भौतिकी के मूलभूत सिद्धान्तों के खोज का इतिहास

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
सन् १७८० के पूर्व की मूलभूत भौतिकी के अनुसंधान
1021 प्रकाश का इंट्रोमिशन सिद्धान्त, इब्न अल-हाजेन
1687 गति के नियम तथा गुरुत्वाकर्षण का नियम, न्यूटन
सन् १७८० के उपरान्त के मूलभूत भौतिकी के अनुसंधान
प्रकृति के नियमों के बारे में हमारी जानकारी में प्रगति - चाहे वह कोई प्रायोगिक खोज हो या सैद्धान्तिक प्रस्ताव हो जिसे बाद में प्रयोग द्वारा सिद्ध किया गया हो
1780  
1782 द्रव्य की अविनाशिता का नियम, लैवाशिये (Lavoisier)
1785 वैद्युत आवेशों से सम्बन्धित व्युत्क्रम वर्ग नियम की पुष्टि हुई, कूलॉम्ब
1801 प्रकाश का तरंग सिद्धान्त, यंग
1803 पदार्थ का परमाणु सिद्धान्त, डाल्टन
1805  
1806 गतिज ऊर्जा, यंग
1814 प्रकाश का तरंग सिद्धान्त, व्यतिकरण फ्रेस्नेल (Fresnel)
1820 विद्युत-चुम्बकीय अन्योन्यक्रिया का प्रमाण; एम्पीयर, बायो (Biot), सेवर्ट (Savart)
1824 आदर्श गैस चक्र का विश्लेषण, अन्तर्दहन इंजन, सादी कार्ना (Sadi Carnot)
1827 प्रतिरोध आदि, ओम (ohm)
1830  
1838 चुम्बकीय बल रेखाएँ, क्षेत्र (fields); फैराडे
1838 पृथ्वी का चुम्बकीय क्षेत्र ; वेबर
1842–3 ऊर्जा का संरक्षण ; जुलियस रॉबर्ट मेयर, विलियम थॉम्सन
1842 डॉप्लर प्रभाव, लॉर्ड केल्विन
1845 फैराडे घूर्णन (प्रकाश और विद्युतचुम्बकीय)
1847 ऊर्जा संरक्षण 2 ; जूल, फॉन हेल्मोल्ज
1850–1 ऊष्मागतिकी का द्वितीय नियम; रुडॉल्फ क्लासियस, केल्विन
1855  
1857–9 गतिज सिद्धान्त, क्लासियस, जेम्स क्लार्क मैक्सवेल
1861 कृष्णिका (Black body), किरचॉफ
1863 एन्ट्रॉपी (Entropy); क्लासियस
1864 विद्युतचुम्बकीय क्षेत्र का गतिकीय सिद्धान्त ; मैक्सवेल
1867 गैसों का गतिकीय सिद्धान्त; मैक्सवेल
1880  
1871–89 सांख्यिकीय यांत्रिकी; बोल्टमान, गिब्ब्स
1884 बोल्टमान ने स्टीफान के विकिरण नियम की उपपत्ति (derivation) निकाला
1887 विद्युतचुम्बकीय तरंगें; हर्ट्ज
1893 वीन (Wein) का विकिरण नियम
1895 एक्स-किरण
1897 एलेक्ट्रॉन
1900 प्लैंक का विकिरण सम्बन्धी सूत्र
1905  
1905 आपेक्षिता का विशिष्ट सिद्धांत, आइंस्टीन

प्रकाश वैद्युत प्रभाव, आइंस्टाइन

ब्राउनी गति, आइंस्टाइन
1911 तुल्यता सिद्धान्त (Equivalence Principle)

नाभिक की खोज

अतिचालकता
1913 बोर (Bohr) का परमाणु मॉडल
1916 सामान्य सापेक्षता; आइंस्टीन
1919 प्रकाश के बंकन (मुड़ने) की पुष्टि
1922 फ्रीडमान (Friedmann) ने सुझाया कि ब्रह्माण्ड फैल रहा है।
1923 स्टेम-गेर्लाक (Stern-Gerlach) प्रयोग

द्रव्य तरंगें (Matter waves)

मंदाकिनी Galaxies

फोटॉनों के कण-प्रकृति की पुष्टि
1925–7 प्रमात्रा यान्त्रिकी
1925 स्टेलर संरचना (Stellar structure) समझी गयी।
1927 लिमैटर (Lemaitre) द्वारा महा विस्फोट (बिग बैंग) प्रस्तावित
1928 प्रतिद्रव्य (Antimatter) की भविष्यवाणी
1929 हबल (Hubble) ने ब्रह्माण के फैलने की पुष्टि की।
1930  
1932 प्रतिद्रव्य की पुष्टि
न्यूट्रॉन की खोज
1933 डार्क मैटर का पता चला
1937 म्यूआन (Muon) की खोज
1938 अतितरलता की खोज
तारों में ऊर्जा-उत्पादन की प्रक्रिया समझी गई
1939 यूरेनियम के विखण्डन (fission) की खोज
1944 2D आइजिंग मॉडल में चुम्बकत्व का सिद्धान्त
1947 पाईआन (Pion) की खोज
1948 क्वाण्टम विद्युतगतिकी (Quantum electrodynamics)
1955  
1956 एलेक्ट्रॉन न्यूट्रिनो की खोज
1956–7 पैरिटी (Parity) के उल्लंघन का पता चला
1957 अतिचालकता की व्याख्या हुई
1959–60 क्वाण्टम भौतिकी में टोपोलोजी (topology) की भूमिका की भविष्यवाणी एवं पुष्टि
1962 SU(3) प्रबल अन्योन्यक्रिया (strong interactions) का सिद्धान्त
म्यूआन न्यूट्रिनो पाया गया
1963 क्वार्क की भविष्यवाणी
1967 दुर्बल अन्योन्यक्रिया तथा विद्युतचुम्बकीय अन्योन्यक्रिया का एकीकरण

सौर न्यूट्रिनो प्रश्न (problem) मिला

पल्सर (Pulsars या neutron stars) की खोज
1968 क्वार्क के अस्तित्व का प्रायोगिक साक्ष्य मिला
1970–3 मूलभूत कणों के मानक मॉडल (Standard model) की खोज
1971 हिलियम-3 की अतितरलता
1974 ब्लैक होल (Black hole) विकिरण की भविष्यवाणी

रीनॉर्मलाइजेशन समूह (Renormalization group)

चार्म्ड क्वार्क (Charmed quark) का पता चला
1975 टाऊ लेप्टॉन (Tau lepton) खोजा गया
1977 बॉटम क्वार्क पाया गया
1978 मन्दाकिनियों में डार्क मैटर पाया गया
1980  
1980 क्वाण्टम हाल प्रभाव (Hall effect)
1981 ब्रह्माण्डीय स्फीति (cosmic inflation) का सिद्धान्त प्रस्तुत किया गया।
1982 फ्रैक्सनल क्वान्टम हाल प्रभाव
1985 बोस-आइंस्टीन कंडेन्सेट पाया गया, सत्येन्द्र नाथ बसु
1995 टॉप क्वार्क पाया गया
1998 डार्क ऊर्जा की खोज
2000 टाऊ न्यूट्रिनो पाया गया
2003 WMAP द्वारा कॉस्मिक माइक्रोवेव बैकग्राउण्ड का प्रक्षण किया गया।
इस समयरेखा का स्रोत: अमेरिकन फिजिकल सोसायटी