"शिक्षक दिवस" के अवतरणों में अंतर

Jump to navigation Jump to search
2,608 बैट्स् नीकाले गए ,  10 माह पहले
Praxidicae (वार्ता) द्वारा सम्पादित संस्करण 4301801 पर पूर्ववत किया। (ट्विंकल)
(भारत के भूतपूर्व राष्ट्रपति डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर 1888 में हुआ था उनका जन्म दक्षिण भारत के तिरुनती शहर में हुआ था बचपन में पढने में रुचि रखने वाले राधाकृष्णन को 27 बार नोबल पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था।)
टैग: मोबाइल संपादन मोबाइल वेब सम्पादन यथादृश्य संपादिका
(Praxidicae (वार्ता) द्वारा सम्पादित संस्करण 4301801 पर पूर्ववत किया। (ट्विंकल))
टैग: किए हुए कार्य को पूर्ववत करना
विश्व के कुछ देशों में शिक्षकों (गुरुओं) को विशेष सम्मान देने के लिये '''[https://www.bharatsanket.co.in/2019/09/Teachers-Day.html?m=1 शिक्षक दिवस]''' का आयोजन होता है। कुछ देशों में छुट्टी रहती है जबकि कुछ देश इस दिन कार्य करते हुए मनाते हैं।
 
[[भारत]] के भूतपूर्व [[राष्ट्रपति]] डॉ [[सर्वपल्ली राधाकृष्णन]] का जन्मदिन (५ सितंबर) भारत में '''[https://www.bharatsanket.co.in/2019/09/Teachers-Day.html?m=1 शिक्षक दिवस]''' के रूप में मनाया जाजाता है।
 
 
[[भारत]] के भूतपूर्व [[राष्ट्रपति]] डॉ [[सर्वपल्ली राधाकृष्णन]] का जन्मदिन (५ सितंबर) भारत में '''[https://www.bharatsanket.co.in/2019/09/Teachers-Day.html?m=1 शिक्षक दिवस]''' के रूप में मनाया जा
== देश और उनके शिक्षक दिवस ==
{|class="wikitable"
 
[[श्रेणी:प्रमुख दिवस]]
 
शिक्षक दिवस पर भाषण 1:
सभी शिक्षक, शिक्षिकाएं और मेरे दोस्तो को मेरा
प्रणाम
आज शिक्षक दिवस है और हम सब यहां इस दिन को सेलिब्रेट करने के लिए उपस्थित हुए हैं। शिक्षकों और छात्रों के लिए यह दिन बहुत महत्वपूर्ण होता है। इस दिन हर छात्र अपने शिक्षक का शुक्रिया अदा करता है। हर साल 5 सितंबर को शिक्षक दिवस मना कर हम अपने शिक्षकों को सम्मान देते हैं। शिक्षक हमारे भविष्य का निर्माण करते हैं। हम बच्चे देश का भविष्य हैं शिक्षक हमारा मार्ग दर्शन कर के हमें आदर्श नागरिक बनाने की महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
 
शिक्षक वह दीपक है जो हमारे अंदर ज्ञान का उजाला भरते हैं। एक शिक्षक अपना पूरा जीवन हमें ज्ञान और सही रास्ता दिखने में लगा देते हैं। महान कवि कबीरदास जी ने भी कहा है कि यदि शिक्षक और भगवान दोनों सामने हों तो हमें पहले शिक्षक का चरण स्पर्श करना चाहिए क्योंकि एक शिक्षक ही हमें ज्ञान दे कर भगवान तक पहुंचने का रास्ता दिखाता है। शिक्षक बिना किसी भेद- भाव के सभी छात्रों को शिक्षा प्रदान करते हैं। टीचर्स डे सभी छात्रों के लिए बहुत महत्व रखता है।
 
धन्यवाद(पंकज राज नरहन)

दिक्चालन सूची