परिवहन की विधि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

परिवहन की विधि (या परिवहन के साधन या परिवहन प्रणाली या परिवहन का तरीका या परिवहन के रूप ) वह शब्द हैं जो वस्तुत: परिवहन के अलग-अलग तरीकों के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं. सबसे प्रमुख परिवहन के साधन हैं हवाई परिवहन, रेल परिवहन सड़क परिवहन और जल परिवहन, लेकिन अन्य तरीके भी उपलब्ध हैं जिनमें पाइप लाइन, केबल परिवहन, अंतरिक्ष परिवहन और ऑफ-रोड परिवहन भी शामिल हैं. मानव संचालित परिवहन और पशु चालित परिवहन अपने तरीके का परिवहन है, लेकिन यह सामान्य रूप से अन्य श्रेणियों में आते हैं. सभी परिवहन में कुछ माल परिवहन के लिए उपयुक्त हैं और कुछ लोगों के परिवहन के लिए उपयुक्त हैं.

प्रत्येक परिवहन की विधि को मौलिक रूप से विभिन्न तकनीकी समाधान और कुछ अलग वातावरण की आवश्यकता होती है. प्रत्येक विधी की अपनी बुनियादी सुविधाएं, वाहन, कार्य और अक्सर विभिन्न विनियमन हैं. जो परिवहन एक से अधिक मोड का उपयोग करते हैं उन्हें इंटरमोडल के रूप में वर्णित किया जा सकता है.

हवाई[संपादित करें]

एक एयर फ्रांस एयरबस A318 लंदन हीथ्रो हवाई अड्डे पर उतरती हुई

एक निर्दिष्ट-विंग विमान जिसे सामान्यतः हवाई जहाज कहा जाता है, जो एयर क्राफ्ट से अधिक भारी होता है जो अपने पंखों के सहारे ऊपर हवा में उड़ते हैं. यह शब्द रोटरी-विंग एयरक्राफ्ट से भिन्न है, जहां सतह से ऊपर उठने की क्रिया हवा में ऊपर उठने के सापेक्ष है. एक जाइरोप्लेन फिक्स्ड-विंग और रोटरी-विंग दोनों प्रकार के होते हैं. फिक्स्ड-विंग एयरक्राफ्ट की सीमा छोटे प्रशिक्षण विमान और मनोरंजन विमान से लेकर बड़े विमान और सैन्य कार्गो विमान तक होते हैं.

विमानों के लिए दो बातें आवश्यक हैं पंखों के ऊपर उठने के लिए हवा का प्रवाह और लैंडिंग के लिए स्थान. अधिकांश विमानों को बुनियादी सुविधाओं के साथ एक हवाई अड्डे की जरूरत होती है जो रखरखाव, पुनःसंग्रहण, ईंधन भरने और यात्रियों और चालक दल के चढ़ने उतरने और माल की चढ़ाई उतराई कर सके. जबकि अधिकतर विमान स्थल पर से ही उड़ते और उतरते हैं, कुछ विमान बर्फ और पानी पर से उड़ने और उतरने में सक्षम होते हैं.

रॉकेट के बाद विमान दूसरी सबसे तेज विधि का परिवहन है. व्यावसायिक जेट विमान 875 किलोमीटर प्रति घंटा (544 मील/घंटा) तक पहुँच सकते हैं, एकल-इंजन विमान 175 किलोमीटर प्रति घंटा (109 मील/घंटा) . विमानन बहुत लंबी दूरी तक बड़ी तेजी से लोगों का और माल का परिवहन करने में सक्षम होते हैं, लेकिन इसमें उच्च लागत और अधिक ईंधन लगते हैं; या कम दूरी वाले और दुर्गम स्थानों के लिए हेलीकाप्टर का इस्तेमाल किया जा सकता है.[1] डब्ल्यूएचओ का अनुमान है कि 500,000 लोग हर समय विमानों पर होते हैं.[2]

रेल[संपादित करें]

इंटरसिटीऐक्सप्रेस, एक जर्मन उच्च गति यात्री ट्रेन

रेल परिवहन वह है, जहां एक ट्रेन या रेल दो समानांतर इस्पात पटरी पर चलती है, जिसे रेलवे या रेलरोड कहते हैं. रेल सीधी लकड़ियों के (या स्लीपरों), कंक्रीटों या स्टील से एकसमान दूरी या गेज पर बंधे होते हैं. रेल और लम्बवत्त बीम कंक्रीट से बने नींव पर रखकर या संकुचित पृथ्वी और गिट्टी बजरी से एक परत बनाया जाता है. वैकल्पिक तरीकों में मोनोरेल और मैग्लेव शामिल हैं.

एक ट्रेन में एक या एक से अधिक वाहन जुड़े होते हैं जो रेल की पटरी पर चलती हैं. प्रणोदन एक लोकोमोटिव द्वारा प्रदान किया जाता है, जो बिना ऊर्जा वाली डिब्बों की श्रृंखला को खींचती है, जिसमें यात्री और माल उठाए जा सकते हैं. लोकोमोटिव को भाप,डीजल या बिजली द्वारा संचालित किया जा सकता है, जिसकी आपूर्ति ट्रैकसाइड सिस्टम द्वारा होती है. वैकल्पिक रूप से, कुछ या सभी कार को एक बहु इकाई द्वारा संचालित किया जा सकता है. इसके अलावा, ट्रेन को घोड़ों, केबल, गुरुत्वाकर्षण, वायुचालित और गैसटरबाइन द्वारा संचालित किया जा सकता है. रेल गाड़ी पक्की सड़कों पर रबर टायर की अपेक्षा कम से कम घर्षण पर चलती हैं, जो ट्रेन को अधिक ऊर्जा कुशल बनाती है, हालांकि जहाज की तरह कुशल नहीं होती हैं.

इंटरसिटी ट्रेनें शहरों को जोड़ने वाली लंबी-ढुलाई सेवाएं देती हैं;[3] आधुनिक उच्च गति की रेल तेज गति में सक्षम है 350 किमी/घंटा (220 मील/घंटा), लेकिन इस पटरी को विशेष रूप से बनाने की आवश्यकता है. क्षेत्रीय और कम्यूटर ट्रेनें क्षेत्र को उपनगरों और आसपास के क्षेत्रों से जोड़ती हैं, जबकि अंतर शहरी परिवहन उच्च क्षमता वाले ट्रामों और तेज पारगमन जुड़ा होता है, जो अक्सर शहर के परिवहन की रीढ़ होती है. मालभाड़ा ट्रेनें परंपरागत रूप से बॉक्स कार का उपयोग करती हैं, जिससे मानवीय माल लदान और उतराई की आवश्यकता होती है. 1960 के दशक के बाद से, कंटेनर ट्रेनों सामान्य माल ढुलाई के लिए प्रभावी समाधान बन गए हैं, जबकि थोक की बड़ी मात्रा को समर्पित गाड़ियों से ले जाया जाता है.

सड़क[संपादित करें]

बर्कले, कैलिफोर्निया, संयुक्त राज्य अमेरिका के पास 80 अंतरराज्यीय.

एक सड़क दो या अधिक स्थानों के बीच एक पहचान मार्ग, रास्ता या पथ है.[4] सड़कें आमतौर पर सपाट, प्रशस्त या अन्यथा सहज यात्रा के लिए तैयार की जाती है;[5] हालांकि इसकी जरूरत नहीं है और बिना किसी रखरखाव या निर्माण की ऐतिहासिक दृष्टि से कई सड़कें थी जो सहज ही पहचानी जा सकती हैं.[6] शहरी क्षेत्र में सड़कें किसी शहर या गांव से होकर गुजरतीं हैं और उस सड़क को एक नाम दिया जाता है, जो शहरी सुविधा और मार्ग का दोहरा कार्य करती हैं.[7]

सबसे आम सड़क वाहन एक ऑटोमोबाइल है; एक पहिया यात्री वाहन जो अपनी मोटर होती है. सड़कों के अन्य उपयोगकर्ता में बसें, ट्रकें, मोटरसाइकिलें, साइकिलें और पैदल चलने वाले शामिल हैं. 2002 में, पूरी दुनिया में 590 मिलियन ऑटोमोबाइल थे.

ऑटोमोबाइल कम क्षमता के साथ और उच्च लचीलापन प्रदान करते हैं, लेकिन शहरों में इसे उच्च ऊर्जा और क्षेत्र का उपयोग, शोरऔर वायु प्रदूषण का मुख्य स्रोत समझा जाता है; बसें अधिक लचीलेपन और कम लागत यात्रा में कुशल होती हैं.[8] ट्रक द्वारा सड़क परिवहन अक्सर माल परिवहन का आरंभिक और अंतिम चरण है.

जल[संपादित करें]

क्रोएशिया में ऑटोमोबाइल नौका

जल परिवहन एक प्रक्रिया है जिसमें जलयान जैसे कि बजरा, नाव, जहाज या सेलबोट, जल पर चलती हैं जैसे कि सागर, महासागर, झील, नहर या नदी. उत्प्लावकता की जरूरत जलयान को एकजुट करती है और पुराने जहाज की कोटी या पेंद के निर्माण और रखरखाव की जरूरत होती है.

1800 में प्रथम स्टीम जहाज को विकसित गया था, स्टीम इंजन का उपयोग कर जहाज़ चलाने का पहिया या जहाज पैडल [[भाप का इंजन|या नोदक]] के सहारे जहाज़ को चलाया जाता था. स्टीम का उत्पादन कोयला या लकड़ी द्वारा किया जाता था. अब ज्यादातर जहाजों में इंजन का उपयोग होता है जिसे थोड़ा परिष्कृत प्रकार के पेट्रोल द्वारा चलाया जाता है जिसे बंकर फुएल कहते हैं. कुछ जहाज, जैसे पनडुब्बी में भाप का उत्पादन करने के लिए परमाणु शक्ति का उपयोग करते हैं. मनोरंजन या शैक्षिक जहाज हवा का उपयोग करते हैं, जबकि कुछ छोटे जहाज आंतरिक दहन इंजन एक या एक से अधिक नोदक या जेटबोट के मामले में, इनबोर्ड पानी के जेट का उपयोग करते हैं. उथले पानी के क्षेत्रों में होवरक्राफ्ट में बड़े ढकेलनेवाले पंखे होते हैं.

हालांकि, आधुनिक समुद्री परिवहन धीमी गति से चलने वाले जहाज बड़ी मात्रा में गैर विनाशशील सामान के परिवहन का एक बेहद कारगर तरीका है. व्यावसायिक जहाजों की संख्या लगभग 35,000 है जो 2007 में 7.4 बिलियन टन कार्गो का परिवहन किया गया.[9] अन्तर-महाद्वीपीय शिपिंग के लिए हवाई परिवहन की तुलना में पानी से परिवहन कम महंगा है;[10] छोटी समुद्री शिपिंग और फेरी तटीय क्षेत्रों में मौजूद रहते हैं.[11][12]

अन्य[संपादित करें]

कच्चे तेल के लिए ट्रांस अलास्का पाइपलाइन

सबसे अधिक तरल और गैसों के लिए पाइपलाइन परिवहन पाइप के माध्यम से माल भेजता है, लेकिन वायुचालित ट्यूब हवा के सहारे ठोस संकुचित कैप्सूल को भी भेज सकते हैं. तरल पदार्थ/गैसों के लिए, किसी भी रासायनिक स्थिर तरल या गैस के द्वारा पाइप लाइन के माध्यम से भेजा जा सकता है. मल, गारा, पानी और बियर के लिए कम दूरी की प्रणाली का प्रयोग होता है, जबकि पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस के लिए लंबी दूरी के नेटवर्क का इस्तेमाल किया जाता है.

केबल परिवहन एक ऐसा स्रोत है जहाँ वाहनों को केबल के द्वारा खींचा जाता है. यह आमतौर पर ढलान वाले स्थानों के लिए इस्तेमाल किया जाता है. विशेष समाधान में हवाई ट्रामवे, एलीवेटर, चलती सीढ़ी और स्की लिफ्ट शामिल हैं इसमें से कुछ को वाहक परिवहन के रूप में भी वर्गीकृत किया जाता है.

अंतरिक्ष परिवहन पृथ्वी के बाहर परिवहन के साधन के लिए अंतरिक्ष यान का इस्तेमाल किया जाता है. जबकि इस प्रौद्योगिकी में बड़ी मात्रा में अनुसंधान किए गए हैं, इसका उपयोग बाहरी अंतरिक्ष में उपग्रहों को छोड़ने के लिए किया जाता है. हालांकि, आदमी चांद पर उतरा है और सौर मंडल के सभी ग्रहों की जांच के लिए भेजा गया है.

परिवहन की विधि के घटक[संपादित करें]

एक परिवहन विधि निम्न का एक संयोजन है:

  • यातायात के बुनियादी ढांचे: यातायात मार्ग, नेटवर्क, नोड (स्टेशनों, बस टर्मिनलों, हवाई अड्डा टर्मिनलों), आदि
  • वाहन और कंटेनर: ट्रक, गाड़ी, जहाज, विमान और ट्रेनें.
  • एक स्थिर या मोबाइल कार्यबल
  • प्रणोदन प्रणाली और बिजली की आपूर्ति (कर्षण)
  • ऑपरेशन: ड्राइविंग, प्रबंधन यातायात संकेत, रेलवे सिगनल, हवाई यातायात नियंत्रण, आदि

दुनिया की सबसे महत्वपूर्ण परिवहन विधि की तुलना[संपादित करें]

दुनिया भर में यात्री परिवहन विधि के लिए व्यापक रूप से सबसे अधिक ऑटोमोबाइल (16,000 बिलियन यात्री कि.मि.), बसें (7000), वायु (2800), रेल (1900), और शहरी रेल (250) का इस्तेमाल होता है.[1] .

प्रयुक्त मोड के लिए माल परिवहन व्यापक रूप से सबसे अधिक सागर (40,000 बिलियन टन), इसके बाद रोड (7000), रेल (6500), तेल पाइपलाइनें (2,000 ) और अंतर्देशीय नेविगेशन (1500) का इस्तेमाल होता है. [2]

यूरोपीय संघ 15 अमरीका जापान दुनिया


जीडीपी (पीपीपी) प्रति व्यक्ति. 19,000 28,600 22,300 5,500


प्रति व्यक्ति कि.मी. यात्री [3]
निजी कार 10,100 22,700 6,200 2,700


बस / कोच 1,050 870 740 1,200


रेलवे 750 78 2,900 320


हवा (विश्व को छोड़कर घरेलू) 860 2,800 580 480



संदर्भ[संपादित करें]

  1. कूपर एट अल., 1998 281
  2. स्वाइन फ्लू अमेरिका यात्रा पर चेतावनी संकेत ईयू . गार्जियन. 29 अप्रैल, 2007.
  3. कूपर एट अल., 1998 279
  4. "Major Roads of the United States". United States Department of the Interior. 2006-03-13. http://nationalatlas.gov/mld/roadtrl.html. अभिगमन तिथि: 24 March 2007. 
  5. "Road Infrastructure Strategic Framework for South Africa". National Department of Transport (South Africa). http://www.transport.gov.za/library/docs/rifsa/infor.html. अभिगमन तिथि: 24 March 2007. 
  6. लेटाओ, 1992: 6-7
  7. "What is the difference between a road and a street?". Word FAQ. Lexico Publishing Group. 2007. http://dictionary.reference.com/help/faq/language/d01.html. अभिगमन तिथि: 24 March 2007. 
  8. कूपर एट अल:. 1998 278
  9. 2007 अंकटाड, पी. एक्स और पी. 32.
  10. स्टॉपफोर्ड, 1997: 4-6
  11. स्टॉपफोर्ड, 1997: 8-9
  12. कूपर एट अल:. 1998 280

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

Wiktionary-logo-en.png
means of transportation को विक्षनरी,
एक मुक्त शब्दकोष में देखें।
  • दोहरी मोड पारगमन
  • इंटरमोडल परिवहन
  • -साधन सह धारणा का यूरोपीय आयोग द्वारा शुरू की
  • मोडल शेयर
  • बहुविध परिवहन
  • बदलना
  • परिवहन हब
  • परिवहन नेटवर्क[[