पांचु

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बीकानेर से ३६ मील दूर दक्षिण में बसा यह गांव ऐतिहासिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है। यहां राव बीका के तीसरे चाचा ऊधा रिणमलोत के दो पुत्रों पंचायण तथा सांगा की देवलियां हैं, जो क्रमश: १५११ और १५२४ ई० की हैं। अनुमानत: पंचायण ने यह गांव बसाया था और उसी के नाम से इसकी प्रसिद्धि है।