सुमन पोखरेल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सुमन पोखरेल
Poet Suman Pokhrel (46620566942).jpg
सुमन पोखरेल
जन्मसुमन पोखरेल
21 सितम्बर 1967 (1967-09-21) (आयु 51)
मिल्स एरिया विराटनगर, नेपाल
व्यवसायकवि, लेखक, नाटककार, अनुवादक
भाषानेपाली, हिंदी, अंग्रेजी
राष्ट्रीयतानेपाल नेपाली
विषयकविता, नाटक, अनुवाद
उल्लेखनीय कार्यsजीवनको छेउबाट, याज्ञसेनी
उल्लेखनीय सम्मानसार्क साहित्य एवार्ड (२०१३)
सार्क साहित्य एवार्ड (२०१५)
जीवनसाथीगोमा ढुंगेल
सन्तानओजस्वी पोखरेल, अजेश पोखरेल


सुमन पोखरेल (जन्म २१ सितम्बर, १९६७) नेपाली कवि, गीतकार, अनुवादक तथा कलाकार हैं। [1][2][3] उनकी रचनाएँ अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर अनूदित एवम् प्रकाशित हैं। [4][5]

मौलिक रचना तथा अनुवाद के माध्यम से साहित्य के क्षेत्र उनके योगदान के लिए उन्हे सन् २०१३ और २०१५ का सार्क साहित्य पुरस्कार प्रदान किया गया। [6]

प्रारम्भिक जीवन[संपादित करें]

सुमन पोखरेल का जन्म २१ सितम्बर सन् १९६७ में मिल्स एरिया, विराटनगर, नेपाल में पिता मुकुन्दप्रसाद पोखरेल तथा माता भक्तादेवी के कोख से हुवा था। [7]

पोखरेल का पुस्तैनी गावं कचिडे का एक दृष्य

कवि सुमन पोखरेल पाँच साल की उम्र तक विराटनगर की बाल मन्दिर में प्रारम्भिक बालविकास के लिए दाखिला किए गए। सात साल की उम्र से वो अपने पुस्तैनी गावँ धनकुटा जिले का कचिडे मे अपनी दादीमाँ के साथ रहे। उनके दादा विद्यानाथ पोखरेल एक कवि तथा राजनीतिज्ञ होने के नाते नेपाली, हिन्दी और पौराणिक संस्कृत साहित्य से भरपुर दादाजी का पुस्तकालय के कारण वो छोटी सी उम्र से ही साहित्य से परिचित हुए। बाह्र साल की उम्र में वो फिर विराटनगर लौटकर अपने मातापिता के साथ रहने लगे। उनके मातापिता दोने अत्यन्त अध्ययनशिल होने के कारण पोखरेल को घर की वातावरण ने ही अध्ययन और साहित्य की तरफ आकर्षित किया। [8]

वर्ष २०१३ का सार्क साहित्य एवार्ड ग्रहण करते हुए सुमन पोखरेल
वर्ष २०१५ का सार्क साहित्य एवार्ड के अन्य विजेताओं के साथ सुमन पोखरेल

शिक्षा[संपादित करें]

पोखरेल ने त्रिभुवन विश्वविद्यालय, नेपाल से बी.एस्सी., एम.बी.ए. और बी.एल] की उपाधी हासिल किया है।

कार्य जीवन[संपादित करें]

सन् १९९५ मे शाखा अधिकृत के रूप में नेपाल सरकार की निजामती सेवा में प्रवेश किए हुए पोखरेल ने सेवा त्याग कर के सन् १९९८ मे एक विकासकर्मी के रुपमा अन्तर्राष्ट्रीय संस्था प्लान इन्टरनेशनल से सम्बद्ध हो के कार्य करना शुरू किया। :

लेखनशैली[संपादित करें]


'कविता में मानव प्रेम का उत्कर्ष होना चाहिए, कविता को अभिव्यक्ति का उच्चतम माध्यम बनना चाहिए, कविता स्वतन्त्रता के लिए लिखा जाना चाहिए। कविता न्याय, प्रेम और जीवन के लिए लिखा होना चाहिए' कहने वाले विचार के धनी सुमन पोखरेल की सिर्जना में शालिनता एक वैशिष्ठ्य है। वो शिल्प और कथ्य दोनो प्रकार से व्यक्ति वा समाज की पीडा को पारदर्शी ढंग से प्रस्तुत करते हुए समाज को सुख, शान्ति एवम् आनन्द की अनुभूति कराते हैं। [9]

कवि पोखरेल पुराने मान्यताओं को तोडकर नये मान्यताओं को स्थापित करने वाले कवि के रूप में जाने जाते हैं। उनकी 'ताजमहल र मेरो प्रेम' (ताजमहल और मेरा प्रेम) शीर्षक की कविता इसका एक सशक्त दृष्टान्त है। [10]

क्षितिज का रंग
-सुमन पोखरेल

हर सुबह के उपर कुछ पल खडे हो कर
हर साम के पास कुछ देर रूक कर
खुद को भूल देख रहे हैं मेरी नजरेँ
रोशनी के साथ साथ समेट रहेँ है मेरी पलकेँ,
क्षिति के अन्तिम किनारे पे टकराकर रंगे हुए आकाश को।

सोच रहा हूँ;
यह रक्तता
एक दुसरे से जुदा हो के विपरित रास्ते को चले युगल के
टुटे हुए हृदय का रंग है, या
वियोग की अंधेरी मौषम के बाद जुडे हुए दिलों मे खिले हुए
मिलन की रक्तिम रोशनी !

दिन को खोलनेवाले फाटक और बन्द करनेवाले दरवाजे पे बिखरे हुए
इन्ही लालिमाओँ को देखते देखते
आधा जीवन रंग ही रंग से भिग चुका, मगर
समझ न पाया
कि
यह धर्ती और आकाश
साम को जुदा हो के सुबह को मिलते हैं
या
सुबह को बिछुड्कर साम को मिला करते हैँ!

(कवि स्वयम् द्वारा अनुदित)

मुख्य कृतियाँ[संपादित करें]

कवितासंग्रहः[संपादित करें]

गीतसंग्रह[संपादित करें]

अनुवाद[संपादित करें]

कविताएँ[संपादित करें]

नाटक[संपादित करें]

संस्मरण[संपादित करें]

  • "फिरन्ता" अजित कौर की आत्मकथा खानाबदोश का एक खण्ड 'वान जिरो वान' का नेपाली अनुवाद [27]

कहानियाँ[संपादित करें]

पुरस्कार तथा सम्मान[संपादित करें]

  • सार्क लिटरेरी अवार्ड २०१५, फाउन्डेशन अब् सार्क राइटर्स एन्ड लिटरेचर [6]
  • सार्क लिटरेरी अवार्ड २०१३, फाउन्डेशन अब् सार्क राइटर्स एन्ड लिटरेचर [6]
  • परिकल्पना सम्मान, २०१३, परिकल्पना समय, भारत [31]
  • जयेन्द्र वर्ष का उत्कृष्ट पुस्तक अवार्ड, जयेन्द्र प्रसाई एकाडेमी २०१०.[32]

ग्यालरी[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Suman Pokhrel". Foundationsaarcwriters.com. अभिगमन तिथि 25 मई 2014.
  2. Ed. K. Satchidanandna and Ajeet Cour: SONGS WE SHARE, Poetry Across Borders". नई दिल्ली: ERA, 2011. p. 88, 179, 255. ISBN 8188703214
  3. The Songs We Share
  4. name="satchidanandna88"> Ed. K. Satchidanandna and Ajeet Cour: SONGS WE SHARE, Poetry Across Borders". नई दिल्ली: ERA, 2011. p. 88, 179, 255. ISBN 8188703214</
  5. Art of Being Human, An Anthology of International Poetry - Volume 9 p.144, 145, Canada Editors- Daniela Voicu & Brian Wrixon, ISBN 9781927682777
  6. http://en.wikipedia.org/wiki/SAARC_Literary_Award
  7. http://en.wikipedia.org/wiki/Suman_Pokhrel
  8. fhttp://en.wikipedia.org/wiki/Suman_Pokhrel
  9. Dadhiraj Subedi, "नेपाली साहित्यका मुस्कानहरू (The Smiles of Nepali Literature)"- 2013, Purwanchal Sahitya Academy, Biratnagar - ISBN 978 9937248266
  10. Article "Suman Ek Suwas Aanek" by Gandakiputra, Nagarik National Daily, Friday 26 April 2013
  11. "Madan Puraskar Pustakalaya". Madanpuraskar.org. अभिगमन तिथि 25 मई 2014.
  12. "Madan Puraskar Pustakalaya". Madanpuraskar.org. अभिगमन तिथि 25 मई 2014.
  13. "Publication2" (PDF). अभिगमन तिथि 27 मई 2014.
  14. "Madan Puraskar Pustakalaya". Madanpuraskar.org. अभिगमन तिथि 25 मई 2014.
  15. "Hazaar Aankhaa Yee Aankhaamaa-Internal Pages_Final.pub" (PDF). अभिगमन तिथि 27 मई 2014.
  16. त्रिपाठी, गीता (२०७५). "अनुवादमा 'मनपरेका केही कविता'". नेपाली कलासाहित्य डट कम प्रतिष्ठान. पृ॰ 358-359. |year=, |date=, |year= / |date= mismatch में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद); गायब अथवा खाली |url= (मदद)
  17. "अनूदित कवितासङ्ग्रह 'मनपरेका केही कविता' सार्वजनिक". ammarwani.com. ८ बैशाख २0७५ , शनिबार. अभिगमन तिथि 5 जून 2018. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  18. नेरुदा, पाव्लो (बैशाख ६, २०७५). "विश्वसाहित्य : तिम्रा गोडा (कविता)". nepallive.com. अभिगमन तिथि 5 जून 2018. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  19. "'मनपरेका केही कविता' मा १५ विदेशी कविका सिर्जना". nepallive.com. बैशाख ८, २०७५. अभिगमन तिथि 6 जून 2018. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  20. बसन्त, मीनराज (८ बैशाख २०७५, शनिबार). "कविता लेखकसँग होइन, पाठकसँग सम्बन्धित छ: सुमन पोखरेल". farakdhar.com. अभिगमन तिथि 6 जून 2018. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  21. "'मनपरेका केही कविता' बजारमा". samachardainik.com. सौर्य दैनिक. ०९ बैशाख २०७५. अभिगमन तिथि 6 जून 2018. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  22. तारकिणी, राजेन्द्र (21 April, 2018). "'मनपरेका केही कविता' उत्कृष्ट अनुदित संग्रह भएको दाबी". news24nepal.tv. अभिगमन तिथि 6 जून 2018. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  23. "'मनपरेका केही कविता' बजारमा". thahakhabar.com. बैशाख ८, २०७५. अभिगमन तिथि 6 जून 2018. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  24. - (11 August 2015). "गुलजार / चिहाउँछन्‌ किताबहरू" [The Books Peep]. goodreads.com (नेपाली में). Suman Pokhrel द्वारा अनूदित. अभिगमन तिथि 10 अगस्त 2017.
  25. "साहिर लुधियानवी / ताजमहल" [The Tajmahal]. goodreads.com (नेपाली में). Suman Pokhrel द्वारा अनूदित. 20 August 2011. अभिगमन तिथि 10 अगस्त 2017.
  26. "सुमन पोखरेल :: कविताकोश". कविताकोश. अभिगमन तिथि 10 अगस्त 2017.
  27. विराटआवाज, भदौ २०६९ सं. खेम नेपाली
  28. "बोतलको पानी". sahityasangraha.com. अप्रैल 29, 2018. अभिगमन तिथि 2018-5-21. |accessdate= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  29. दाँगी, इन्दिरा (०८ बैशाख २०७५). "दाहिने आँखो (मूल हिन्दी से सुमन पोखरेल द्वारा अनुदित)". annapurnapost.com. Suman Pokhrel द्वारा अनूदित. अन्नपूर्ण पोष्ट. अभिगमन तिथि 21 मई 2018. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  30. दाँगी, इन्दिरा (२५ मङि्सर २०७३). "बोतलको पानी (मूल हिन्दी से सुमन पोखरेल द्वारा अनुदित)". annapurnapost.com. सुमन पोखरेल द्वारा अनूदित. अन्नपूर्ण पोष्ट. अभिगमन तिथि 21 मई 2018. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  31. https://hi.wikipedia.org/wiki/परिकल्पना_सम्मान
  32. "जयेन्द्र प्रसाई साहित्य पुरस्कार कवि पोखरेललाई". Pratinidhibelgium.com. 6 सितंबर 2010. अभिगमन तिथि 25 मई 2014.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]