सलीम ख़ान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

सलीम खान

सलीम ख़ान


जन्म 24 नवम्बर 1935 (1935-11-24) (आयु 84)
इन्दौर, मध्य प्रदेश
व्यवसाय लेखक, अभिनेता, फिल्म निर्माता

सलीम ख़ान हिन्दी फ़िल्मों के मशहूर लेखक हैं। सलीम खान का जन्म ब्रिटिश भारत में एक रियासत इंदौर राज्य के बालाघाट शहर में (आधुनिक मध्य प्रदेश, भारत) में एक संपन्न परिवार में हुआ था। खान के दादा, अनवर खान, एक अलकोज़ाई पश्तून थे, जिन्होंने 1800 के दशक के मध्य में अफगानिस्तान से भारत की ओर पलायन किया और ब्रिटिश भारतीय सेना की घुड़सवार सेना में सेवा की। खान का परिवार सरकारी सेवा में रोजगार की तलाश में था, और अंततः इंदौर में बस गया।

सलीम खान अपने माता-पिता की सबसे छोटी संतान थे, जब सलीम खान 14 साल के थे, तब तक उनके माता-पिता दोनों मृत्यु हो गई। उनके पिता, अब्दुल रशीद खान, भारतीय इंपीरियल पुलिस में शामिल हो गए थे और डीआईजी-इंदौर के रैंक तक पहुंच गए थे, जो ब्रिटिश भारत में एक भारतीय के लिए खुला सर्वोच्च पुलिस रैंक था। सलीम की माँ की मृत्यु हो गई जब वह केवल नौ वर्ष का थे। वह अपनी मृत्यु से पहले चार साल तक तपेदिक से पीड़ित थी, और इसलिए छोटे बच्चों के लिए उसके पास आना या उसे गले लगाना मना था, इसलिए बालक सलीम का अपनी माँ के साथ मृत्यु से पहले भी बहुत कम संपर्क था। उनके पिता की भी मृत्यु जनवरी 1950 में हुई थी, जब वह केवल चौदह वर्ष के थे। सन्दर्भ त्रुटि: उद्घाटन <ref> टैग खराब है या उसका नाम खराब है. दो महीने बाद, मार्च 1950 में, सलीम ने अपनी मैट्रिक परीक्षा इंदौर में सेंट रैफल्स स्कूल में प्रतिभाग किया। इस परीक्षा में उन्होंने मामूली रूप से अच्छा किया, और इंदौर के होलकर कॉलेज में दाखिला लिया और बीए पूरा किया। उनके बड़े भाइयों ने परिवार की पर्याप्त संपत्ति से प्राप्त धन के साथ उनका समर्थन किया, इस हद तक कि जब वह एक कॉलेज के छात्र थे तब उन्हें अपनी खुद की एक कार दी गई थी। उन्होंने खेल, विशेष रूप से क्रिकेट में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया, क्रिकेट में उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन के कारण उन्हे कॉलेज द्वारा खेल कोटे के अंतरगत मास्टर की डिग्री के लिए नामांकन करने के लिए अनुमति दी गई थी। वह एक प्रशिक्षित पायलट भी थे। सन्दर्भ त्रुटि: उद्घाटन <ref> टैग खराब है या उसका नाम खराब है. इन वर्षों के दौरान, वह फिल्मों के प्रति आसक्त हो गए, और सहपाठियों से प्रोत्साहन प्राप्त किया, जिन्होंने उन्हें बताया कि उनके असाधारण अच्छे लगने के साथ, उन्हें फिल्म स्टार बनने की कोशिश करनी चाहिए।

वैवाहिक प्रास्थिति[संपादित करें]

सलीम खान ने पहला विवाह सुशीला चरक नामक एक मराठी हिन्दू महिला से किया जिन्होंने विवाहोपरान्त अपना नाम सलमा रख लिया।सन्दर्भ त्रुटि: उद्घाटन <ref> टैग खराब है या उसका नाम खराब है. सलमा से उन्हें चार सन्ताने क्रमशः तीन पुत्र सलमान खान, अरबाज़ ख़ान , सुहेल खान और एक पुत्री अलवीरा खान उत्पन्न हुयी।सन्दर्भ त्रुटि: उद्घाटन <ref> टैग खराब है या उसका नाम खराब है. उन्होने दूसरा विवाह पुर्तगाली ऐग्लोइण्डियन महिला प्रसिद्ध नर्तकी और अभिनेत्री 'हेलन ऐन रिचर्डसन, जिनका फिल्मी नाम हेलेन था, से किया।

फिल्मी कैरियर[संपादित करें]

फिल्म निर्देशक के. अमरनाथ द्वारा जब उन्हें देखा गया तो उन्हें उनकी आगामी फिल्म बारात में एक सहायक भूमिका की पेशकश की। इसके लिये उन्हें एकमुश्त पारिश्रमिक रु 1000 / - तथा रु 400 / - के मासिक वेतन का भुगतान किया गया। फिल्म बारात का विधिवत निर्माण 1960 में पूर्ण हुआ लेकिन इसमें उनकी भूमिका एक छोटी सी थी। इस प्रकार सलीम खान फिल्मों में मामूली भूमिकाओं में काम करते हुये अभिनेताओं की सामान्य 'संघर्ष' की स्थिति में आ गए और धीरे-धीरे बी-ग्रेड फिल्मों में उतरने लगे। सन्दर्भ त्रुटि: उद्घाटन <ref> टैग खराब है या उसका नाम खराब है.अगले दशक में, उन्होंने लगभग दो दर्जन फिल्मों में छोटी मोटी भूमिकाओं का निर्वहन किया।सन्दर्भ त्रुटि: उद्घाटन <ref> टैग खराब है या उसका नाम खराब है. उन्होंने 1970 तक कुल 14 फ़िल्में की, इनमें तीसरी मंज़िल (1966), सरहदी लुटेरा (1966) और दीवाना (1967) प्रमुख रूप से शामिल थीं। उनकी सबसे महत्वपूर्ण भूमिका तीसरी मंजिल थी, जहां उन्होंने नायक के दोस्त की भावपूर्ण भूमिका की।

प्रमुख फिल्में[संपादित करें]

अभिनेता[संपादित करें]

वर्ष फ़िल्म चरित्र टिप्पणी
1966 सरहदी लुटेरा
1966 तीसरी मंज़िल
1967 दीवाना

लेखक[संपादित करें]

वर्ष फ़िल्म टिप्पणी
2007 शोले
2006 डॉन
1996 मझधार
1996 दिल तेरा दीवाना
1994 आ गले लग जा
1991 मस्त कलंदर
1991 अकेला
1991 पत्थर के फूल
1990 ज़ुर्म
1989 तूफान
1988 कब्ज़ा
1987 मिस्टर इण्डिया
1986 नाम
1982 शक्ति
1981 क्रांति
1980 दोस्ताना
1980 शान
1979 काला पत्थर
1978 त्रिशूल
1978 डॉन
1977 ईमान धर्म
1977 चाचा भतीजा
1977 मनुशुलु चेसिना डोंगुलु
1975 शोले
1975 दीवार कथा, पटकथा एवं संवाद
1974 मजबूर
1973 ज़ंजीर
1973 यादों की बारात
1972 सीता और गीता
1971 हाथी मेरे साथी

निर्माता[संपादित करें]

वर्ष फ़िल्म टिप्पणी
2000 बिल्ला नम्बर ७८६
1993 इंसानियत के देवता
1989 आखिरी गुलाम

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]