गोविन्दा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
गोविन्दा
Govinda snapped at trailer launch of the film Fry Day.jpg
गोविन्दा २०१८ में

पद बहाल
2004–2009
पूर्वा धिकारी राम नायक
उत्तरा धिकारी संजय निरूपम
चुनाव-क्षेत्र मुंबई

जन्म 21 दिसम्बर 1963 (1963-12-21) (आयु 55)[1][2][3]
बॉम्बे (वर्तमान में मुंबई), महाराष्ट्र, भारत
जन्म का नाम गोविन्दा आहूजा
नागरिकता भारतीय
राजनीतिक दल भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
जीवन संगी सुनीता आहूजा (वि॰ 1987)
बच्चे टीना आहूजा

यशवर्धन आहूजा[4]

निवास जूहू, मुंबई, भारत
पेशा अभिनेता, निर्माता, राजनीतिज्ञ, नर्तक
सक्रिय वर्ष 1986–वर्तमान
उपनाम ची ची, हीरो नंबर 1 [5]

गोविन्दा आहूजा (जन्म २१ दिसंबर १९६३), जिन्हें गोविन्दा के नाम से जाना जाता है, एक भारतीय फिल्म अभिनेता, नर्तक और पूर्व राजनेता हैं जिन्होंने कई सारी हिन्दी फिल्मों में अभिनय किया है। अपने नृत्य कौशल के लिए जाने जाने वाले, गोविन्दा बारह फिल्मफेयर पुरस्कार में नामांकन, एक फिल्मफेयर विशेष पुरस्कार, सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेता का फिल्मफेयर पुरस्कार और चार ज़ी सिने पुरस्कार के प्राप्तकर्ता हैं। अभिनेता २००४ से २००९ तक भारतीय संसद के सदस्य थे। गोविंदा की पहली फिल्म १९८६ में बनी इल्जाम थी, और उन्होंने अब तक १६५ से भी अधिक हिंदी फिल्मों में अभिनय किया है। वे तेलुगु अभिनेताओं के लिए प्रेरणा के प्रमुख स्रोत रहे हैं और उनकी अभिनय और नृत्य शैली का आज तक तेलुगु फिल्म उद्योग में अनुसरण किया जाता है। जून १९९९ में, बीबीसी न्यूज़ द्वारा ऑनलाइन पोल में उन्हें दसवां सबसे बड़ा स्टार चुना गया था।

१९८० के दशक के दौरान, गोविन्दा ने एक एक्शन और डांसिंग हीरो के रूप में शुरुआत की और ९० के दशक में एक कॉमेडी हीरो के रूप में खुद को फिर से स्थापित किया। उनकी लव ८६, इल्जाम, हत्या, जीते हैं शान से और हम फिल्मों ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छा नाम कमाया था। १९९२ की रोमांस फिल्म शोला और शबनम में शरारती युवा एनसीसी कैडेट की भूमिका निभाने के बाद उन्हें १९९० के दशक में एक कॉमिक अभिनेता के रूप में पहचान मिली। गोविन्दा ने कई व्यावसायिक रूप से सफल कॉमेडी फिल्मों में मुख्य भूमिकाएँ निभाईं, जिनमें आंखें (१९९३), राजा बाबू (१९९४), कुली नंबर वन (१९९५), आंदोलन (१९९५), हीरो नं॰ 1 (१९९७), दीवाना मस्ताना (१९९७), दूल्हे राजा (१९९८), बड़े मियाँ छोटे मियाँ (१९९८), अनाड़ी नंबर 1 (१९९९) और जोड़ी नम्बर वन (२००१) शामिल है। उन्हें हसीना मान जायेगी के लिए फिल्मफेयर बेस्ट कॉमेडियन अवार्ड और साजन चले ससुराल के लिए फिल्मफेयर स्पेशल अवार्ड मिला। उन्होंने हद कर दी आपने (२०००) में छह भूमिकाएँ निभाईं: राजू और उसकी माँ, पिता, बहन, दादी और दादा की।

२००० के दशक में कई असफल फिल्मों के बाद वो भागम भाग (२००६), पार्टनर (२००७), लाइफ पार्टनर (२००९), और हॉलिडे (२०१४) सफल फिल्मों में नजर आए। २०१५ में गोविन्दा ज़ी टीवी के डांस-कॉन्टेस्ट प्रोग्राम, डांस इंडिया डांस सुपर मॉम सीजन २ में जज बने। इस शो को किसी भी अन्य रियलिटी-शो से ज्यादा टीआरपी मिली।

गोविन्दा भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस से २००४ के १४ वें लोकसभा चुनाव में भारत के मुंबई उत्तर निर्वाचन क्षेत्र के लिए संसद के सातवें सदस्य चुने गए, जहां उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के राम नाइक को हराया था।

प्रमुख फिल्में[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. K. Jha, Subhash (21 December 2013). "Govinda turns 50". बॉलीवुड हंगामा. अभिगमन तिथि 21 April 2016.
  2. "Birthday special quiz: How well do you know Govinda?". मिड डे. 21 December 2015. अभिगमन तिथि 21 April 2016.
  3. Sharma, Dhriti (21 December 2014). "'Hero No 1' Govinda turns 51!". ज़ी न्यूज. अभिगमन तिथि 21 April 2016.
  4. Lohana, Avinash (28 January 2017) Govinda's son Yashvardhan preparing to enter Bollywood. Times of India.
  5. "20 Bollywood Stars and their nick names revealed". Cosmopolitian. मूल से 30 July 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 15 July 2017. नामालूम प्राचल |url-status= की उपेक्षा की गयी (मदद)

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]