़क,रेल ,वायुमार्ग है,या तो तीनो में "मार्ग " हो या तीनो में नहीं।
    • सभी मार्ग हो गये।
  • "आवागमन" अनुभाग में प्रारम्भ में * हटाया जा सकता है।
    • ये गलती से लगा होगा, हटा दिया है।
  • "बॉलीवुड फिल्मों में" शीर्षक अधूरा लग रहा है "बॉलीवुड फिल्मों में उल्लेख " किया जा सकता है।
    • सुधार किया गया।
  • उपरोक्त सुझाव/समीक्षा मात्र उत्कृष्ट लेख को अतिउत्कृष्ट बनाने के लिए है,आवश्यक नहीं की इन्हे सम्मिलित किया जाए।

कुछ सुझाव[संपादित करें]

मेरे कुछ सुझाव हैं:

  1. ज्ञानसंदूक में अन्य नामों में आमेर का क़िला लिखा होना चाहिए।
  2. परिचय के आरंभ में:" आमेर दुर्ग, आमेर का क़िला या आम्बेर का क़िला..." होना चाहिए अर्थात अधिक प्रचलित नाम: आमेर/आम्बेर का क़िला भी मोठे अक्षरों में लिखा होना चाहिये और "किला" नहीं "क़िला" होना चाहिए।
    • अन्य नाम वैसे तो जोड़ ही दिये गए हैं, वह भी एकदम आरम्भ में, साथ ही उनको ज्ञानसन्दूक मेम भी जोड़ा हुआ है, वह भि बोल्ड में। अतः यहां भि बोल्ड करना मुख्य लेख पर हावी होना लगेगा।--आशीष भटनागरवार्ता 12:12, 16 फ़रवरी 2018 (UTC)
  3. बॉलीवुड फिल्मों में वाले हिस्से का शीर्षक प्रचलित लोकसंस्कृति में लिखना बेहतर होगा तथा प्रचलित लोकसंस्कृति वाला हिस्सा आवागमन के बाद, अर्थात चित्र दीर्घा के ठीक ऊपर हो।
    • वैसे यही शीर्षक प्रयोग किया है पहले के कई लेखों में, किन्तु यहाम केवल बॉलिवुड के उदाहरण मात्र दिये हैं, तो उसका नाम लिखा। यदि कहीं अन्य प्रयोग का सन्दर्भ उललब्ध करा पायें तो अवश्य यही प्रयोग कर सकते हैं।--आशीष भटनागरवार्ता 12:12, 16 फ़रवरी 2018 (UTC)

लेख को बेहतर बनाने के मेरे कुछ सुझाव हैं😊🙏Tireless Contributor Barnstar Hires.gif  Innocentbunny ;)    वार्ता  14:50, 15 फ़रवरी 2018 (UTC)

दुर्ग की विशाल प्राचीरों,द्वारों की शृंखलाओ और पत्थर से बने रास्तों के वाक्य में दुर्ग शब्द का दोहराव अटपटा लग रहा। पहले प्रयुक्त दुर्ग को एडिट कर दयनीय। Umeshbabbu (वार्ता) 20:05, 10 अगस्त 2018 (UTC)

;आर्यावर्त की टिप्पणी[संपादित करें]

निर्वाचित लेख उम्मीदवार - से लाया गया पाठ
  1. लेख की भूमिका लेख का सार होता है और भूमिका में लिखी हुई बातों को पुनरावृत्ति दोष न हो ये ध्यान में रखकर लेख में विस्तृत रूप से लिखा जाता है; इसलिए भूमिका में कभी भी संदर्भ नहीं जोड़े जाते। यहाँ भूमिका में ही संदर्भ दिए गये है और भूमिका लेख का सार मात्र न होकर उसमें स्वतंत्र जानकारी प्रदान की गई है।
    • भूमिका में से सन्दर्भ हटा लिये गए हैं व दूसरे बिन्दु का भी ध्या रखा गया है।--आशीष भटनागरवार्ता 13:49, 16 फ़रवरी 2018 (UTC)
  2. लेख में जोड़े गए पादसन्दूक में अनेक लाल कड़ियाँ हैं।
  3. अंक कहीं देवनागरी में तो कहीं अरबी में लिखे हैं। निर्वाचित लेख में साँचे आदि में अरबी अंक लिखना अनिवार्य न हो तब तक देवनागरी अंको का प्रयोग करें।
  4. बॉलीवुड फिल्मों में नाम के विभाग में अलग वाक्य में यूट्यूब पे जाकर वीडियो देखने के लिए कहाँ गया है। उसे हटाया जाए। लेख के बीच में बाहरी कड़ियाँ नहीं दी जाती।
  5. आवागमन नाम के विभाग में एक भी संदर्भ नहीं है।
  6. अंत में आभार आमेर फोर्ट, अंग्रेजी विकिपीडिया से लिखा है जो ठीक नहीं है। {{अनूदित पृष्ठ}} का प्रयोग करना चाहिए। अधिक जानकारी हेतु वि:अन्य विकिमीडिया परियोजनाओं से सामग्री लेना वाली नीति पढ़ लें।
  7. बहुत से संदर्भ अंग्रेजी में है जिसमें ज्यादातर भाषा के नाम को प्रदर्शित करने वाले प्राचल का प्रयोग नहीं हुआ है।
  8. लेख जिनमें October 2016 से मृत कड़ियाँ हैं और लेख जिनमें July 2017 से मृत कड़ियाँ हैं वाली श्रेणियाँ लगी हैं। कृपया इस समस्या को सुलझाएं।

उपरोक्त सुझावों के अनुसार परिष्कार होने के बाद आगे की समीक्षा की जाएगी। धन्यवाद।--आर्यावर्त (वार्ता) 01:50, 15 फ़रवरी 2018 (UTC)

अधिकांश बिन्दुओं पर गौर किया गया व कार्रवाई की गई है।--आशीष भटनागरवार्ता 13:49, 16 फ़रवरी 2018 (UTC)

आर्यावर्त की टिप्पणी - २[संपादित करें]

आर्यावर्त की टिप्पणी - २

नमस्ते आशीष जी, लाल कड़ियों को ठीक करने और उनके स्वतंत्र लेख बनाने में आपने जो मेहनत की है उसके लिए धन्यवाद। अभी मैं संदर्भों की जांच कर रहा हूँ जिस में कुछ क्षतियाँ मिली हैं जो निम्न लिखित है। उसके बाद मैं कड़ियों वाले सभी लेखों की जांच करने वाला हूँ। लगे हाथ आप स्वयं भी देख लें कि निर्वाचित लेख से जुड़े सभी कड़ीं वालें लेख कम से कम अच्छे आधार स्तर के हो।

  • संदर्भ क्रमांक ३ में कड़ीं काम नहीं कर रही और कड़ीं विकिपाठ के रूप में दिख रही है। कृपया संदर्भ ३ को ठीक करें।
    • URL में गूगल क्रोम से उठाने के कारण http:// नहीं जुड़ा था, जिसके कारण यूआरएल कड़ी नहीं बन पायी थी। अब सुधार कर दिया गया है।--आशीष भटनागरवार्ता 01:10, 12 मार्च 2018 (UTC)
  • कृपया संदर्भ ५ में अभिगमन तिथि जोड़ें।
    • जोड़ दी गई।
  • संदर्भ १८ में ' [टॉड.द्वितीय.२८१]' लिखा है। ये है क्या?
  • संदर्भ १९ में अभिगमन तिथि आदि जानकारी नहीं है।
    • जोड़ दी गई।
  • संदर्भ २० में दी गयी कड़ीं मृत हो चुकी। कृपया आर्काइव करें।
    • ये कड़ी] मृत नहीं है। पुनः जाँ च कीजिये।
      • वहाँ पर कोई सामग्री नहीं है। ४०४ फेटल एरर आ रही है।--आर्यावर्त (वार्ता) 01:49, 12 मार्च 2018 (UTC)
        • कृपया उपरोक्त कड़ी को ठीक से क्लिक करें, सही जालस्थल अभी भी खुल रहा है।--आशीष भटनागरवार्ता 14:59, 12 मार्च 2018 (UTC)
            • आपकी समस्या पकड़ में आ गई है। इस कड़ी को आपने मोबाइल पर खोला था, इसका मोबाइल संस्करण एरर दे रहा है। इसे डेस्कटॉप पर खोलें। सही मिलेगा। आप भी सही और मैं भी सही।
  • संदर्भ २२ आमेर के कच्छवाहों का इतिहास में अभिगमन तिथि आदि जानकारी जोड़ें।
    • जोड़ दी गई।
  • संदर्भ २७ जलेब चौक पर सूचनापट में कॉमन्स के एक चित्र की कड़ीं दी गई है जो मृत कड़ीं है और इसके कारण ही लेख में मृत कड़ियां वाले लेख की छुपी श्रेणी भी स्वतः लग गयी है।
    • नयी फ़ाइल की यूआरएल जोड़ी गई।
  • संदर्भ २८ गणेश पोल पर सूचनापट भी मृत कड़ीं।
    • नयी फ़ाइल की यूआरएल जोड़ी गई।
  • संदर्भ ३८ में टाइम्स ऑफ इंडिया की कड़ीं है इसमें भाषा अंग्रेजी एवं अभिगमन तिथि लिखी होनी चाहिये।
    • जोड़ दी गयी।
  • संदर्भ ३४ से लेकर ४० तक अन्य भाषा के संदर्भ हैं पर भाषा का उल्लेख नहीं। कुछ में अभिगमन तिथि भी नहीं।
    • जोड़ दी गयी।
  • संदर्भ ४१, ४२ में कड़ीं के साथ अभिगमन तिथि आदि जानकारी भी जोड़ें।
    • जोड़ दी गयी।
  • संदर्भ ४५ राजस्थान के अरावली.. वाले में अभिगमन तिथि आदि जानकारी जोड़ें।
    • जोड़े गये हैं।
  • संदर्भ ४८ में लिखा है कि अंग्रेज़ी विकिपीडिया पर फिल्म के लेख में सन्दर्भ उपस्थित, तो क्या ये संदर्भ देखने के लिए पाठकों को अंग्रेजी विकिपीडिया पर भेजना पड़ेगा? और भेजेंगे तो फिर पाठक लेख भी वहीं पढ़ लेंगे। कृपया वहां जो भी संदर्भ हो उसे यहां डालें।
    • ३ नये सन्दर्भ डाले गये।

कृपया ध्यान दें कि एक भी संदर्भ जोड़ने या निकालने पर संदर्भ के क्रमांक बदल सकते हैं। वर्तमान में जो क्रमांक है उसके अनुसार लिखा गया है। धन्यवाद।--आर्यावर्त (वार्ता) 14:54, 8 मार्च 2018 (UTC)

जी हां इस बात का ध्यान रखा गया है। मात्र सन्दर्भ संख्या ४८ में संख्या १ से ३ हुई है, जिसके बाद की कोई शिकायत नहीं मिली थी। अतः संख्या अपरिवर्तित ही रहेगी।

समीक्षा कार्रवाई[संपादित करें]

@आर्यावर्त: जी! आपकी समीक्षा पर पूर्ण कार्रवाई की गयी है। आगे की समीक्षा अपेक्षित है। --आशीष भटनागरवार्ता 15:04, 12 मार्च 2018 (UTC)

शुरुआती समीक्षा (भाग १)[संपादित करें]

मैं इस समीक्षा में कुछ ऐसी बातें लिख रहा हूँ जिनका सभी सभी लेखों में ध्यान रखना चाहिए। चूँकि यह लेख निर्वाचन की श्रेणी में है तो इसमें तो ये अत्यावश्यक है।

  1. लेख में सिटी पैलेस, लोहगढ़, कृष्णदास (बहुविकल्पी) और जोधा अकबर की कड़ियाँ हैं जबकि ये सभी बहुविकल्पी पृष्ठ हैं। अतः कृपया इन कड़ियों को ठीक करें।
    1. कड़ियां सुधारी गई हैं।
  2. लेख में दो स्थानों पर आंबेर का किला की कड़ी दी गयी है जबकि वो इसी पृष्ठ पर अनुप्रेषित हो रहा है। कृपया इसे स्पष्ट करें।
    1. ये इसी दुर्ग के अन्य नाम हैं जिन्हें उपयोक्ता सुविधा हेतु इसी पृष्ठ पर पुनर्प्रेषित किया गया था। लेख में से ये कड़ियां अब हटा दि गयी हैं।
  3. सन्दर्भ संख्या ३६ की कड़ी टूटी हुई है। शायद आप यह कड़ी देना चाहते हो।
    1. कड़ी सुधारी गयी।
  4. सन्दर्भ संख्या ९ की कड़ी को खोलने पर ज्ञात होता है कि इसको खोलने की अनुमति कुछ विशिष्ट लोगों के पास ही है। अतः इस सन्दर्भ को या तो बदला जाये या फिर इसका ठीक पाठ उपलब्ध करवाया जाये।
    1. कड़ी बदली गयी।
  5. अम्बर दुर्ग और आमेर का क़िला जयपुर भी इसी लेख पर अनुप्रेषित हो रहे हैं जबकि लेख में ऐसा कोई उल्लेख ही नहीं है। कृपया इनको स्पष्ट करें।
    1. अम्बर दुर्ग गलत वर्तनी थी - हटायी गई, एवं आमेर का किला जयपुर नाम से स्वतः स्पष्ट है कि ैसी दुर्ग का नाम नगर के साथ प्रयोग किया गय है - किसी स्पष्टिकरण की आवश्यकता नहीं दिखाई देती।

यह समीक्षा लेख के तकनीकी पहलुओं को लेकर है। इसके पूर्ण होने के पश्चात् आगे की समीक्षा होगी।☆★संजीव कुमार (✉✉) 04:10, 19 मार्च 2018 (UTC)

उपरोक्त सभी समीक्षाओं पर कार्रवाई की जा चुकी है। आगे की प्रतीक्षा है।--आशीष भटनागरवार्ता 22:35, 19 मार्च 2018 (UTC)

आर्यावर्त की टिप्पणी - ३[संपादित करें]

निर्वाचित लेख मुखपृष्ठ पर प्रदर्शित होता है और लेख से जुड़ी कड़ियों पर क्लिक करके पाठक उक्त लेख में जाते हैं इसलिए निर्वाचित लेख से जुड़े लेख में कोई बड़ी समस्या नहीं होनी चाहिए। लेख कम से कम अच्छे आधार स्तर का हो जिसमें केवल एक वाक्य न हो, एक संदर्भ, एक श्रेणी अवश्य हो। कड़ीं से जुड़े लेखों की जाँच करते समय कुछ समस्याएँ सामने आई है जो निम्नलिखित है।

  1. कछवाहा - इस लेख में एक भी सन्दर्भ नहीं। पाठ भी विकिफ़ाइ करने की आवश्यकता है।  Yes check.svg 
  2. लेख में किसी एक लेख की कड़ीं बार बार नहीं जोड़ी जानी चाहिए। कछवाहा की कड़ीं लेख की भूमिका में कालांतर में कछवाहा राजपूत मान सिंह प्रथम ने राज किया व इस दुर्ग का निर्माण करवाया: और यह महल कछवाहा राजपूत महाराजाओं एवं उनके परिवारों का निवास स्थान हुआ करता था' वाक्यों में जोड़ी गई है। एक ही रखें।  Yes check.svg 
  3. नामपेन्ह - इस लेख को अच्छे आधार स्तर का बनाये जिसमें कम से कम एक संदर्भ और थोड़ी बहूत जानकारी हो।  Yes check.svg 
  4. राजस्थान के पर्वतीय दुर्गों में अंग्रेज़ी विकि के लेख की कड़ीं दी गई है। उसे तुरंत हटाया जाए। उससे पाठक अंग्रेजी विकि पर चले जाते हैं। लेख में कड़ियाँ इसलिए जोड़ी जाती है कि पाठक एक लेख से रुचि वालें दूसरे लेख में जा सकें परंतु दूसरे विकि पर भेजने से हिन्दी विकि का ही नुकसान है। Yes check.svg 
  5. विश्व धरोहर स्थलों की सूची लेख में अनेक लालकड़ियाँ हैं। एक भी सन्दर्भ नहीं है।  Yes check.svg 
  6. शिव लेख में एक भी सन्दर्भ नहीं है।  Yes check.svg 

दूसरे कड़ीं से जुड़े लेखों के लिए आगे समीक्षा की जाएगी। अभी समयावधि के कारण अर्धविराम।--आर्यावर्त (वार्ता) 13:47, 27 मार्च 2018 (UTC)

@आर्यावर्त: जी, आपके बहुमूल्य समयदान हेतु एवं की गई समीक्षा हेतु धन्यवाद। यहां एक बात ध्यान योग्य है, कि लेख के सहायक लेखों की स्थिति कुछ ठीक अवश्य होनी चाहिये, किन्तु उनका स्तर निर्वाचन स्तर हेतु पहुंचाना संभव नहीं है, अन्यथा एक निर्वाचित लेख ढेरों निर्वाचित लेखों का समूह बन जायेगा और अत्यन्त दुरूह कार्य हो जायेगा। अतः निर्वाचन गुणवत्ता जाँच को निर्वाचन हेतु रखे गये लेख तक ही सीमित रखें। आमेर दुर्ग पुस्तकालय निर्वाचित नहीं होना है, केवल आमेर दुर्ग लेख को ही निर्वाचित होना है। सभी कड़ियां नीली हैं, लेख सहित हैं, बहुत है। ऐसी मेरी समझ है। इससे पूर्व भी कई लेख निर्व्चित हुए किन्तु प्रत्येक नीली कड़ी पर लेख तो बना, उस प्रत्येक लेख में सन्दर्भ, भाषा उच्चतम स्तर की, उनकी कड़ियों के लेख व फ़िर उन कड़ियों वाले लेखों की कड़ियां,,, इतना तो आवश्यक नहीं होता। हां नीली कड़ियों के जो नये लेख बनाये, उनमें न्यूनतम स्तर से अधिक रखने का प्रयास किया है। जो पहले ही बने हुए हैं, उनसे छेड़छाड़ नहीं की है। --आशीष भटनागरवार्ता 12:48, 28 मार्च 2018 (UTC)
@आशीष भटनागर: जी, सम्भवतः आपने मेरी टिप्पणी ध्यान से नहीं पढ़ी। निर्वाचित लेख से जुड़े दूसरे लेख को निर्वाचित स्तर का बनाने के लिए किसीने कहाँ ही नहीं है। लेख अच्छे आधार स्तर का होना चाहिए जिसमें कम से कम एक संदर्भ, एक श्रेणी, कुछ जानकारी हो। अब इस छोटी सी आवश्यकता को ध्यान में रखकर उपरोक्त टिप्पणी को पुनः पढ़ें।
  • ज्यादातर लेख में एक भी संदर्भ नहीं है। कम से कम एक संदर्भ जोड़ दें।  Yes check.svg 
  • एक जगह तो अंग्रेजी विकि के लेख की कड़ीं है। ऐसा करने पर पाठक दूसरे विकि पर चले जाते हैं। कृपया उसे तुरंत हटा दें।  Yes check.svg 
  • इसी लेख में एक ही लेख कछवाहा की कड़ीं दो बार जोड़ी गई है, कृपया एक ही रखें।  Yes check.svg 
  • एक लेख ऐसा है जिसमें अत्यधिक लालकड़ियाँ है। लेख से उक्त लेख की कड़ीं न जोड़ें अथवा संबंधित लेख में [[]] हटा दें।  Yes check.svg 

धन्यवाद। निर्वाचित लेख से कड़ियाँ के द्वारा पाठक दूसरे लेख में जाते हैं इसलिए कड़ीं से जुड़ा लेख कम से कम अच्छे आधार स्तर का होना चाहिए जिसमें एक संदर्भ और एक श्रेणी हो। ये न्यूनतम आवश्यकता ही है। यहाँ ज्यादातर लेखों में एक संदर्भ भी नहीं है।--आर्यावर्त (वार्ता) 10:31, 6 अप्रैल 2018 (UTC)

कछवाहा एवं नामपेन्ह लेख सुधारे गये। शिव में सन्दर्भ जोडे गये।--आशीष भटनागरवार्ता 06:48, 8 अप्रैल 2018 (UTC)
@आर्यावर्त: जी। सभी बिन्दु पूर्ण हुए। कृपया शीघ्र अन्य बिन्दु देवें, अन्यथा लेख निर्वाचन को अग्रसर है।--आशीष भटनागरवार्ता 23:48, 8 अप्रैल 2018 (UTC)

सायबॉर्ग की टिप्पणियां[संपादित करें]

  1. लेख की सबसे प्रथम पंक्ति ज्यादा ही जटिल है। यदि संभव हो, तो इसे दो या अधिक पंक्तियों में तोड़ा जाना चाहिए। Yes check.svg 
  2. भूमिका के पहले 'paragraph' की अंतिम पंक्ति "यहां की विशाल प्राचीरों, द्वारों की शृंखलाओं एवं पत्थर के बने रास्तों से भरा ये दुर्ग पहाड़ी के ठीक नीचे बने मावठा सरोवर को देखता हुआ प्रतीत होता है।" में "यहां की" हटा देने पर भी इसका मतलब स्पष्ट ही है।  Yes check.svg 
  3. नाम व्युत्पत्ति के दूसरे 'paragraph' की प्रथम पंक्ति "यहाँ कि अधिकांश लोगों की मान्यता अनुसार इसका तार्किक अर्थ अयोध्या के इक्ष्वाकु वंश के राजा विष्णुभक्त भक्त अम्बरीष के नाम से जोड़ते हैं।" वाली पंक्ति का मतलब स्पष्ट नहीं है। इसे और बेहतर ढंग से लिखा जा सकता है। इसी अनुभाग के तीसरे 'paragraph' में "वैसे टॉड एवं कन्निंघम, दोनों ने ही इसे अम्बिकेश्वर नामक शिव स्वरूप से ही इसका नाम व्युत्पन्न माना है।" एक ही पंक्ति में "इसे" और "इसका" दोनों शब्दों का प्रयोग है, जो पढ़ने में थोड़ा अटपटा सा लग रहा है।  Yes check.svg 
  4. भूगोल की प्रथम पंक्ति "आमेर यहां का एक ४ वर्ग किलोमीटर (४,३०,००,००० वर्ग फुट) कस्बा है जो राजधानी जयपुर से ११ कि.मी. (६.८३५ मील) उत्तर में स्थित है।" स्पष्ट नहीं है।  Yes check.svg  इसके अलावा अंतिम पंक्ति में "पुरातत्त्वविज्ञान एवं संग्रहालय विभाग" के हवाले से आंकड़े दिए गए हैं, परन्तु सन्दर्भ नहीं है। आउटलुक वाला सन्दर्भ यहां भी लगाया जाना चाहिए।  Yes check.svg  पहले ही लगा हुआ है - संख्या ६, शायद आपने ध्यान नहीं दिया।
  5. शिला देवी माता मंदिर अनुभाग के अंदर "इस प्रथा को १९७५ ई॰ से भारतीय संविधान की धारा के अन्तर्गत्त निषेध कर दिया गया।" इस पंक्ति में संविधान की धारा नहीं बताई गयी है। यहां "भारतीय संविधान की एक धारा के अन्तर्गत्त" का भी प्रयोग हो सकता है।  Yes check.svg  धारा सन्दर्भ जोड़े गये।
  6. इतिहास के 'अन्य कथा' अनुभाग में कई छिटपुट त्रुटियां हैं; जैसे "रामगढ़ (ढूंढाड़) में मीणों युद्ध में मात दी" या "इनके के पुत्र कांकिल देव"। इनके अतिरिक्त "तभी से आमेर कछवाहों की राजधानी बना रहा और नवनिर्मित नगर जयपुर के निर्माण तक बना रहा।" वाली पंक्ति का मतलब भी साफ नहीं है।  Yes check.svg  सुधार किया।
  7. 'प्रचलित चलचित्रों में दृश्य' अनुभाग में बाजीराव मस्तानी वाली पंक्ति निम्न (या इससे बेहतर) पंक्ति से बदली जा सकती है।
    इसका ताजा उदाहरण है २०१५ की फिल्म बाजीराव मस्तानी, जिसमें "मोहे रंग दो लाल..." नामक गीत पर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण का कत्थक नृत्य इसी दुर्ग को पृष्ठभूमि में रखकर किया गया है।  Yes check.svg 

-- सायबॉर्ग (वार्ता) 15:55, 27 मार्च 2018 (UTC)

@ArmouredCyborg: जी! आपके सुझावों एवं मूल्यवान समीक्षा का धन्यवाद। सभी सुधार सम्पन्न किये गए।--आशीष भटनागरवार्ता 18:39, 27 मार्च 2018 (UTC)

जयपुर एक प्राचीन शहर[संपादित करें]

जयपुर एक प्राचीन शहर Pankajnagawa (वार्ता) 06:10, 3 जून 2018 (UTC)

आमेर का किला अरावली पर्वत श्रृंखला पर स्थित है। इतना लिखना पर्याप्त है।[संपादित करें]

एडिट करें पूरे वाक्य को। Umeshbabbu (वार्ता) 19:58, 10 अगस्त 2018 (UTC)