सेब

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
लाल सेब
सेब, छिलके सहित (खाद्य भाग)
पोषक मूल्य प्रति 100 ग्रा.(3.5 ओंस)
उर्जा 50 किलो कैलोरी   220 kJ
कार्बोहाइड्रेट     13.81 g
- शर्करा 10.39 g
- आहारीय रेशा  2.4 g  
वसा 0.17 g
प्रोटीन 0.26 g
विटामिन A equiv.  3 μg  0%
थायमीन (विट. B1)  0.017 mg   1%
राइबोफ्लेविन (विट. B2)  0.026 mg   2%
नायसिन (विट. B3)  0.091 mg   1%
पैंटोथैनिक अम्ल (B5)  0.061 mg  1%
विटामिन B6  0.041 mg 3%
फोलेट (Vit. B9)  3 μg  1%
विटामिन C  4.6 mg 8%
कैल्शियम  6 mg 1%
लोहतत्व  0.12 mg 1%
मैगनीशियम  5 mg 1% 
फॉस्फोरस  11 mg 2%
पोटेशियम  107 mg   2%
जस्ता  0.04 mg 0%
प्रतिशत एक वयस्क हेतु अमेरिकी
सिफारिशों के सापेक्ष हैं.
स्रोत: USDA Nutrient database

सेब एक फल है। सेब का रंग लाल या हरा होता है। वैज्ञानिक भाषा में इसे मलुस डोमेस्टिका (Malus domestica) कहते हैं। इसका मुख्यतः स्थान मध्य एशिया है। इसके अलावा बाद में यह यूरोप में भी उगाया जाने लगा। यह हजारों वर्षों से एशिया और यूरोप में उगाया जाता रहा है। इसे एशिया और यूरोप से उत्तरी अमेरिका बेचा जाता है। इसका ग्रीक और यूरोप में धार्मिक महत्व है।

व्युत्पत्ति[संपादित करें]

यह भारत के उत्तरी प्रदेश हिमाचल मेँ पैदा होता है, इसमे विटामिन होते हैं।

इतिहास[संपादित करें]

इसके बारे में पता लगाने का श्रेय सिकंदर महान को दिया जाता है। वह मध्य एशिया में जब आया तब उसने इस फल के बारे में जाना और उसी के कारण यूरोप में भी सेब के कई प्रजातियाँ मौजूद है।[1]

सांस्कृतिक पहलू[संपादित करें]

युरोपीय बुतपरस्ती[संपादित करें]

नॉर्स, इंग्लैंड में इस फल को देवताओं द्वारा दिया गया उपहार मानते हैं। यह इंग्लैंड में जर्मन लोगों के शुरुआती समय में बने कब्र में पाया गया। जो एक प्रतीक के रूप में बनाया जाता था।

खेती व प्रयोग[संपादित करें]

उत्पात व खपत[संपादित करें]

अन्य फल[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]