स्थलरूप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
आस्ट्रेलिया मे स्थित आयर्स चट्टान या उल्लेर्रू का एक दृश्य
अर्जेंटीना मे स्थित एक शंक्वाकार पहाड़ी

स्थलरूप अथवा स्थलाकृति (अंग्रेज़ी: Landform) भूगोल और अन्य पृथ्वी विज्ञानों में प्रयुक्त शब्द है जिसका आशय एक भू-आकृतिक इकाई से है जिसे सामान्यतः उसकी धरातलीय बनावट अर्थात आकृति के द्वारा पहचाना जाता है। सामान्य भाषा में जमीन की ऊँचाई-निचाई द्वारा जो आकृतियाँ बनती हैं उन्हें स्थलरूप कहते हैं।[1]

वर्गीकरण[संपादित करें]

इनको इनके आकार के आधार पर कई श्रेणियों में बाँटा जाता है:

स्थलरूप स्थायी नहीं होते बल्कि इनमें सतत् परिवर्तन होता रहता है।

इनका अध्ययन करने वाला विज्ञान भू-आकृति विज्ञान कहलाता है जो भूगोल की एक शाखा है। भूगर्भशास्त्र या भूविज्ञान में इस तरह के अध्ययन को पर्यावरणीय भूगर्भशास्त्र/पर्यावरणीय भूविज्ञान कहते हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

भू-आकृति विज्ञान

सन्दर्भ[संपादित करें]