रोमन सैनी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
रोमन सैनी
Roman Saini 1.JPG
रोमन सैनी
जन्म जयपुर, राजस्थान, भारत
राष्ट्रीयता भारतीय
शिक्षा प्राप्त की अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली
व्यवसाय प्रशासनिक अधिकारी, उद्यमी, मोटिवेशनल स्पीकर, गिटारिस्ट
प्रसिद्धि कारण Unacademy
वेबसाइट
unacademy.in

डॉ॰ रोमन सैनी एक भारतीय प्रशासनिक सेवा अधिकारी हैं जो अनएकेडेमी नामक ऑनलाइन शैक्षणिक संस्था के संस्थापक है।[1][2] वे मोटिवेशनल स्पीकर और गिटारिस्ट भी हैं। ,रोमन सैनी ने निःशुल्क शैक्षणिक पहल अनएकेडेमी पर ध्यान देने के लिए भारतीय प्रशासनिक सेवा से इस्तीफा दे दिया है। दैनिक भास्कर के साक्षात्कार में रोमन ने कहा की सिविल सर्विस छोड़ने का फैसला कठिन था। लेकिन हमारी ये पहल एजुकेशन की तस्वीर बदलेगी।[3][4][5][6][7][8][9]

परिचय[संपादित करें]

रोमन राजस्थान में कोटपूतली के रायकरणपुरा गांव के मूल निवासी हैं। 2013 में उन्होंने आईएएस की परीक्षा पास की और उन्हें देशभर में 18वां रैंक मिला। रोमन की मां गृहिणी और पिता इंजीनियर हैं।

इन्होने 16 साल की उम्र में एम्स जैसे प्रतिष्ठ‍ित संस्थान में दाखिले का टेस्ट पास कर लिया। डॉक्टरी की पढ़ाई करने के बाद 22 साल की उम्र में ही पहले प्रयास में रोमन ने आईएएस का एक्जाम भी पास कर लिया।[10] आईएएस अफसर डॉ॰ रोमन सैनी अब उन स्टूडेंट्स को ऑनलाइन फ्री कोचिंग दे रहे है जो सिविल सेवा में जाने को इच्छुक हैं।

रोमन सैनी आधुनिक भारत के उन जोशीले युवाओं का नेतृत्व करते हैं जिनके लिए मुश्किलों का सामना करके विजय प्राप्त करना उनका जुनून होता है। रोमन सैनी उन लोगों का नेतृत्व करते हैं जो कर्म को भाग्य से ज्यादा अपने जीवन में तरज़ीह देते हैं।


मैं मानता हूं कि हम अपने हर सपने को साकार कर सकते हैं। मेरा ऐसा मानना है कि कोई आपको सफलता के लिए प्रेरित तब तक नहीं कर सकता है जब तक कि आप स्वयं को प्रेरित करने का संकल्प न लें। सफलता प्राप्त करने का मूलमंत्र आपके अपने अंदर ही छिपा होता है। मैने सफलता पाई क्योंकि जो मेरा दिल कहता था मैं वो पूरी ईमानदारी के साथ करता था। जरूरी नहीं कि आपकी इच्छा जिस काम को करने में हो उसका कोई अंतिम पड़ाव तक पहुंचना आवश्यक ही हो जैसे मुझे गिटार बजाना अच्छा लगता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि मुझे इंग्लैंड के ट्रिनिटी कॉलेज एडमिशन लेना है। एक डॉक्टर के रूप में या एक आईएएस अधिकारी के रूप में या फिर एक उद्यमी के रूप में अगर लाखों लोगों को की सहायता कर पा रहा हूं तो इसका भी मूल कारण हैं कि मुझे ये अच्छा लगता है।

—रोमन सैनी[11]

अनएकेडेमी[संपादित करें]

आमतौर पर संघ लोक सेवा आयोग की कोचिंग लेने पर काफी खर्च होता है और हर कोई कोचिंग नहीं ले पाता है। सिविल सेवा में आने के बाद रोमन ने फैसला किया कि वो फ्री ऑनलाइन ट्रेनिंग के जरिये अन्य प्रतिभागियों की मदद करेंगे। इसके लिए उन्होंने 'अनअकादमी' की शुरुआत की। यह ऑनलाइन कोचिंग की वेबसाइट है जिसे वो अपने दोस्त गौरव मुंजाल के साथ मिलकर चलाते हैं।[12]

रोमन के वीडियो और भाषणों को सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट पर हर दिन सैकड़ों हिट मिल रहे हैं। इन वीडियो और भाषणों में वो प्रतिभागियों को ऐसे गुण सिखाते हैं जो उन्हें सिविल सेवा की मंजिल छूने में उपयोगी साबित हो सकती है। रोमन इस वेबसाइट के जरिये देशभर के यूपीएससी प्रतिभागियों से रुबरु होते हैं और उन्होंने ऑनलाइन ट्रेनिंग देते हैं। इस तरह के कई वीडियो रोमन ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किए हैं। इनमें रोमन अलग अलग विषयों पर बात करते हैं और स्टूडेंट्स के सवालों के जवाब देते हैं। रोमन कभी कभार प्रतिभागियों से मिलते भी जब उन्हें वक्त मिलता है।[13]

रोमन अनेकों प्रतियोगी छात्रों व पढ़ाई कर रहे युवाओं से कहते हैं कि अगर किसी को भी अपने जीवन से संबंधित कोई समस्या होती है या किसी परीक्षा से संबंधित कोई प्रश्न हो या कैरियर से संबंधित किसी भी तरह की कोई जिज्ञासा हो और उन्हें सहायता चाहिए तो वह उनसे बेझिझक उनके फेसबुक या ट्विटर प्रोफाइल पर संपर्क कर सकते हैं। वह सदैव ऐसे लोगों की सहायता करने के लिए तत्पर रहते हैं। [14]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Zehra, Aiman (26 June 2015). "From the horse's mouth". द हिन्दू. नई दिल्ली. द हिन्दू. मूल से 18 दिसंबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 27 June 2015.
  2. "IAS providing free tuition to poor". Bureaucracy Today. 12 August 2015. मूल से 18 नवंबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 15 August 2015.
  3. Manash Pratim Gohain (January 10, 2016). "24-year-old quits IAS to turn free e-tutor". The Times of India. Times of India. मूल से 10 जनवरी 2016 को पुरालेखित.
  4. "A doctor and an IAS at 24, this man quits job to become an e-tutor". Zee News. January 10, 2016. मूल से 13 जनवरी 2016 को पुरालेखित.
  5. "24-Year-Old Quits Comfy IAS Job To Help Students Across The Country Realise Their Dreams". India Times. January 10, 2016. मूल से 10 जनवरी 2016 को पुरालेखित.
  6. Nithya Nair (January 10, 2016). "Young IAS officer quits job, offers free online education for civil service aspirants". India.com. मूल से 13 जनवरी 2016 को पुरालेखित.
  7. "दूसरों को अफसर बनाने को छोड़ी आईएएस की नौकरी". Rajasthan Patrika. January 9, 2016. मूल से 10 जनवरी 2016 को पुरालेखित.
  8. "22 की उम्र में बने थे IAS, अब नौकरी छोड़ बच्चों को देंगे फ्री में एजुकेशन". Daily Bhaskar. January 10, 2016. मूल से 10 जनवरी 2016 को पुरालेखित.
  9. "कौन है स्टार्ट-अप इंडिया प्रोग्राम में स्पेशल निमंत्रण पाने वाले डॉ॰RAJESH JI ?". One India. october16, 2019. मूल से 10 जनवरी 2016 को पुरालेखित. |date= में तिथि प्राचल का मान जाँचें (मदद)
  10. "IAS cracker passing on his know-how for free". DNA India. 9 January 2015. मूल से 11 जनवरी 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 March 2015.
  11. 16 साल की उम्र में डॉक्टर , 22 की उम्र में आईएएस और अब एक कामयाब उद्यमी Archived 2015-04-29 at the Wayback Machine, YourStory, September 14, 2015
  12. Gohain, Manash Pratim (11 August 2015). "Unacademy's unconventional tutorials for underprivileged". Times of India. नई दिल्ली. TNN. मूल से 15 अगस्त 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 15 August 2015.
  13. शेडगे, अमृता (11 January 2015). "युवा IAS डॉ॰ रोमन सैनी देते हैं UPSC की फ्री कोचिंग". Aaj Tak. मूल से 2 अप्रैल 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 March 2015.
  14. Shedge, Amruta (10 January 2015). "Youngest IAS Roman Saini passing on his know-how to other aspirants for free". इंडिया टुडे. Jaipur. इंडिया टुडे. मूल से 21 फ़रवरी 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 7 March 2015.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]