वहाबी आन्दोलन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

वहाबीवाद या वहाबी आंदोलन[1] एक अतिवादी इस्लामी आंदोलन है जिसका श्रेय इमाम मुहम्मद बिन अब्दुल वहाब (1703–1792) को दिया जाता है।[2][3][4][5]दावे के अनुसार, वह बिदअतों को मिटाने तथा इस्लाम को उसके असल हालत में, जैसा कि इस्लाम के पैगंबर के समय में था, कुछ लोग उन्हें चरमपंथी मानते हैं।[2][6]वहाबियों को खुद को वहाबी कहलाना पसंद नहीं है, खुद को अहले-हदीस, सलफी या मुवह्हिद कहते हैैं।[7]दावे के अनुसार, यह आंदोलन एकेश्वरवाद के इर्द-गिर्द घूमता है।[8] अक़़िदों के सन्दर्भ में , यह आंदोलन मध्यकालीन विद्वान इब्न तैमियाह और इमाम अहमद इब्न हन्बल की शिक्षाओं पर ज्यादा जोर देता है। हन्बली उलेमा मुहम्मद इब्न अब्दुल वहाब की मान्यताओं का समर्थन करते है।हालांकि कुछ हनबली उलेमाओं ने ओटोमन प्रभाव के कारण इब्न अब्दुल वहाब के विचारों को त्याग दिया।[9] वास्तव में, मुहम्मद बिन अब्दुल वहाब न्यायशास्त्र और अक़िदों में इब्न तैमियाह से बहुत प्रभावित थे, और इब्न तैमियाह कुछ मामलों में हन्बली सोच से भिन्न थे, जिसमें उन्होंने अपनी राय और अंतर्दृष्टि के अनुसार फतवे जारी किए थे,और वह कुछ मामलों में किसी के भी अनुकरण करने वाले नहीं थे।[10] इब्न अब्दुल वहाब और आले सऊद के बीच संबंध इस अतिवादी आंदोलन के लिए लंबे समय तक चलने और उपयोगी साबित हुए। आले सऊद ने आंदोलन के साथ राजनीतिक और धार्मिक संबंधों को बनाए रखा, जिसने अगले 150 वर्षों तक सऊदी अरब में आंदोलन का पोषण किया, जो आज भी जारी है।[2][11]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Commins, David (2009). The Wahhabi Mission and Saudi Arabia. I.B.Tauris. पृ॰ ix. A derogatory term for adherents. A neutral observer could define the Wahhabi mission as the religious reform movement associated with the teachings of Muhammad ibn Abd al-Wahhab (1703–1792). He and his followers believe that they had a religious obligation to spread the call (in Arabic, da'wa) for a restoration of pure monotheistic worship.
  2. "Analysis Wahhabism". PBS Frontline. मूल से 2018-12-26 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 13 May 2014. For more than two centuries, Wahhabism has been Saudi Arabia's dominant creed. It is an austere form of Sunni Islam that insists on a literal interpretation of the Quran. Wahhabis believe that all those who don't practice their form of Islam are heathens and enemies. Critics say that Wahhabism's rigidity has led it to misinterpret and distort Islam, pointing to extremists such as Osama bin Laden and the Taliban. Wahhabism's explosive growth began in the 1970s when Saudi charities started funding Wahhabi schools (madrassas) and mosques from Islamabad to Culver City, California.
  3. "Sunni Islam". globalsecurity.org. मूल से 2018-12-26 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 18 August 2014.
  4. "Wahhabi". GlobalSecurity.org. 2005-04-27. मूल से 2005-05-07 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2008-05-10.
  5. although some Sunnis dispute whether Wahhabism is Sunni (source: http://www.sunnah.org, Wahhabism: Understanding the Roots and Role Models of Islamic Extremism, by Zubair Qamar, condensed and edited by ASFA staff)
  6. Our good name: a company's fight to defend its honor J. Phillip London, C.A.C.I., Inc – 2008, "wahhabism is considered in particular an ultra-conservative orientation".
  7. Commins, David (2009). The Wahhabi Mission and Saudi Arabia. I.B.Tauris. पृ॰ ix. Thus, the mission's devotees contend that 'Wahhabism' is a misnomer for their efforts to revive correct Islamic belief and practice. Instead of the Wahhabi label, they prefer either Salafi, one who follows the ways of the first Muslim ancestors (salaf), or muwahhid, one who professes God's unity.
  8. Esposito 2003, पृष्ठ 333
  9. "Wahhabi". ब्रिटैनिका विश्वकोष आनलाइन. मूल से 2018-12-26 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2010-12-12.
  10. अब्दुल रशीद इराकी द्वारा अहमद बिन हन्बल की जीवनी, पृष्ठ 111  – 112
  11. Glasse, Cyril (2001). The New Encyclopedia of Islam. AltaMira Press. पृ॰ 469. A sect dominant in Saudi Arabia and Qatar, at the beginning of the 19th century it gained footholds in India, Africa, and elsewhere.