विजयपुर, उत्तराखंड

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
विजयपुर
—  कस्बा  —
धौलीनाग मंदिर मार्ग से विजयपुर का दृश्य
धौलीनाग मंदिर मार्ग से विजयपुर का दृश्य
समय मंडल: आईएसटी (यूटीसी+५:३०)
देश Flag of India.svg भारत
राज्य उत्तराखंड
ज़िला बागेश्वर
क्षेत्रफल
ऊँचाई (AMSL)

• 2,050 मीटर (6,726 फी॰)

निर्देशांक: 29°50′N 79°55′E / 29.84°N 79.92°E / 29.84; 79.92

विजयपुर  भारत के उत्तराखंड राज्य के बागेश्वर जिले में स्थित एक पर्वतीय स्थल है। यह बागेश्वर-चौकोड़ी राजमार्ग पर बागेश्वर से 30 किमी और कांडा से 5 किमी की दूरी पर घने देवदार के जंगलों के मध्य  स्थित है। [3][4] यह 2050 मी की ऊंचाई पर स्थित है,[5] और बर्फ से ढकी हिमालय की चोटियों, जैसे त्रिशूल, नंदा देवी और नंदा कोट इत्यादि के मनोरम दृश्यों के लिए जाना जाता है। विजयपुर में स्थित धौलीनाग मंदिर कुमाऊँ के प्रसिद्ध नाग मंदिरों में से एक है। बेणीनाग, कालीनाग, फेणीनाग, बासुकीनाग, पिंगलनाग और हरीनाग अन्य प्रसिद्ध मंदिर हैं।

पर्यटन स्थल[संपादित करें]

धौलीनाग मंदिर के आसपास देवदार के जंगल

धौलीनाग मंदिर[संपादित करें]

धौलीनाग मंदिर विजयपुर पहाड़ी के शीर्ष पर स्थित है। [6] मंदिर विजयपुर से पैदल दूरी पर है, और मुख्य रूप से नवरात्रि के दौरान भक्तों द्वारा भरा रहता है। पंचमी मेला यहाँ का एक बहुत प्रसिद्ध त्योहार है।[7][8]

चाय के बागान[संपादित करें]

विजयपुर में चाय के बागान ब्रिटिश राज द्वारा बीसवीं सदी में स्थापित किये गये थे।[9] बहुत बाद में, इन बागानों का विजय लाल शाह, जो एक गुजराती व्यापारी थे, के द्वारा अधिग्रहण कर लिया गया, जिन्होंने बाद में खुद के नाम पर नगर का नाम रख दिया था।

हिमालयन व्यू[संपादित करें]

हिमालयन व्यू विजयपुर में एक अन्य स्थल है। विजयपुर-कभाटा रोड के तिराहे की दूसरी ओर स्थित इस स्थल से हिमालय पर्वतमालाओं के विहंगम दृश्य देखे जा सकते हैं।

आवागमन[संपादित करें]

विजयपुर राष्ट्रीय राजमार्ग 309A पर बागेश्वर से 30 किमी[10] और कांडा से 5 किमी की दूरी पर स्थित है। विजयपुर तक जीप द्वारा पास के शहरों, जैसे कांडा, कोटमन्या या उड्यारी मोड़, से पहुंचा जा सकता है। इसके अतिरिक्त बागेश्वर, अल्मोड़ा, बेरीनाग और दिल्ली जैसे शहरों तक उत्तराखंड परिवहन निगम और केमू द्वारा बसें चलाई जाती हैं। यह कैलाश मानसरोवर के मार्ग पर स्थित है। [11]

गैलरी[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Pin Code of Vijaypur in Uttarakhand". www.mapsofindia.com. अभिगमन तिथि 13 May 2017.
  2. "Pin Code: VIJAIPUR, BAGESHWAR, UTTARAKHAND, India, Pincode.net.in". pincode.net.in. अभिगमन तिथि 13 May 2017.
  3. Budhwar, Prem K. (2010). The call of the mountains : Uttrakhand explored (अंग्रेज़ी में). New Delhi: Har-Anand Publications. पृ॰ 90. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788124115299. अभिगमन तिथि 13 May 2017. |last1= और |last= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |first1= और |first= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |accessdate= और |access-date= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |ISBN= और |isbn= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद)
  4. "Vijaypur | Uttarakhand". अभिगमन तिथि 13 May 2017.
  5. Goyal, Ashutosh. RBS Visitors Guide INDIA - Uttarakhand: Uttarakhand Travel Guide (अंग्रेज़ी में). Data and Expo India Pvt. Ltd. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9789380844794.
  6. "महिलाओं ने निकाली कलशयात्रा". Bageshwar: Amar Ujala. 23 April 2015. अभिगमन तिथि 13 May 2017.
  7. "Dhauli Nag Temple in Bageshwar, Uttarakhand". अभिगमन तिथि 13 May 2017.
  8. Śarmā, Devīdatta. Linguistic history of Uttarākhaṇḍa (अंग्रेज़ी में). Vishveshvaranand Vedic Research Institute. |last1= और |last= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |first1= और |first= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद)
  9. Sati, Vishwambhar Prasad (2014). Towards Sustainable Livelihoods and Ecosystems in Mountain Regions (अंग्रेज़ी में). Cham: Springer. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9783319035338. अभिगमन तिथि 13 May 2017. |last1= और |last= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |first1= और |first= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |accessdate= और |access-date= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |ISBN= और |isbn= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद)
  10. Maiṭhāṇī, Vācaspati. Gaṛhavāla Himālaya kī deva saṃskr̥ti: eka sāmājika adhyayana. Gāndhī Hindustānī Sāhitya Sabhā. अभिगमन तिथि 13 May 2017. |last1= और |last= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |first1= और |first= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |accessdate= और |access-date= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद)
  11. Chamaria, Pradeep (1996). Kailash Manasarovar on the Rugged Road to Revelation (अंग्रेज़ी में). New Delhi: Abhinav Publications. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 9788170173366. अभिगमन तिथि 13 May 2017. |last1= और |last= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |first1= और |first= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |accessdate= और |access-date= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद); |ISBN= और |isbn= के एक से अधिक मान दिए गए हैं (मदद)