विकिपीडिया वार्ता:पुनरीक्षक पद हेतु निवेदन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

यह पृष्ठ विकिपीडिया:पुनरीक्षक पद हेतु निवेदन पन्ने के सुधार पर चर्चा करने के लिए वार्ता पन्ना है। यदि आप आप अपने संदेश पर जल्दी सबका ध्यान चाहते हैं, तो यहाँ संदेश लिखने के बाद चौपाल पर भी सूचना छोड़ दें।

पीयूष जी के नामांकन के समय की गई अप्रसांगिक टिप्पणियाँ[संपादित करें]

  • @संजीव कुमार: according to rules a user can also be removed if that user is under performing.......Sushilmishra (वार्ता) 12:07, 26 जुलाई 2014 (UTC)
  • @Sushilmishra: There was a discussion sometime back on Meta that an admin who doesn't perform a single task in a year stand to loose their position. I expressed reservations on the proposal. Bill supported it. Sanjeev might be having more updates on the proposal. If this proposal, which already drew tons of support before my vote was passed, then logically, the same laxity applies to people holding other positions just as admins. --मुज़म्मिल (वार्ता) 15:39, 26 जुलाई 2014 (UTC)

@Sushilmishra: Here is something for your reading: https://meta.wikimedia.org/wiki/Requests_for_comment/Activity_levels_of_advanced_administrative_rights_holders --मुज़म्मिल (वार्ता) 16:43, 26 जुलाई 2014 (UTC)

सुशील जी, मैं आपकी नीतियाँ स्वीकार नहीं कर सकता। नीति निर्धारक आप नहीं हो। हिन्दी विकिपीडिया पर प्रबन्धक के लिए सम्पादन से सम्बद्ध नीति विकिपीडिया प्रबन्धक पृष्ठ पर है लेकिन प्रबन्धक को सेवानिवृत करना मेरे अधिकार क्षेत्र में नहीं है। पुनरीक्षक के लिए नीति, अधिकार का दुरुपयोग अथवा स्वेच्छा ही पद-मुक्त करने के कारण हैं। यदि पुनरीक्षक चाहे तो एक भी सम्पादन न करे। उसे अधिकार का दुरुपयोग नहीं कहते।☆★संजीव कुमार (✉✉) 17:53, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: what is the use then of the vote? if its not needed for reviewer to perform any action........why not make every 1 a reviewer without any vote? why this drama of vote? why this cartoongiri of nominating and voting? why not make every 1 a reviewer? already hindi wikipedi have more than 1,10,000 users out which hardly 1% are active so why not make all 1,10,000 users as not only reviewer but admins with out vote...............feel like using some virat kholi language but enough of this stupidty......my vote will not change until and unless demands are met..........Sushilmishra (वार्ता) 20:27, 26 जुलाई 2014 (UTC)
मैं पहले भी कह चुका हूँ, यदि आप नियमावली में बदलाव चाहते हो तो उचित स्थान पर नई नियमावली के साथ चर्चा आरम्भ करो। मैंने आपका मत बदलवाने की कोशिश नहीं की लेकिन निष्पक्ष रवैया रखने का आग्रह किया है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 20:31, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: what will happen with it another new section with no result and you are talking as if you are very hard working person very efficient person.....as long as there are this breed of admins here it wont effect......you all admins should take moral responsibility for sorry state of hindi wikipedia and resign now itself.....Sushilmishra (वार्ता) 20:37, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार और Manojkhurana: i dare you guys and all admins to leave their post now itself......lets see if you guys are man enough to do it?? or you are glued to your posts...............Sushilmishra (वार्ता) 20:45, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: what happened unable to leave your post?? glued to posted with fevicol??........Sushilmishra (वार्ता) 20:56, 26 जुलाई 2014 (UTC)
आप अच्छे प्रबन्धक ले आवो। मुझे कोई आपत्ति नहीं है। लेकिन आपकी गालियाँ सुनकर मैं भागने वाला नहीं हूँ।☆★संजीव कुमार (✉✉) 20:58, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: i dare you to ban me if i abused you provided present the proof...........and hiding under the words that आप अच्छे प्रबन्धक ले आवो। मुझे कोई आपत्ति नहीं है। is not fare, why dont you say you love the power and dont want to leave the post, good admins will come but 1st bad 1 have to be rooted out why not start it with you and you team of under/non performing admins......the dark side of force is upon you.....Sushilmishra (वार्ता) 21:06, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: what happened unable to leave your post?? glued to posted with fevicol??........open challenge to you......you will not leave your post........as you are consumed with the power of dark side of the force, the sith lord has clouded your mind..........Sushilmishra (वार्ता) 21:13, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: the more you struggle the more painful it will be.......surrender to the force and be my apprentice and i shall teach you how to be a jedi knight.....may the force be with you.....Sushilmishra (वार्ता) 21:34, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: fevi fevi fevi fevicol se yeh log chipak gaye hai post se fevicol se.....resign karo resign karo sare nakara admin resign karo.......80% admins are on permanent leave, 10% admins want to abuse power, 5% admins are runing away from making decision, 4% admins are here just to do tech work and 1% is sanjeev(वायु मार्गों).......who is a lame duck sitting on a truck.........Sushilmishra (वार्ता) 23:05, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: you can run but you cant hide.....with my knowledge of force i will soon find you master sanjeev kapoor tandoor......Sushilmishra (वार्ता) 23:23, 26 जुलाई 2014 (UTC)

@Hindustanilanguage: what? Now this is irrelavent?......i say you wht is irrelavent this whole hindi wikipedia is irrelavent......sith lord is ruling this wikipedia and master tandoor is his apprentice.....but jedis will return to free this wikipedia from clutches of this sith lord and his onions(yes i wrote onions).....may the force be with us all.....Sushilmishra (वार्ता) 23:36, 26 जुलाई 2014 (UTC)
@संजीव कुमार: master tandoor leave the dark side of force.......there is still human in you......Sushilmishra (वार्ता) 23:55, 26 जुलाई 2014 (UTC)

पूर्वाग्रह ,Amt000 (वार्ता) 04:18, 27 जुलाई 2014 (UTC)

look at condition of sanjeev......guy tries to work but burden of being admin is too much on him over that if you have a pest like me reminding you about policy every time then it becomes more burdensome.........enjoy karo yaar.......pages bano............and muzamil saab since i am active here never seen you making a page.....eager to see you make few......hum ko bhi mauka do ke aap ke kaam ki tarif kar sake.......Sperm whale fluke.jpg; whale वार्ता 17:47, 3 अगस्त 2014 (UTC)
  • @Hindustanilanguage: oh yes i even read this page गीता और संजय चोपड़ा अपहरण मामला silly me but your rate is slow so its hard to recall........aur yeh itne danger danger topics kyu bhai....hahaha......increase your writing rate mate.......may the force be with you.......Sperm whale fluke.jpg; whale वार्ता 18:03, 3 अगस्त 2014 (UTC)
  • पीयूष जी अभी तक के परिणाम के अनुसार चार गणनीय मतों में से दो (पुनरीक्षक) का समर्थन प्राप्त हुआ है और दो (स्वतः परीक्षित सदस्य) का विरोध। अर्थात आप समर्थन में आगे रहे हो अतः यह मत समझो कि आपके योगदान नकारात्मक रहे। आप बहुमत में हो लेकिन पुनरीक्षक पद के लिए थोड़े से और बहुमत की आवश्यकता है जो आप पूर्ण नहीं कर पाये। शायद अगली बात आप यह कार्य भी पूर्ण कर लोगे। वैसे मुझे जब ये अधिकार मिला था तब मेरे सम्पादनों की संख्या चार हजार के लगभग थी लेकिन सम्पादनों की संख्या आपकी योग्यता का प्रमाण नहीं होता। सम्पादन संख्या तो आप सुशील जी की भी देख सकते हो जिन्होंने आपके कुल योग से अधिक वार्ता पृष्ठ निर्मित कर दिये हैं लेकिन इससे बॉट अधिकार मिल सकते हैं वो भी उस अवस्था में जब यह कार्य किसी स्वचालित तरिके से किया होता। अतः आप निराश ना हों।☆★संजीव कुमार (✉✉) 18:10, 3 अगस्त 2014 (UTC)
  • @Hindustanilanguage: i suggest you ask about it to our honhar sanjeev.......Sperm whale fluke.jpg; whale वार्ता 20:00, 3 अगस्त 2014 (UTC)
  • @संजीव कुमार: जी क्या हिन्दी विकिपीडिया के सदस्य अपने वर्तमान प्रबंधक को काम न करने या किसी और कारण से एक प्रस्ताव पारित करके हटा सकते हैं? मैंने उर्दू विकिपीडिया पर कठिन भाषा को शक्तिपूर्वक लागू करने वाले प्रबंधक को ऐसे ही प्रस्ताव पारित करके हटाए जाते हुए देखा है। --मुज़म्मिल (वार्ता) 20:08, 3 अगस्त 2014 (UTC)
मुज़म्मिल जी, इसका उत्तर सुशील जी को सिद्धार्थ जी वैसे तो अपने वार्ता पृष्ठ पर पहले भी दे चुके हैं फिर भी मैं उसको दोहराता हूँ: विकिपीडिया:सदस्य_अधिकार_हेतु_नीतियाँ#प्रबन्धक/प्रशासक पद से निवृति और विकिपीडिया:प्रबन्धक#प्रबन्धक/प्रशासक पद से निवृति (दोनों समान ही हैं) के अनुसार एक प्रबन्धक को सेवा निवृत किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त यदि सभी सदस्यों को लगता है कि कोई प्रबन्धक विकिपीडिया नियमावली का लगातार उल्लंघन कर रहा है अथवा विकिपीडिया के लिए हानिकारक है अथवा कोई भी कारण है तो विकिपीडिया:प्रबंधक सूचनापट अथवा विकिपीडिया:प्रबन्धन अधिकार हेतु निवेदन पर सम्बंधित नामांकन किया जा सकता है और परिणाम को m:Steward requests/Permissions पर ले जाना होगा।☆★संजीव कुमार (✉✉) 20:21, 3 अगस्त 2014 (UTC)
सुशील जी एक तो इस "तंदूर" से आपका क्या मतलब है? अब यदि आपने इस शब्द को जारी रखा तो आपके वार्ता पृष्ठ सम्पादन पर मैं प्रतिबन्ध लगा दुंगा।
उपर मैंने प्रक्रिया लिखी है। आपको विकिपीडिया:प्रबंधक सूचनापट अथवा विकिपीडिया:प्रबन्धन अधिकार हेतु निवेदन पर एक साधारण नामांकन करना है जिसमें तीन अनुभाग (समर्थन, विरोध और टिप्पणी) बनाने हैं। इसकी सूचना चौपाल पर देनी है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 20:43, 3 अगस्त 2014 (UTC)
Sperm whale fluke.jpg; whale वार्ता 20:59, 3 अगस्त 2014 (UTC)
  • @हिंदुस्थान वासी: आप निराश मत होइये। यहाँ आप पद पाना चाहें तो डिप्लोमेसी के माध्यम से प्रबंधक पद पाने का प्रयास कीजिए क्योंकि हमारे कल्चर के अनुसार आप गौरवमय पद प्राप्त कर चुके होते हैं। उसके बाद आप या तो हिन्दी विकिपीडिया से बिल्कुल ही संयास ले लीजिए या फिर ठप्पा लगाने और पद बचाए रखने के लिए कभी-कभी कुछ काम कर दीजिए। जब मेरे प्रबंधक पद के नामांकन की बात चल रही तब एक पूर्व प्रबंधक ने तो यह भी कह दिया था: "मुझे यह बात समझ में नहीं आती है कि जिसने स्वयं कुछ लेख का योगदान न किया हो वह दूसरे के बनाए लेखों में क्या सुधार करेगा। किन्तु इससे भी बड़ी चीज यह है कि जो पर्याप्त योगदान न दिया हो क्या उसे दूसरों के लेखों में सुधार का नैतिक अधिकार भी है?" जब इस दावे का कारण माननीय सदस्य से उनके सदस्य वार्ता पर पूछा तो उनके पास न तो तब ही कोई उत्तर था न आज है। अर्थात लोग कुछ भी कह सकते हैं। यदि आप सड़क पर जाएँ और कुछ आवाज़ें सुनाई दें तो उनपर ध्यान नहीं देना चाहिए। --मुज़म्मिल (वार्ता) 17:25, 3 अगस्त 2014 (UTC)

कारण देना न तो जरूरी है न अनिवार्य[संपादित करें]

@अनुनाद सिंह: "मुझे लगता है कि कारण देना न तो जरूरी है न अनिवार्य।" मैं आपकी इस बात से पूरी तरह सहमत हूँ। यदि इसे आवश्यक बनाना है तो हमें अपने नियमों में परिवर्तन करना चाहिए।--मुज़म्मिल (वार्ता) 13:14, 4 अगस्त 2014 (UTC)
piyush has followed rules every time.........he posted correct tags at correct place.......gave proper warning......when matter got out of control because of frequent childishness of user he informed admin........wikipedia rules are same irrespective of language...........a mistake is mistake irrespective of status of user......we got many old users who being old shamelessly break rules then say they are old..........but until unless old baggage are removed new 1 should not be added.........Sperm whale fluke.jpg; whale वार्ता 13:15, 4 अगस्त 2014 (UTC)
@Hindustanilanguage: asking reason was just a ploy employed by admin sanjeev so that he can extend this vote........according to rules a vote is open only for 1 week......but here it is 10th day now.......admins sanjeev just employed clever influencing of voter tact.......admins sanjeev voted on 18:10, 3 अगस्त 2014 (UTC) later unfit admin mala on 08:14, 4 अगस्त 2014 (UTC)......this has happened only after talks intensified here between you me and piyush.......pathetic.......khurana saab will nominate any 1 if you give dog a computer and he is clicking then khurana saab will nominate him..........Sperm whale fluke.jpg; whale वार्ता 13:22, 4 अगस्त 2014 (UTC)

विरोध के कारण ( अनुनाद सिंह )[संपादित करें]

ऊपर मैंने इस प्रस्ताव का विरोध किया है किन्तु कोई कारण नहीं दिया है। मुझे लगता है कि कारण देना न तो जरूरी है न अनिवार्य। मैं इस कारण कुछ कारण नहीं देना चाहता था क्योंकि कारण देने के बाद 'कारण पर प्रतिक्रिया' दी जाती है, प्रतिक्रिया पर फिर प्रतिक्रिया दी जाती है और अन्तहीन सा सिलसिला चालू हो जाता है। अन्त में मूल बात छिप जाती है। किन्तु संजीव कुमार जी ने कारण देने के लिये विशेष रूप से कहा है अतः इस सम्बन्ध में कुछ कहना चाहूँगा।
पुनरीक्षक का अधिकार पाने के बाद श्री पीयूष मौर्य क्या-क्या कर सकते हैं और किस सीमा तक जा सकते हैं उसकी एक बहुत छोटी झलक हमें मिल चुकी है। वे पहले 'सन्दर्भ नहीं' का टैग लगायेंगे। जब सन्दर्भ मिल जायेगा तो 'सन्दर्भ कम' का टैग लगायेंगे। जब आठ-दस सन्दर्भ मिल जायेंगे तो 'सन्दर्भ की विश्वसनीयता' का राग अलापने लगेंगे। कोई पूछेगा कि आपको किस वाक्य पर आपत्ति है तो उस वाक्य-विशेष को इंगित करने के बजाय कह देंगे कि इन-इन कड़ियों पर लिखी चीजें पढ लो। यदि कोई उन्हें पढ़ भी लिया और वह कहे कि उसे कुछ सार्थक नहीं मिला तो वे यह भी लिख सकते हैं- स:Amt000 आप पागल हो क्या? बात समझ में नहीं आती, लेख में सिर्फ़ URL का प्रयोग किया गया हैं जो ठीक नहीं हैं। नवागन्तुकों के बारे में श्री पीयूष जी के आचरण की जानकारी के लिये वार्ता:आईएसआईएस पढ़ना काफी होगा।
हिन्दी विकि पर अंग्रेजी विकि के नियमों को आँख मूँदकर लागू नहीं किया जा सकता। अंग्रेजी विकि पर लेखों और लिखने वालों की भारी संख्या है। वह 'रिजेक्शन मोड' में चल रही है। हिन्दी में स्थिति उसके उल्टा है। यहाँ गिनती के साढ़े तीन लिखने वाले हैं किन्तु उसे हटाने वाले, टैग लगाने वाले, बैन लगाने का आवेदन करने वाले उससे कई गुना हैं। (एक आदमी पर पाँच पुलिस!!!) हिन्दी विकि पर लिखने वाले चाहिये। नये आने वालों को पुचकारकर सिखाने और लिखाने वाले चहिये। बिना उनके बताये ही उनकी समस्या को समझने वाले चाहिये। हिन्दी विकि पर कितने सारे लेख बहुत दिनों से संयुक्त किये जाने (मर्ज किये जाने) के लिये सूचित हैं। उन्हें मिलाकर एक बेहतर लेख बनाने वालों का भयानक अकाल है। कारण यह है कि उसमें दिमाग और योग्यता चाहिये।
अधिक नहीं लिखना चाहता। इससे कोई लाभ नहीं है। पीयूष जी को पुनरीक्षक बनाना वैसे ही होगा जैसे जाँच में आरटीओ के सामने ही कोई लाइसेंसार्थी दूसरे की गाड़ी को ठोक दे और आरटीओ फिर भी उसे पक्का लाइसेंस दे दे। ---- अनुनाद सिंहवार्ता 12:59, 4 अगस्त 2014 (UTC)

सुशील जी के नामांकन के समय की गई अप्रसांगिक टिप्पणियाँ[संपादित करें]

  • सुशील भाई, आप फिजी हिन्दी के प्रबंधक बन चुके हैं। मेरा निवेदन है कि आप उसी विकिपीडिया की ओर अधिक ध्याने दीजिए। यहाँ का प्रबंधन एक अलग गुट देख रहा है। मुझे आज प्रसन्नता हुई यह देखकर कि मनोज जी ने आपके विरुद्ध knockout debate का शुभारंभ संजीव जी के अंदाज़ में किया। कृपया अपने नामांकन वापस ले लीजिए। हमें किसी पद से क्या करना? हाँ कुछ सम्पादन-सेवा यदि उचित समझें तो सुविधा अनुसार कर दीजिए। इस पर किसी को आपत्ति नहीं होगी। आगे आपकी इच्छा। --मुज़म्मिल (वार्ता) 15:43, 12 जून 2015 (UTC)
@Hindustanilanguage: oh no mate i am totally cool with it cause i am more active here than some of the admins and have more edits than many others and note it all the pages i created are by normal edits unlike manoj khurana who used AWB bot to create pages, neither i requested for import of any page or template unlike our admin manoj khurana, and this so called वि:पंचशील is essential for all users and if you could see above mentioned आवश्यकताएं does not cite any need to explain anything to any 1....like i should explain so and so point to some permanent admin here to get a vote....no such rule is mentioned above, nothing...i cant see 1...and claims that i dont know hindi is stupid cause had i not knew hindi then i wouldnt be answering this nor i would be creating pages nor editing those pages, hell man i wouldnt even be in a position to find this page and nominate myself....
muzamil saab chill out, cast your vote mate in this section and in Rollbackers section and happy editing -- Sperm whale fluke.jpg Darth Whale वार्ता 19:36, 12 जून 2015 (UTC)
@Sushilmishra:, As asked, I've voted for you. But seriously, there is grave need to build a community for Fiji Hindi. Else, whats the point in having a Wiki for one person only? One of the possible avenues you can think is social media - take this groups like this one or may be starting one like at of Urdu Wikipedia Facebook Group - it has really helped the community. So think of some strategy for Fiji Hindi as well. By the way there are disfunctional Facebook and Twitter a/cs for Hindi Wikipedia. I discussed this on Chaupal long back but nobody showed any interest in either using the existing ones or starting a new one. There's one FB Group for Hindi Wikipedia - but unfortunately there is no presence of our admins here. --मुज़म्मिल (वार्ता) 19:54, 12 जून 2015 (UTC)
मुज़म्मिल जी, आप जानते हैं कि मैं आपका कितना सम्मान करता हूँ लेकिन कभी कभी आप ऐसी बाते कर देते हैं कि चुभ जाती हैं। आपको मुझसे कोई शिकायत है तो आप मुझसे स्पष्टीकरण मांग सकते हैं लेकिन मेरा पक्ष सुने बिना आपने यह फैसला कर लिया यहाँ गुटबाजी चल रही है। अगर मेरा कोई गुट है तो उसके पहले सदस्य आप हैं, मुज़म्मिल जी। हर बात महफिल में करने की नहीं होती और कुछ बाते बंद होठों से की जाती हैं। आप से मेरा जितना पाला पड़ा है उससे मुझे यह तो पता है कि आप एक भावुक इंसान हैं और कई बार भावुकता में कदम उठा लेते हैं। यह मैंने सतदीप गिल की मेटा पर शिकायत वाले मामले में देखा। लेकिन बात साफ होने पर आप पहले जैसे ही हो गए यह आपकी मेच्योरिटी का परिचायक है। गलती करना गलत नहीं है, लेकिन अपने आप को बदलने से इंकार करना अवश्य गलत है। सुशील जी की नीतियों के प्रति प्रतिबद्धता से कौन इन्कार कर सकता है। लेकिन जैसा कि मैं पहले हमेशा करता आया हूँ,यदि उनकी अच्छाई की प्रशंसा करूंगा तो बुराइयों के प्रति आगाह भी अवश्य करूंगा। जो बात उनके विरोध में जाती है मैं उसके प्रति उन्हें आगाह कर रहा था, लेकिन उन्होंने जिस तरह व्यक्तिगत प्रहार से जवाब दिया है उससे साफ है कि वे अभी सुधरे नहीं हैं। ऐसी ऐसी बातों पर गलतियाँ निकाल डाली कि कोई क्या ही कहे। वो भी सिर्फ इसलिए कि मैंने एक प्रश्न कर दिया, एक बुराई याद दिला दी। आप एक वरिष्ठ और पुराने सदस्य हैं - आप ही बताइये AWB का उपयोग करना भी कोई विरोध का कारण है। साफ है कि सुशील जी इतने मेच्योर अभी नहीं हुए हैं कि अपनी बुराई सुन पाएँ और सहन कर पाएँ। पुनरीक्षक, प्रबंधक बनकर ये क्या कहर बरपाएंगे ऊपरवाला ही जानता है। यदि आपको मुझसे कोई शिकायत है तो मैं मेल पर आपकी समस्त शंकाओं का समाधान कर सकता हूँ। आप मुझे मेरी बातों का जवाब दे दीजिये मैं अपना विरोध वापिस ले लूंगा। मैंने पहले भी उनका नामाँकन करके जुआ खेला है लेकिन क्या आपको नहीं लगता कि जब इतने लोगों का समझना समझाना हो गया, इतना समय बीत गया, एक विकि पर वे प्रबंधक हो भी गए उसके बाद भी एसा बर्ताव चिंता का विषय है? --मनोज खुराना 06:47, 13 जून 2015 (UTC)
मनोज जी, पता नहीं क्यों मैं स्वयं को यहाँ पर अछूत समझ रहा हूँ। इसका परिणाम कुछ लेखों के प्रारंभ में देखा जा सकता हैं जिन्हें मैं शुरू तो कर चुका हूँ पर पूरा करने का मन नहीं है।
इससे भी विचित्र बात ये देखकर मुझे आश्चर्य हो रहा है कि कोई मामूली-सी गलत-फहमी को तूल देने का प्रयास किया जा रहा है जैसे कि श्री सतदीप गिल जी और मेरे बीच होने वाली बात! कॉमन्स पर पेन्यूलप मेरा कड़ा विरोधी था। पर बाद में हम अच्छे मित्र बन गए और उसने मेरे कार्य के लिए बार्नस्टार भी दिया। अंग्रेज़ी विकि पर डगलस और यूरिअलीकैन मेरे विरोधी बन गए थे पर समय के बदलते-बदलते यूरिअलीकैन ने मुझे कई बार थैंकयू हिन्दुस्तान कहा और डगलस ने मेरे कुछ सम्पादनों से अपनी असहमति हटाते हुए मेरी प्रशंसा की। सतदीप जी मेरे एक पंजाबी विकिपीडिया पर लिखे गए ब्लॉग का हिस्सा बने, फ़ेसबुक के मित्र हैं, दो-तीन बार मिले हैं, मेटा और उर्दू के वार्ता पृष्ठों पर बातचीत करते रहे हैं और भविष्य में कई सहयोग के अवसर हैं। हम दोनों के बीच आप विवाद क्यों पैदा करना चाहते हैं? व्यक्तियों और राष्ट्रों के इतिहास में यदि बुरी बातें भुलाई जाएँ और नई परम्पराओं की तलाश की जाए तो ही अच्छा है। मैं बिल जी, हुन्नजज़ल जी, अनुनाद जी, माला जी, रवीन्द्र प्रभात जी और सभी हिन्दी विकिपीडियाई साधियों को एक मंच पर देखना चाहता हूँ। क्या ये सपना बुरा है? या हम मरते दम तक एक दूसरे का विरोध करते रहेंगे? --मुज़म्मिल (वार्ता) 18:19, 13 जून 2015 (UTC)
मुज़म्मिल जी, कृपया मैंने जो लिखा है दोबारा पढें। सतदीप गिल वाला किस्सा इसलिए लिखा है क्योंकि आजतक आपका मेरा विरोध वहीं हुआ है। वहाँ आपने जिस तरह मेच्योरिटी दिखाते हुए मामला वापिस ले लिया उसी की प्रशंसा की है मैंने। आपको कहाँ से तूल और विरोध और विवाद पैदा करने की कोशिश दिखी इसमें। मेरी भाषा अगर ठीक नहीं थी तो आशा करता हूँ कि इस कमेंट से मेरी बात साफ हो गयी होगी। मैं असल में कोशिश कर रहा हूँ कि सुशील जी शायद आपसे कुछ सीखें। उस किस्से में आपका विरोध जायज था लेकिन सामने वाले ने गलती मान ली तो माफ करने में आपने कोई देर नहीं की। काश किसी को माफ करना सुशील जी सीख पाते। भगवान ने गलतियाँ करने का अधिकार जो इन्सान को दिया है, काश सुशील जी उसे स्वीकार कर पाते। ना वो कभी अपनी गलती मानते हैं ना ही किसी दूसरे की माफ करते हैं। कोई एक बार गलती कर दे तो उसकी हर बात गलत। किसी का एक पेज खराब तो उसके सभी पेज खराब। किसी ने एक पेज अपना या अपने रिश्तेदार का बना दिया तो उसे देश-निकाला। किसी प्रबंधक ने इनका कहा मानने में देरी कर दी या सुस्ती दिखा दी तो वो लेम डक। किसी ने इनकी एक गलती निकाल दी तो वो तो गया काम से। भगवान जाने अब मेरा क्या होने वाला है। इतनी बुराईयाँ करके पंगा ले लिया है सुशील जी से। अब टाँगे काँप रही हैं मेरी। "जान लेने को तो ले ली परवाने की, अंजाम पे अपने लौ शम्मा की थर्राती है।" --मनोज खुराना 15:04, 15 जून 2015 (UTC)
मनोज जी, ठीक है, उन बातों के बारे में जो आपने मेरे सम्बंध में कही हैं। --मुज़म्मिल (वार्ता) 15:14, 15 जून 2015 (UTC)
@Manojkhurana: khurana saab you know what your problem is....you like to talk the talk but dont want to walk the talk....you get it....either you do nothing or do stupidity....example of stupidity is your vote here....you got many inactive right holders here but you are scared to have an active right holder here cause you know what you are scared....you are scared cause i might end up screwing you...you are so pissed at me that you tried to bring attention to this vote for get negative vote against me but when you saw its failing you voted against me...this shows your true intention....you like a coward start a nomination about me knowing i wont get vote....and when i self nominated my self knowing i would win it you poked your negative nose....you know what its you who has been causing problems for me....you cant even make a portal page mate nor a simple article page with using help of a bot....and you come here and say that you wish to edit on hifwiki hahaha....1st work on wiki of which you are an admin try to clean it up 1st then think of other wikis....Mr please create a portal for me.....Sperm whale fluke.jpg Darth Whale वार्ता 02:37, 16 जून 2015 (UTC)
सुशील जी, माफी चाहता हूँ कि एक सवाल और कर रहा हूँ? मैं चाहता हूँ कि फिजी हिंदी पर AWB का प्रयोग करते हुए कुछ पृष्ठ बनाऊं। एक प्रबंधक होने के नाते क्या सलाह देंगे आप? --मनोज खुराना 07:08, 13 जून 2015 (UTC)
@Manojkhurana: hey why not go for importer right and import all the pages from other wiki as it ll be less time consuming...how about giving importer right to every 1 on this wikipedia that way instead of self creating something on own, we all can import pages from english wiki...already few are doing it isnt it...i mean import should be done for only templates and modules but wow we have people here importing whole page too....any reason for it? Cant they create those page on their own? And amazing thing is that they are importing pages from english wikipedia...it is neither indic language nor uses devnagri script....i created near 600 pages here all linked with english wiki pages and mind you never asked for import....
hey manoj how about sitting online 1 sunday and importing whole english wikipedia here all 4 million pages easy right need not have AWB just import right is enough....a shortcut if it can be avoided then it should be avoided...it might consume time...no issues no 1 is forcing you to create 100 pages in 1 day...create 1 or 2 pages a day thts enough to help expand wikipedia...btw manoj i am active on 5 different wikipedias and i create just 1 or 2 pages per day on each wiki or some times none...this way i have over 25000 edits and over 1000 new pages and 500 image uploads....for more info go to my userpage and click data link...you ll figure out my activities...and about edits on hifwiki...mate you are welcome to do it...give it a try its an easy language...but try traditional way as its more fun....may be you can create only 1 page per day...no issue...but try it...hope to see you there mate...

पुनरीक्षक पद हेतु निवेदन[संपादित करें]

मुझे हिंदी भाषा की पुरी जानकारी है, मैंने अभी तक १० से ज्यादा संपादन किया है एवं मैंने अंग्रेजी विकिपिडिया पर भी ४०० से ज्यादा संपादन करने का अनुभव है , अथवा आप मुझे पुनरीक्षक पद देने का कष्ट करें। SwagLevelHigh (वार्ता) 19:39, 14 मई 2018 (UTC)

कृपया मुझे स्वत: स्थापित सदस्य पद प्राप्त करने का मौका दें[संपादित करें]

==[[सदस्य:कखग|कखग]]==
{{sr-request
|Status    = <!-- यह लाइन न बदलें -->
|user name =Mayank123456 srivastava 
|Purpose = <!-- हाँ-->
}}
;स्वीकृति

;मत

;परिणाम
<!-- नया नामांकन इस लाइन के नीचे करें -->


Lovehai (वार्ता) 08:00, 21 अप्रैल 2019 (UTC)