संकल्प (संस्था)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

संकल्प एक अशासकीय संस्था है। इसकी स्थापना सन् १९८६ मे उन छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए किया गया, जो प्राशासनिक सेवायों की तैयारी करते है। संस्था कोचिंग, ट्रेनिंग और जानकारी ऐसे छात्रों को देता है। संस्था मानती है, कि जमीनी स्तर पर सरकारी नीतियों को पालन करने की जिम्मेदारी प्रशासनिक अधिकारियों पर होती है। इसलिए यह परिकल्पना की गयी कि ऐसे प्राशानिक अधिकारी तैयार हों जो कि राष्ट्र के लिए समर्पित हों, ईमानदार, जिम्मेदार एवं सामाजिक-वचनबद्धता पूरा करने वालें हो - इसी लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए संकल्प की स्थापना की गई थी।

संकल्प संस्था जो छात्रों को प्राशासनिक सेवायों की परीक्शा लिखने में प्रोत्साहित करता है

सेवा सम्बंधित कार्य[संपादित करें]

  • छात्रों को देश-निर्माण के लिए सिविल-सर्विसेज परीक्षा निकालने मे सहयोग करती है।
  • भारतीय संस्कृति और विचारों के बारे मे भी बताया जाता है। जिसे वे अक्षुण रख सके।
  • संस्था, छात्रों को सिविल सर्विसेज परीक्षा मे सफलता हासिल करके ईमानदार, दूर दर्शिता, दृढ निश्चय, कार्य के प्रति समर्पण और भारतीय संविधान के प्रति सजग प्रहरी की तरह काम करे, कि सीख देती है।
  • वाद-विवाद प्रतियोगिता, व्यक्तित्व विकास, योग, ध्यान, समय-बचाव के बारे मे भी बताया जाता है।
  • छात्रों को प्रसिद्द सामाजिक कार्यकर्ताओं से मिलकर उनका अनुभव सीखने का मौक़ा देता है।
  • ९ वे क्लास मे बच्चों का एडमिशन, मुख्या परीक्षा और साक्षात्कार के द्वारा होता है। विज्ञान, सामान ज्ञान, अंग्रेजी के विषय मे विस्तार से पढाया जाता है। मूलभूत शिक्षा के अलावा छात्रों को सिविल सर्विसेज की तैयारी कराई जाती है।
संकल्प संस्था छात्रों को सिविल सर्विसेज परीक्षा मे सफलता हासिल करने का प्रशिक्षण देता है

सेवा कार्य का परिणाम[संपादित करें]

  • संस्था, कोचिंग व्यस्था उत्तरी और दक्षिणी दिल्ली के अलावा लखनऊ मे भी चलाती है जिसमे अर्थशास्त्र, राजनीति विज्ञान, भूगोल, इतिहास, विज्ञान, अदि विषयों के बारे मे प्रसिद्द शिक्षक पढाते है।
  • संस्था नियमित रूप से शिविर का आयोजन स्कूल स्तर पर ९ दिनों के लिए करता है, जिसमे व्यक्तित्व विकास पर जोर दिया जाता है। इसमे छात्रों को अपने कार्य क्षेत्र के नामी-गिरामी व्यक्तियों से मिलने का मौका मिलता है, संस्था मानती है कि छात्र किताबों से ज्यादा आदर्श व्यक्तियों से मिलकर सीख सकता है।
  • इसके अलावा अलग से शिविर लगाया जाता जो चार दिन का होता है जिसमे खेल, योग, ध्यान, सामाजिक गतिविधियों को प्रोत्साहित किया जाता है जो जुलाई और दिसम्बर - साल मे दो बार आयोजित होता है।
  • २००८ तक संस्था से पढ़े हुए १३६० छात्रों ने सिविल सर्विसेज मे सफलता हासिल किए है।
  • २९ दिन का व्यक्तित्व विकास कैम्प का आयोजन किया जिसमे २००० छात्र लाभान्वित हुए है।
  • १४ दिन का सामाजिक कैम्प का आयोजन किया गया जिसमे १७०० छात्र लाभान्वित हुए है।
  • ३,००० सिविल सर्विसेज तैयारी करने वाले छात्रों के लिए साक्षात्कार का व्यस्था किया। जिसमे १३५० छात्रों ने सिविल सर्विसेज परीक्षा मे सफलता हासिल की।
  • सम्यक दृष्टि पत्रिका निकाली जाती है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]