रिश्ते (फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(रिश्ते (2002 फ़िल्म) से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search
रिश्ते
रिश्ते.jpg
रिश्ते का पोस्टर
निर्देशक इन्द्र कुमार
निर्माता इन्द्र कुमार
अशोक ठकेरिया
अभिनेता अनिल कपूर,
करिश्मा कपूर,
शिल्पा शेट्टी,
सदाशिव अमरापुरकर,
अमरीश पुरी
संगीतकार संजीव दर्शन
प्रदर्शन तिथि(याँ) 6 दिसम्बर, 2002
देश भारत
भाषा हिन्दी

रिश्ते 2002 की इन्द्र कुमार द्वारा निर्देशित हिन्दी भाषा की फिल्म है। इस फिल्म में अनिल कपूर, करिश्मा कपूर, शिल्पा शेट्टी और अमरीश पुरी प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

संक्षेप[संपादित करें]

सूरज सिंह (अनिल कपूर), निचले-मध्यम वर्ग का शौकिया मुक्केबाज़ है जो सुंदर और अमीर कोमल (करिश्मा कपूर) से प्यार करता है। वे एक साथ भविष्य का सपना देखते हैं, लेकिन कोमल के पिता यशपाल चौधरी (अमरीश पुरी) सूरज की सामाजिक और आर्थिक स्थिति के कारण सहमत नहीं हैं। कोमल अपने पिता के साथ सभी संबंधों में कटौती करती है और सूरज से शादी करने का विकल्प चुनती है। वह जल्द ही गर्भवती हो जाती है। कोमल और उसके पिता किसी शादी में मिलते हैं और वे मेल मिलाप करते हैं। यशपाल जोड़े के घर पर सूरज से मिलने के लिए सहमत होते हैं। जब वे पहुंचते हैं, तो वे कोमल के गाउन पहने हुए अंदर एक महिला (दीपशिखा) को देखते हैं। सूरज दावा करता है कि वह उसे नहीं जानता है, जबकि महिला कहती है कि वह सूरज की रखैल है। सूरज अपनी मासूमियत साबित करने की कोशिश करता है लेकिन कोमल समय से पहले प्रसव-वेदना में जाती है और एक बच्चे को जन्म देती है। यशपाल को डर है कि बच्चा कोमल और सूरज के बीच एक स्थायी जोड़ बन जाएगा, इसलिए वह बच्चे को मारने की इच्छा रखता है। सूरज गुंडों को पराजित करता है और अपने बेटे को ले जाता है। यशपाल कोमल को झूठ बोलता है कि सूरज ने बच्चे का अपहरण कर लिया है।

सूरज एक अज्ञात जगह पर चला जाता है जहां उसने कई कठोर श्रमिक नौकरियों को लेकर अपने बेटे करण को पाला। समय के साथ, पिता और पुत्र में एक मजबूत रिश्ता पैदा होता है और सूरज सभी को बताता है कि करण की मां मर चुकी है। एक दिन सूरज वैजंति (शिल्पा शेट्टी) से मिलता है जो एक विचित्र और जीवंत मछुआरी है। वह उससे साथ प्यार करती है। वह इस उम्मीद में कई अलग-अलग चीजों की कोशिश करती है कि सूरज उसके साथ प्यार में पड़ जाएगा, लेकिन इसका कोई फायदा नहीं होता। वैजंति सूरज के लिए करवा चौथ का उपवास रखती है। उग्र सूरज उसे बताता है कि उसकी पत्नी अभी भी जिंदा है और वह अभी भी उससे प्यार करता है। वैजंति का दिल टूट जाता है लेकिन फिर भी उसके साथ दोस्ती बरकरार रखती है।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

सभी संजीव-दर्शन द्वारा संगीतबद्ध।

क्र॰शीर्षकगीतकारगायकअवधि
1."हर तरफ तू ही"अब्बास काटकाशान, महालक्ष्मी अय्यर5:38
2."रिश्ता तेरा रिश्ता मेरा"अब्बास काटकाउदित नारायण5:24
3."अपना बनाना है"अब्बास काटकाउदित नारायण, अनुराधा पौडवाल4:10
4."दीवाना दीवाना" (पुरुष)अब्बास काटकाउदित नारायण4:11
5."दीवाना दीवाना" (महिला)अब्बास काटकासुनिधी चौहान4:11
6."दिलबर दिलबर"अब्बास काटकाआशा भोंसले3:48
7."तू तू दिल में"अब्बास काटकाउदित नारायण, अनुराधा पौडवाल5:06
8."अपुन को बस"सुमितसुनिधी चौहान, संजीव राठोड4:04
9."रिश्ता तेरा रिश्ता मेरा" (महिला)अब्बास काटकानेहा1:45
10."रिश्ता तेरा रिश्ता मेरा" (पुरुष)अब्बास काटकाउदित नारायण1:54
11."यारा रे याारा रे"अब्बास काटकाकविता कृष्णमूर्ति, सोनू निगम4:20

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]