प्रचक्रण (भौतिकी)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

क्वांटम यांत्रिकी और कण भौतिकी में प्रचक्रण अथवा स्पिन मूलकणों, संयुक्त कणों (हैड्रॉन) और परमाण्विय नाभिक के कोणीय संवेग का एक नैज प्रारूप है।[1][2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Merzbacher, Eugen (1998). Quantum Mechanics (3rd संस्करण). पपृ॰ 372–3.
  2. Griffiths, David (2005). Introduction to Quantum Mechanics (दूसरा संस्करण). पपृ॰ 183–4.