प्रतिप्रोटोन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
प्रतिप्रोटोन
Quark structure antiproton.svg
प्रतिप्रोटोन की क्वार्क संरचना
वर्गीकरण प्रतिबरिऑन
संघटन 2 अप प्रतिक्वार्क, 1 डाउन प्रतिकवर्क
सांख्यिकी फर्मीऑनीय
अन्योन्य क्रिया प्रबल, दुर्बल, विद्युत-चुम्बकीय, गुरुत्वाकर्षण
स्थिति खोजा जा चुका है।
प्रतिक p
कण प्रोटॉन
आविष्कार एमिलियो जी सेग्रे & ओवेन चेम्बेर्लैन (1955)
द्रव्यमान 938 MeV/c2
विद्युत आवेश −1 e
प्रचक्रण 12
समभारिक प्रचक्रण 12

प्रतिप्रोटोन, प्रोटॉन का प्रतिकण है। जिसे कभी-कभी (p, उच्चारण पी-बार) प्रोटॉन के प्रतिकण के रूप में जाना जाता है। प्रतिप्रोटोन स्थयी कण है लेकिन आम तौर पर किसी प्रोटॉन के साथ इसका विलोपन हो जाता है और निर्गत रूप में ऊर्जा प्राप्त होती है।

प्रकृति में स्रोत[संपादित करें]

आधुनिक प्रयोग और अनुप्रयोग[संपादित करें]

ये भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]