उत्तराखण्ड के नगर निगमों की सूची

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

नगर निगम उत्तराखण्ड राज्य के नगरों की स्थानीय शासी निकाय हैं। इस भारतीय राज्य में ८ नगर निगम हैं। २००३ में बना देहरादून नगर निगम राज्य का सबसे बड़ा और पुराना नगर निगम है। वर्ष २०११ में हरिद्वार और हल्द्वानी नगरपालिकाओं को नगर निगम बनाने के बाद राज्य सरकार ने २०१३ में रुद्रपुर, काशीपुर और रुड़की को, और फिर २०१७ में ऋषिकेश और कोटद्वार की नगरपालिकाओं को भी नगर निगम का दर्ज़ा दे दिया।

नगर निगमों की सूची[संपादित करें]

नगर निगम नगर स्थापना नगर निगम वार्डों की संख्या जनसंख्या (२०११) महापौर
देहरादून नगर निगम देहरादून १८६७ २००३ १०० ५,७८,४२० विनोद चमोली (भाजपा)
हल्द्वानी नगर निगम हल्द्वानी, काठगोदाम १९४२ २०११ ८० ३,५६,०६० जोगिन्दर रौतेला (भाजपा)-
हरिद्वार नगर निगम हरिद्वार १८६८ २०११ ८० २,२५,२३५ मनोज गर्ग (भाजपा)
रुद्रपुर नगर निगम रुद्रपुर २०१३ ६० १,४०,८८४ सोनी कोली (भाजपा)
काशीपुर नगर निगम काशीपुर १८७२ २०१३ ४० १,२१,६१० उषा चौधरी (निर्दलीय)
रुड़की नगर निगम रुड़की १८६८ २०१३ ४० १,१८,१८८ यशपाल राणा (निर्दलीय)
ऋषिकेश नगर निगम ऋषिकेश २०१७ ७०,४९९
कोटद्वार नगर निगम कोटद्वार १९५१ २०१७ ३३,०३५

मानचित्र[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  • "उत्तराखंड राज्य में स्थित नगर निगमों/नगर पालिका परिषदों/नगर पंचायतों की सूची" (PDF). उत्तराखण्ड सरकार. २० जुलाई २०१४. अभिगमन तिथि 26 सितम्बर 2017.