पी॰ वी॰ अकिलानंदम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
जन्म:
कार्यक्षेत्र:
राष्ट्रीयता: भारतीय

पी. वी. अकिलंदम (या उपनाम अखिलन) तमिल भाषा के विख्यात साहित्यकार थे। इनके द्वारा रचित एक उपन्यास वंगइन मैंधन के लिये उन्हें सन् १९६३ में साहित्य अकादमी पुरस्कार (तमिल) से सम्मानित किया गया।[1] वे ज्ञानपीठ पुरस्कार विजेता भी थे।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "अकादमी पुरस्कार". साहित्य अकादमी. http://sahitya-akademi.gov.in/sahitya-akademi/awards/akademi%20samman_suchi_h.jsp. अभिगमन तिथि: 11 सितंबर 2016.