हमास

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
हमास
حركة المقاومة الاسلامية
Flag of Hamas.svg
नेता सार्वजनिक रूप से घोषित नहीं.[1]
वरिष्ठ सदस्य
खालिद मशाल,
इस्माइल हनिया,
महमूद ज़हर
गठन 1987
मुख्यालय ग़ज़ा
विचारधारा फिलिस्तीनी राष्ट्रवाद,
इस्लाम[2][3],
इस्लामी राष्ट्रवाद
रूढ़िवाद

हमास (अरबी भाषा: حركة المقاومة الاسلامي, या हरकत अल-मुकावामा अल-इस्लामिया या "इस्लामी प्रतिरोध आन्दोलन") फ़िलिस्तीनी सुन्नी मुसलमानों की एक सशस्त्र संस्था है जो फ़िलिस्तीन राष्ट्रीय प्राधिकरण की मुख्य पार्टी है। हमास का गठन 1987 में मिस्र तथा फलस्तीन के मुसलमानों ने मिलकर किया था जिसका उद्धेश्य क्षेत्र में इसरायली प्रशासन के स्थान पर इस्लामिक शासन की स्थापना करनी थी।[4] हमास का प्रभाव गज़ा पट्टी में अधिक है। इसके सशस्त्र विभाग का गठन 1992 में हुआ था। 1993 में किए गए पहले आत्मघाती हमले के बाद से लेकर 2005 तक हमास ने इसरायली क्षेत्रों में कई आत्मघाती हमले किए। 2005 में हमास ने हिंसा से अपने आप को अलग किया और 2006 में[5] इसके बाद 2006 से गज़ा से इसरायली क्षेत्रों में रॉकेट हमलों का सिलसिला आरम्भ हुआ जिसके लिए हमास को उत्तरदायी माना जाता है। सन् 2008 के अन्त में इसरायल द्वारा गज़ा पट्टी में हमास के विरुद्ध की गई सैन्य कार्रवाई में कोई 1,0 लोग मारे गए थे। इस अभियान का उद्देश्य इसरायली क्षेत्रों में रॉकेट हमले रोकना था। पर हमास ने इसरायल पर आम नागरिकों को मारने का आरोप लगाया।

शब्द[संपादित करें]

हमास शब्द अरबी भाषा के हरकत अल-मुकावामा अल-इस्लामिया (यानि इस्लामी प्रतिरोध आन्दोलन ) का संक्षेप है पर अरबी में ही हमास शब्द का मतलब "उत्साह" होता है।

इतिहास[संपादित करें]

हमास की स्थापना 1987 में हुई थी, जिसके तुरन्त बाद पहला इन्तिफादा टूट गया, मिस्र के मुस्लिम भाईचारे के अपराध के रूप में, जो इसकी गाज़ा शाखा में पहले इजरायल और फिलिस्तीन लिबरेशन लाॅ ने 1988 में पुष्टि की, कि हमास की स्थापना फिलिस्तीन को मुक्त करने के लिए हुई थी, जिसमें आधुनिक इजरायल भी शामिल था, इजरायल के कब्जे से और अब इजरायल के क्षेत्र में एक इस्लामिक राज्य स्थापित करने के लिए, वेस्ट बैंक और गाजा पट्टी। 1994 के बाद से, समूह ने अक्सर कहा है कि अगर इज़राइल 1967 की सीमाओं पर किए गए देश-प्रत्यावर्तन (repatriation) को वापस ले लेता है तथा फिलिस्तीनी शरणार्थियों की वापसी का अधिकार हो तो वह क्षेत्रों में मुक्त चुनाव होने देगा।

हमास के सैन्य विंग ने इजरायल के नागरिकों और सैनिकों के खिलाफ हमले शुरू किए हैं, जो अक्सर उन्हें प्रतिशोधात्मक बताते हैं, विशेष रूप से उनके नेतृत्व के ऊपरी क्षेत्र की हत्याओं के लिए।

रणनीति में आत्मघाती बम विस्फोट और 2001 के बाद से रॉकेट हमले, हमास के रॉकेट शस्त्रागार शामिल हैं, हालाँकि मुख्य रूप से 16 किमी की रेंज के साथ छोटी दूरी स्वनिर्मित कासम रॉकेट शामिल हैं, इसमें ग्रेड-प्रकार के रॉकेट (2009 तक 21 किमी) और लम्बी दूरी के (40 किमी) यदि बेरोकटोक रॉकेट का उपयोग किया जाता है जो कि इज़राइल के प्रमुख शहरों जैसे बीयर शेवा और एशदोड तक पहुँच गया है, और कुछ ऐसे हैं जो तेल अवीव और हाइफा जैसे शहरों को मार चुके हैं।

आतंकी गतिविधियाँ[संपादित करें]

कनाडा, यूरोपीय संघ, इज़राइल, जापान और संयुक्त राज्य अमेरिका हमास को आतंकवादी संगठन के रूप में वर्गीकृत करते हैं। ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, पैराग्वे और यूनाइटेड किंगडम आतंकवादी संगठन के रूप में केवल इसकी सैन्य शाखा को वर्गीकृत करते हैं।

इसे ब्राजील, चीन, मिस्र, ईरान, नॉर्वे, कतर, रूस, सीरिया और तुर्की द्वारा आतंकवादी संगठन नहीं माना जाता है। दिसम्बर 2018 में, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने एक अमेरिकी प्रस्ताव को खारिज कर दिया, जिसमें हमास को आतंकवादी संगठन के रूप में दोषी ठहराया गया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Harakat al-Muqawama al-Islamiyya (HAMAS)". Transnational and non state armed groups. Humanitarian Policy and Conflict Research Harvard University. 2008. मूल से 10 मई 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2009-02-07.
  2. "Hamas leader condemns Islamist charity blacklist". Reuters. 2007-08-23. मूल से 5 फ़रवरी 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2009-01-28.
  3. Hider, James (2007-10-12). "Islamist leader hints at Hamas pull-out from Gaza". The Times to Terrorism. मूल से 5 अगस्त 2011 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 2009-01-28.
  4. "इज़रायल की नाक में दम करने वाले हमास की पूरी कहानी".
  5. "BBC NEWS" Archived 2017-08-26 at the Wayback Machine फिलीस्तीनी चुनावों में हमास को जीत मिली।