वार्ता:कुबेर नाथ राय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

यह पृष्ठ कुबेर नाथ राय लेख के सुधार पर चर्चा करने के लिए वार्ता पन्ना है। यदि आप आप अपने संदेश पर जल्दी सबका ध्यान चाहते हैं, तो यहाँ संदेश लिखने के बाद चौपाल पर भी सूचना छोड़ दें।

लेखन संबंधी नीतियाँ

ब्लॉग से कॉपी पेस्ट[संपादित करें]

शुभम कनोडिया जी !

आपने कुबेर नाथ राय पर डाले गए लेख पर जो कॉपीराइट सम्बन्धी आपत्ति कि है उसमें आपका संकेत सही है। लेकिन वह ब्लॉग और उसपर सम्पादित सामग्री दोनों दोनों मेरे ही है। वह ब्लॉग २००८ में मैंने ही शुरू किया था, कुबेरनाथ राय पर एक ख़ास पहल के रूप में। लेकिन उसपर लोगों ने ब्लोगेर के कुबेरनाथ रे समझने का भ्रम हुआ. . टिप्पड़ियां भी उसी समझ के साथ आईं इसलिए मुझे उस ब्लॉग को बंद करना पड़ा. आज मुझे उसका पासवर्ड और ई डी दोनों यद् नहीं। हाँ इस लेख का पूरा लेख मेरी प्रकाशित पुस्तक कुबेर नाथ राय: परिचय और पहचान में यथावत प्रकाशित है। साथ ही यह मेरे शोध-प्रबंध भारतीयता कि संकल्पना और कुबेर नाथ राय में भी प्रकाशित है। जो ब्लॉग पर लेख डाले जाने से पूर्व महात्मागांधी अंतर्राष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय वर्धा द्वारा m. phil. उपाधि के लिए स्वीकृत और उपाधि उपाधि प्राप्त हो चुकी थी। अतः यहां कॉपीराइट जैसी किसी समस्या का आधार नहीं बनता . इस पर प्रकाशित सामग्री मेरी निजी और मौलिक है। इसे मैं विकिपीडिया को सौप रहा हूँ . धन्यवाद ! --Samay Samvaad (वार्ता) 18:12, 25 जनवरी 2014 (UTC)

राजीव जी सबसे पहले तो विकिपीडिया पर आपका स्वागत है!
अब जब की आपने यह स्पष्ट कर दिया है कि आपने अपने ब्लॉग से सामग्री डाली है, और विकिपीडिया पर उपयोग करने की अनुमति प्रदान की है, तो कॉपीराइट सम्बन्धी कोई सवाल ही नहीं उठता। आपके योगदान के लिए धन्यवाद!
एक और बात, मैंने आपके ब्लॉग का लिंक "बाहरी कड़ियाँ" अनुभाग से हटा दिया था क्यूंकि यह अनुभाग केवल ऐसी कड़ियों के लिए होता है जो कि विषय के बारे में ऐसी रोचक अथवा विस्तार जानकारी दे जो मौजूदा विकिपीडिया लेख नहीं प्रदान करता। ऐसी कड़ियाँ विश्वसनीय होनी चाहिए। क्यूंकि ब्लॉग की सामग्री पहले से ही विकिपीडिया लेख में मौजूद है, इसलिए इस ब्लॉग पर जाने वाले व्यक्ति को कोई नई जानकारी या अनुसंधान नहीं प्राप्त होगा, इसलिए यह व्यर्थ है। विकिपीडिया पर बाहरी कड़ियाँ डालने के कुछ सुझाव एवं नियमावली आप यहाँ पढ़ सकते हैं -W:wikipedia:External links
आगे से अगर किसी लेख के बारे में चर्चा करनी हो तो कृपया उस लेख के वार्ता पृष्ठ पर सन्देश लिख दें। मेरा ध्यान आकर्षण करने के लिए आप मेरे वार्ता पृष्ठ पर सन्देश छोड़ सकते हो।░▒▓शुभम कनोडिया वार्ता 05:24, 26 जनवरी 2014 (UTC)


राजीव जी आपने तो बुरा मान लिया! न तो मैं आई आई टी का छात्र हूँ, और न ही मैंने सामग्री से छेड़ छाड़ की है। मैंने यह नहीं कहा की आपकी मंशा ब्लॉग प्रचार की थी। w:Wikipedia:External_links#Links normally to be avoided में कृपया बिंदु नं 11 पढ़ें। इससे आपको शायद ज्यादा जानकारी मिल पाए।
दूसरी बात: हाल ही में आपने एक नया पृष्ठ कुबेरनाथ राय बनाकर उसपर कुबेर नाथ राय की सामग्री डाल दी। दो अलग अलग लेख बनाने के बजाए आप ऐसे लेखों को मुख्य लेख पर अनुप्रेषित कर सकते हो।
तीसरी बात: "राजीवरंजन,. कुबेरनाथ राय : परिचय और पहचान" का सन्दर्भ पहले से ही "सन्दर्भ" अनुभाग में मौजूद है, इसे दोबारा "संदर्भ-ग्रंथ" अनुभाग में जोड़ने से केवल पुनरावृत्ति होती है। इसलिए मैंने इसे हटा दिया था। कृपया वापस जोड़ने से पहले, बदलाव के पीछे का कारण समझें, नहीं तो वार्ता पृष्ठ पर सन्देश छोड़ दें। ░▒▓शुभम कनोडिया वार्ता 12:36, 26 जनवरी 2014 (UTC)

शुभम जी !

जवाब के लिए और अनुप्रेषित जोड़ने के लिए आपका धन्यवाद . मैंने सिर्फ `निबंध अंश' के भीतर दो अलग-अलग निबंधों के एक दूसरे में मिला देने के कारण आपके द्वारासंपादन पर आपत्ति की थी। उसपर शायद आपने ध्यान नहीं दिया। मेरे लिए कुबेरनाथ राय से सम्बंधित सूचना देना महत्वपूर्ण है . बाकी बातें गौण. मेरे प्रयास यहां सही और सटीक सूचना देना भर है। ताकि कुबेरनाथ राय को पढने और उनपरकामकरने वाले लोगों को सूचना और सहयोग मिल सके। --Samay Samvaad (वार्ता) 13:21, 26 जनवरी 2014 (UTC)

Dhanyavaad !

चित्र के सम्बन्ध में[संपादित करें]

शुभम जी ! नमस्कार , आप अच्छा काम का रहे हैं बधाई। कुबेरनाथराय के पृष्ठ पर डाला गया उनका चित्र किन कारणों से हटाया गाया ? क्या यह विकिपीडिआ को एक sandehaspad चित्र लगा ? या फिर इसके सर्वाधिकार से judee कोइ बात लगी ? यदि सम्भव हो तो स्पष्ट करें।

यह चित्र वस्तुतः उनके मूर्ती देवी पुरस्कार ग्रहण करते समय का है। यह इंटरनेट की दुनिया में कॉपीराइट मुक्त चित्र की तरह इस्तेमाल हो रहा है, लेकिन इसका मूल रूप में कॉपीराइट हमारे पास है , यह उसी का संशोधित रूप है। इसे मैंने उनके पुत्र कौशलेन्द्र कुमार राय की इच्छा और सहमति से जारी किया है अतः मेरी समझ से कुछ मामला नहीं बनता। 23:16, 10 फ़रवरी 2014 (UTC)Samavay India (वार्ता)

प्रमाणित[संपादित करें]

बधाई ! विकिपीडीए के समझदार सम्पादकों को, जिन्हे मृत्युतिथि अंकित होने के बावजूद भी कोई व्यक्ति ज़िंदा लगता है। विकिपीडिया पर तमाम लेखकों और साहित्यकारों के सम्बन्ध में जो गलत जानकारियां हैं उसे किन प्रामाणिक स्रोतों से उपलभकराया गया है। इस पृष्ठ पर दी गयी सामग्री को प्रमाणित करना स्वनामधन्य सम्पादकों की जिम्मेदारी है। यदी उनकी बढ़ी का दायरा इतना कम,संकुचित और ज्ञान इतना पल्लवग्राही है तो वे इस दायित्व के सर्वथा अयोग्य हैं। इसा दोयम दर्जे के माद्यम से मैं कुबेरनाथ राइ पृष्ठ समूची सामग्री हटाने की अनुशंषा करता हूँ। इसे गम्भीर माध्यम सामझकर यह सारी सामग्री डालना मेरी भूल थी इसे मैं स्वीकारता हूँ। यथार्थ का बोध कराने के लिए आभार !21:18, 22 फ़रवरी 2014 (UTC)Samay Samvaad (वार्ता) 21:30, 22 फ़रवरी 2014 (UTC)

बेहतर हो की विकिपीडिया इस पूरे अंश को हटा दे , ऐसा करने से यह पूरी तरह प्रमाणित हो जाएगा कि यह एक बकवास माध्यम है और इसका एक सही और बेहतर विकल्प उपलब्ध हो सकेगा . तमाम गलत-सलत त्रुटिपूर्ण जानकारियों को सुधारने के बजाय सही और सटीक सामग्री के लिए व्यर्थ में द्रविण प्राणायाम करने से उसे बाज आना चाहिए। विकिपीडिया लगातार असफल और अयोग्य सिद्ध हुई है और होगी . इसके लिए उसके सम्पादकों शुभकामनाए !Samavay India (वार्ता) 21:37, 22 फ़रवरी 2014 (UTC)

नमस्ते समय संवाद जी और समवाय इण्डिया जी, आपने इस लेख पर लगे टैग को देखकर हो-हल्ला तो आरम्भ कर दिया लेकिन कृपया ये हो-हल्ला थोड़ा शान्ति से किया जाये तो अच्छा है। टैग मैंने हटा दिया है लेकिन ध्यान रखें वो टैग जीवनी में स्रोत कम होने से सम्बद्ध रखता था। दूसरी बात जब आप कोई सन्दर्भ जोड़ रहे हैं तो कृपया स्रोत को देखकर ही लगायें। आपने अंग्रेज़ी विकिपीडिया से कुछ स्रोत कॉपी-पेस्ट तो किये लेकिन उनका लिप्यंतरण करना उचित नहीं समझा जैसे - (Maheshwari, Suresh (1999). Lalita nibandhakāra Kuberanātha Rāya : vyaktitva-kr̥titva kī lalita ālocanā. Bhavana Prakashan. p. 192. ISBN 978-81-7667-000-5.)। चूँकि ये पुस्तक हिन्दी में ही लिखी है और इसके शीर्षक, प्रकाशक, लेखक आदि सभी देवनागरी में होना चाहिए लेकिन बिना देखे कॉपी-पेस्ट के कारण इस तरह के सन्दर्भ जुड़ते हैं। जो भी हो आप इस लेख में बेशक सम्पादन कर सकते हो और आपका ऐसा करने के लिए तहे दिल से स्वागत है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 06:59, 23 फ़रवरी 2014 (UTC)

टांग भिड़ाना[संपादित करें]

संपादक को ज्ञानवान होना चाहिए , जिस विषय की जानकारी नहीं है उसमें टांग भिड़ाना विकिपीडिया के हिंदी सम्पादकों का महत्तर दायित्व है। पहले ज्ञानवान बनें , फिर किसी भी पृष्ठ पर टिप्पड़ी जोड़ें। अपनी मूढ़ताओं के प्रदशन का माध्यम बना कर विकिपीडिया का सत्यानाश न करें। 106.195.193.195 (वार्ता) 21:48, 22 फ़रवरी 2014 (UTC)

कुबेरनाथ राय संस्क्रित के लेखक[संपादित करें]

कुबेरनाथ राय संस्क्रित के लेखक नहीं, हिन्दी के लेखक है। वे शोधार्धी भी नही थे, ललित निबन्धकार थे। निबन्धों में अनुसंधानपरकता है लेकिन कोइ शोध कार्य उनका उद्देश्य था न उनकी पहचान का आधार और न ही उनके रचना का क्षेत्र । वे मौलिक लेखक थे। मौलिक निबन्धकार। अंग्रजी में कुछ लेख अवश्य लिखे है जो अप्रकाशित हैं। Samavay India (वार्ता) 12:47, 23 फ़रवरी 2014 (UTC)

सम्पादन के सन्दर्भ में[संपादित करें]

संजीव कुमार जी! आपके निर्देश अनुसार कुबेर नाथ राय पेज पर सन्दर्भ जोडे गए थे । उन्हें आप द्वारा क्यों हटा लिया गया ? मेरा उद्देश्य कुबेर्नाथ राय पके सम्बन्ध में बेहतर जान्कारी देना है। ताकि यहां पर एक महत्वपूर्ण पेज जुड सके। मुझे कोई पूर्वग्रह नहीं है लेकिन अफ्सोस जरूर है कि जब से यह पेज बना है तबसे इसपर तमाम आपत्तियां की गईं। रोज-रोज की नकारात्मक टिप्पडियों से आजिज आ चुका हूं। यदै यह सामग्री अप्रसङिक लगे तो तुरत हटा लूं। क्योम्कि मेरे पास कोइ विकल्प नहीं बचा है।— इस अहस्ताक्षरित संदेश के लेखक हैं -Samavay India (वार्तायोगदान)

Samavay India जी, मैं मेरे पिछले सम्पादन के लिए क्षमा चाहता हूँ। मुझे स्वयं को समझ नहीं आ रहा कि मैंने तो वो परिवर्तन नहीं किये थे। मैं केवल गलती से इतिहास के एक पृष्ठ को सम्पादित कर चुका था जिसके लिए क्षमा चाहता हूँ। आप बेशक लेख का सम्पादन करते रहें और सन्दर्भ भी देते रहें तो लेख बहुत ही सुन्दर हो सकता है।☆★संजीव कुमार (✉✉) 15:23, 23 फ़रवरी 2014 (UTC)

मूल शोध हटाया[संपादित करें]

लेख में से वि:मूल शोध नहीं नीति के तहत मूल शोध हटाया गया है। लेख के लेखक ने इनके और इनकी रचनाओं पर अपने ही विचार लिख डाले थे। विशेषज्ञ के विचार लिखे जाते। कोई भी असहमति पर यहाँ चर्चा करे।--पीयूष (वार्ता)योगदान 13:49, 27 जनवरी 2015 (UTC)