कर्ज़ (2002 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
कर्ज़
कर्ज़.jpg
कर्ज़ का पोस्टर
निर्देशक हैरी बवेजा
निर्माता कौशल गोधा
लेखक अनीस बज़मी (संवाद)
पटकथा अनीस बज़मी
कहानी अतुल शर्मा
अभिनेता सनी देओल,
सुनील शेट्टी,
शिल्पा शेट्टी
संगीतकार संजीव-दर्शन
प्रदर्शन तिथि(याँ) 6 दिसंबर, 2002
देश भारत
भाषा हिन्दी

कर्ज़ 2002 में बनी हिन्दी भाषा की नाट्य एक्शन फिल्म है। इसका निर्देशन हैरी बवेजा ने किया और मुख्य भूमिकाओं में सनी देओल, सुनील शेट्टी और शिल्पा शेट्टी हैं।

संक्षेप[संपादित करें]

सावित्री देवी (किरन खेर) अपने पति के साथ हंसी-खुशी जीवन बिताते रहती है। उसे ठाकुर (आशुतोष राना) के काले कारनामों का पता चलता है और वो उसके अपराधों को सभी के सामने लाने की कोशिश करते रहती है। ठाकुर को जब इस बारे में पता चलता है तो वो उसके साथ बलात्कार करता है, जिससे वो गर्भवती हो जाती है। वो गर्भपात करना चाहते रहती है, लेकिन उसमें अड़चन आ जाती है, जिससे उसे बच्चे को जन्म देना ही पड़ता है। वो उसे अपने पास तो रखती है, लेकिन उससे प्यार नहीं करती है। वो अपने छोटे बेटे, राजा को ही प्यार करती है। वो जल्द ही शहर छोड़ कर चले जाती है और उस बच्चे कोई कोई और गोद ले लेता है। पुलिस के रिकॉर्ड के अनुसार योगराज मर चुका है।

वो बच्चा बड़ा हो कर पुलिस इंस्पेक्टर सूरज (सनी देओल) बन जाता है। उसकी मुलाक़ात उसके छोटे भाई, राजा (सुनील शेट्टी) से होती है। कई सारे गलतफहमियों के बाद वे दोनों दोस्त बन जाते हैं। राजा अपनी माँ, सावित्री को अपने नए दोस्त से मिलाता है और उसकी माँ उसका स्वागत करती है।

सूरज को सपना से प्यार होता है, पर उसे पता चलता है कि राजा को भी सपना से प्यार है। इस कारण वो अपने प्यार को भूल जाने का फैसला करता है। सावित्री एक दिन राजनेता, युवराज से मिलती है और उसे एक अपराधी, ठाकुर बोलने लगती है। युवराज अपने आप को ठाकुर या उससे जुड़ा होने से साफ साफ इंकार कर देता है। सूरज को ये देख कर हैरानी होती है कि सावित्री उस पर आरोप क्यों लगा रही है। वो इस बारे में आगे जाँच पड़ताल करता है, जिससे उसे उसकी जन्म देने वाली माँ, और पिता का पता चलता है। उसे ये भी पता चलता है कि उसकी माँ उसे क्यों ठुकरा दिया था।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी गीत समीर द्वारा लिखित; सारा संगीत संजीव-दर्शन द्वारा रचित।

क्र॰शीर्षकगायकअवधि
1."शाम भी खूब है"उदित नारायण, कुमार सानु, अलका याज्ञिक5:06
2."मेरी महबूबा है तू"अभिजीत, कुमार सानु6:06
3."सो गई ये जमीन"अनुराधा पौडवाल6:44
4."सो गई है जमीन"कुमार सानु2:42
5."झूम झूम ना"सुखविंदर सिंह, हेमा सरदेसाई6:07
6."मोहब्बत हुई है"कुमार सानु, कविता कृष्णमूर्ति6:07
7."आशिकी बन के"अदनान सामी, कविता कृष्णमूर्ति4:17

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]