बालवीर रिटर्न्स

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
बालवीर रिटर्न्स
बालवीर रिटर्न्स.png
बालवीर रिटर्न्स
शैली काल्पनिक
सर्जक
  • विपुल डी. शाह संजीव शर्मा
लेखक रघुवीर शेखावत
निर्देशक
  • मान सिंग
  • तुसार भाटिया
  • कुशाल अवस्थी
  • संजय सतवास
सितारे
संगीत निर्देशक
  • लेनिन नंदी
  • सौविक चक्रवर्ती
निर्माण का देश भारत
मूल भाषा(एं) हिन्दी
सत्र संख्या 2
प्रकरणों की संख्या 354
निर्माण
कार्यकारी निर्माता राजन सिंह
निर्माता
  • विपुल डी॰ शाह
  • संजीव शर्मा
संपादक हेमंत कुमार
छायांकन पुष्पक गावडे
कैमरा सेटअप मल्टी कैमरा
प्रसारण अवधि लगभग 22 मिनट
निर्माण कंपनी ऑप्टिमिस्टिक्स एंटरटेनमेंट
वितरक सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स इंडिया
प्रसारण
मूल चैनल सब टीवी
छवि प्रारूप
  • 576 आई
  • एचडीटीवी
  • 1080i
श्रव्य प्रारूप डॉल्बी डिजिटल
मूल प्रसारण 10 सितम्बर 2019 (2019-09-10) – 30 जून 2021
कालक्रम
संबंधित कार्यक्रम बालवीर
बालवीर ३
बाह्य सूत्र
आधिकारिक जालस्थल

बालवीर रिटर्न्स सब टीवी का एक काल्पनिक धारावाहिक हैं, जिसका प्रसारण सब टीवी चैनल पर 10 सितम्बर 2019 से हुई है। यह शो इसी चैनल के शो बालवीर का दूसरा संस्करण हैं। पिछले सीजन बालवीर में 1111 एपिसोड तक चलाया गया था। अब बालवीर रिटर्न्स में देव जोशी, वंश सयानी शर्मीली राज, और अनाहिता भूषन,शादाब अली जैसे कलाकार काम कर रहे है।

कथानक[संपादित करें]

पहला सत्र[संपादित करें]

तिमनासा, एक दुष्ट जादूगरनी और काल लोक की रानी, ​​पूरे ब्रह्मांड पर हुक्म चलाने और सबसे शक्तिशाली और दुष्ट इकाई बनने की खोज शुरू करती है। उसकी नजर बाल वीर पर है और वह उसे मारना चाहता है ताकि उसे अपनी शक्ति का खतरा न हो। तिमनासा के सेनापति भयमार ने परी लोक को नष्ट कर दिया और वहाँ रहने वाली परियों का नरसंहार किया। बाल वीर घायल हो जाते हैं और केवल वे और कुछ परियाँ बच जाती हैं: मस्ती परी, ज्वाला परी, पानी परी, धवानी परी, वायु परी, नेत्रा परी, सरल परी और उनके नेता, बालवीर की मां बाल परी। काल लोक से खतरे को भांपते हुए, वे वीर लोक चले जाते हैं, जहां शौर्य नामक एक सफेद शेर द्वारा सभी को संरक्षित किया जाता है। 

इस बीच, बालवीर हर गुजरते पल के साथ कमजोर हो जाता है क्योंकि तिमनासा के हमले से वह गंभीर रूप से घायल हो जाता है। इसलिए, शौर्य के निर्देश पर, बाल वीर अपने छोटे उत्तराधिकारी, अगले बालवीर को खोजने के लिए देव के रूप में पृथ्वी पर लौटता है, क्योंकि उसे अपने कमजोर राज्य में तिमनासा से लड़ने के लिए मदद की जरूरत है। नए बालवीर का विवान नाम है जो एक 9 साल का लड़का है, जो बाल वीर, परियों और जादू जैसे सुपरहीरो में विश्वास नहीं करता है।विवान को नया बालवीर बनाया जाता है और तिमनासा से लड़ने के लिए वरिष्ठ बालवीर के साथ हाथ मिलाता है।  तिमनासा द्वारा बाल परी को दुष्ट काल परी बना दिया जाता है।

काल परी की मदद से तिमनासा ने एक वर्तमन मणि हासिल की और इसे महात्रिकाल सिंघासन पर व्यवस्थित किया। फिर, भयमार 1000 साल पहले बीते बगदाद में भेजे गए। वहां वह वज़ीर ज़फ़र से मिला और अलादीन के जिन्न जिन्नू से मिली जो ज़फ़र के नियंत्रण में था। जिन्नु की मदद से उसने भूतकाल मणि प्राप्त किया और इसे महात्रिकाल सिंघासन पर व्यवस्थित किया। फिर, विवान बगदाद के पास गया और अलादीन को लाया। बालवीर, विवान और अलादीन ने तिमनासा को महात्रिकाल सिंघासन पर भाविष्य मणि की व्यवस्था करने से रोक दिया। बाद में, तिमनासा कमजोर हो गया। बालवीर, पानी परी और ध्वनि परी ने काल लोक पर हमला किया और भयमार, उनके साथी तौबा तौबा और तिमनासा के साथी जब्दाली को हराया। उन्होंने तिमनासा पर कब्जा करने की कोशिश की लेकिन काल लोक के रक्षक एक काले पैंथर अक्रूर ने उसे बचा लिया। बाद में यह पता चला कि तिमनासा को अपने शक्ति स्रोत काल लोक के देवता सर्वकाल से शक्तियां मिली थीं, जिन्हें तिमनासा ने कैद कर लिया था। अपने जन्मदिन पर विवान को बालवीर की सभी शक्तियां प्राप्त होती हैं।

बड़ा बालवीर ने एक गलती की और इस गलती के लिए उसकी शक्तियों और स्मृति को हमेशा के लिए शौर्य ने ले लिया। विवान उसे अपने घर ले गया। करुणा ने बालवीर को गोद लिया और उसका नाम देबू रखा। लेकिन यह तिमनासा को भ्रमित करने के लिए बालवीर और शौर्य की एक योजना थी। बाद में देबू ने विवान को तिमनासा को हराने में मदद करने के लिए नकबपोश (नकाबपोश आदमी) का रूप ले लिया।

इसी बीच बहुत सारे मोड़ आते हैं। अनन्या (श्वेत लोक की राजकुमारी) जूनियर बालवीर और नकबपोश (वरिष्ठ बालवीर) के साथ टीम शैडो में शामिल होती हैं। काल लोक और तिमनासा के कैदी के स्वामी सर्वकाल भी टीम शैडो की मदद करते हैं। लंबे संघर्ष के बाद, दो बालवीर तिमनासा के बुरे शासन को नष्ट कर देते हैं और उसके अध्याय को समाप्त कर देते हैं। भयमार ने नक़बपोश के और अनन्या में बालवीर के साथ एक साथ लड़ाई की। मस्ती परी को भयमार ने मार डाला था। फिर, नकबपोश के रूप में बालवीर ने भयमार को मार डाला। बाद में, तिमनासा के साथी जब्दाली ने पृथ्वी को नष्ट करने की कोशिश की, लेकिन विवान द्वारा मार दिया गया। अक्रूर को शौर्य और तिमनासा को विवान द्वारा मारा गया।

दूसरा सत्र[संपादित करें]

बंबाल, अपनी सहायक मिल्सा के साथ, एक अत्याचारी है जो ब्रह्मांड पर शासन करने के लिए तरसता है। इस बीच, यह पता चलता है कि 20 साल पहले, जयकास नाम का एक वैज्ञानिक अपने आविष्कारों के साथ वीर लोक पर शासन करना चाहता था, लेकिन ऐसा करने में विफल रहा क्योंकि शौर्य ने उसे मार डाला। हालांकि, जयकास ने अपने 2 बेटों को छोड़ दिया - एक शहर में और दूसरा शिंकाई में गिर गया। जो शहर में गिर गया, वह बालवीर (देबू) है, और दूसरा, जो शिंकई में गिर गया, उसे अंडे से 20 साल बाद पैदा होना था { उसकी रक्षा के लिए जयकस के जहर ( कवक ) से बना एक अंडा }, और दुनिया को नष्ट करने के लिए भविष्यवाणी की गई थी। बंबल क्वीन लिम्पार की मदद से अंडे को तोड़ता है, और रे का जन्म होता है। बाम्बाल पृथ्वी पर शासन करने की इच्छा रखते हुए रे को दुष्ट मानसिकता वाला बना दिया। इस बीच, देबू और अनन्या कॉलेज जीवन में प्रवेश करते हैं।बाद में राय रावण बनता है और नवरात्रि के दिन बच्चों को अपहरण करता है । तब बालवीर और विवान शौर्य का दिया हुआ बाण से रावण का वध करते है। इसके वजह से राय ,बमबाल और बालवीर, विवान के शक्तियां चली जाती है। उनको एक दिन बिना शक्ति के रहना पड़ता है। इसी बीच बिरबा बंबाल भारत नगर के धरती में डायनाइट बिछाते है। भारत नगर वाले बाहर जाते है और डायनामेट से पर निकलते है वो फट जाता है। इसलिए दर कर सब जहा खड़े है वही पे रुक जाते है। बालवीर उने बचाने के बहुत कोशिश करता है पर शक्तियां ना होने के कारण कुछ नही कर पाता।राय बालवीर के हर काम को खराब करने की कोशिश करता है। बाद में देबू और विवान एलिकॉप्टर के पास जाते है पर पायलट एलिकॉप्ट भारत नगर ले जाने से मना करता है। पर डेब्यू उसे समझाया बाद में पायलट एलिकॉप्टर भारत नगर ले जाने केलिए मान जाता है। और देबू और विवान एलिकॉप्टर से सब को एक साथ ऊपर ले जाते है और सबको बॉम्ब से बचाते है। उसी तरफ बंबल की भी शक्ति कम हुई होती है फिर भी वो एलिकॉप्टर पर वार कर देता है और भारत नगर वाले नीचे गिर जाते है। तब बालवीर की शक्ति आ जाता है और वो सबको बचाता है तब भारत नगर वाले को पता चलता है की देबू और विवान ही बालवीर है।तब बालवीर उनके याद मिटने चलता है तब अनान्न्या दीवार के पीछे जाके चुप जाती है। इस तरह अनन्या के याद नहीं गई होती है। उसी तरफ बमबाल बालवीर के हाथ लग जाता है और उसे वीर लोग में बंदी बनाया जाता है। और वो चालक से बंदी से निकल जाता है और उसे पता चलता है की देबू और राय भाई है पर है बात बालवीर को नही पता होता। बमबाल बालवीर को ये बात बताने की बहुत कोशिश करता है पर शौर्य और बाल परी रोक देती है।शौर्य बंबाल का अंत करने का तैयारीकर्ता है। और बालवीर बंबाल का अंत करदेता है उसी तरफ राय बालवीर का अंत कर देता है। और बालवीर आत्म के रूप में आकर विवान का रक्षा करता है। भगवान बालवीर के आत्मा को जीवन दान देते है और फिर। से बालवीर की आत्मा को बालवीर बनाते है।और अनन्य को पता चलता है की नकाबपोश भी देबू ही है और अनन्या को परी बनाते है। राय बायमार को जीवित करता है और बायमर तीमानासा को जीवित करता है । तीमांसा धरती का नाश करने का तैयारी करती है तब बालवीर तीमनासा के प्राण शक्ति के दो हीरे को ढूंढ कर उसे ज्वाइंट करता है तब तिमांसा के साथ बालवीर का भी अंत हो जाता है। धरती बच जाता है और परियां भी बच जाती है। पर बालवीर का अंत होता है। सभी वीर लोक पर बालवीर का अंतिम संस्कार करते है। और बालवीर का कार्य विवान को देते है। विवान बहुत दुखी होता है। तब और एक संकट सामने आता है बालवीर के अंत से काल लोक में काल जाग जाता है।

सीज़न 2[संपादित करें]

काल लोक , बालवीर के मरने जहा काल जाग जाता है । उसी तरफ बालवीर के एक शक्ति धरती लोक के हैप्पी के पास चला जाता है।शौर्य बताते है की हमारे जैसा 7 ब्रह्माण्ड है और देवू 7 हमशक्ल है।जब एक हमशक्ल मार जाता है उसकी शक्ति बाकी सभी हमशक्ल को मिलता है और वो शक्ति शाली बन जाता है। देबू के एक हमशक्ल धरती लोक में रहता था उसका नाम हैप्पी था। ये बात परियों को पता चलता है और उसे ढूंढ ने के कोशिश करता है। काल एक एक कर उन सब को मार कर अमर होना चाहता है।उसके साथ उसका चमचा मौका मौका होता है। काल उसके सभी 5 हमशक्ल को एक एक कर के मर देता है सभी हम शकल को मारता है। विवान बहुत कोशिश करता है उने बचाने के पर असफल हो जाता है।अब आखरी हमशक्ल हैप्पी को मारने के तैयारी करता है।

कलाकार[संपादित करें]

मुख्य[संपादित करें]

  • देव जोशी - देबू / बालवीर / नकाबपोश / हैप्पी / काल
  • अनाहिता भूषण - अन्नया / कारीगर परी
  • पवित्रा पुनिया - भयरानी तिमनासा
  • वंश सयानी - विवान / छोटा बालवीर
  • शैलेंद्र पांडे - शौर्य / अक्रूर
  • शर्मीली राज - बालपरी
  • शोएब अली - रे
  • विमर्श रोशन - बाम्बाल
  • श्वेता खंडूरी - मिल्सा

अन्य[संपादित करें]

वीर लोक[संपादित करें]
  • कृतिका देसाई - मस्तीपरी 
  • खुशी मुखर्जी / उर्वी गोर - ज्वालापरी  
  • अमिका शैल / नंदनी तिवारी - वायुपरी  
  • अनुराधा खैरा - ध्वनिपरी  
  • भविका चौधरी - पानीपरी 
काल लोक[संपादित करें]
  • आदित्य रण विजय - भयमार  
  • श्रीधर वत्सर - तौबतौबा / डूबाडूबा  
  • अतुल वर्मा - जब्दाली
  • प्रिया शर्मा - नागिनी     
  • जया बिंजु तयागी - करुणा  
  • हृद्यांश सेखावत - गोपू छेड़ा  
  • अरिश्ता मेहता - सुत्ली गिरपड़े   
    • सिया भाटिया - सुतली गिरपड़े (अरिश्ता मेहता की जगह ली)
  • अभय भडोरिया - चिंटू मिश्रा
  • आरना भडोरिया - चिंटी मिश्रा
  • तपन ए भट्ट - दादासाहेब 
  • अक्षय भगत - रतिलाल छेड़ा
  • नेहा प्रजापति - दिवाली छेड़ा
  • सरन तिवारी - मुन्ना मिश्रा
  • अनुराधा वर्मा - कामिनी मिश्रा
  • अजय पाधय - इंस्पैकटर शांताराम गिरपड़े
  • श्रुती गोपाल - पदमिनी गिरपड़े
  • टिया गंडवानी - देवकी
  • ख़ुशी भारद्वाज - ख़ुशी / किकी
  • यचित शर्मा - रिंकू
  • रीमा पिंपाड़े - हॉ. शालिनी
  • अलीशा चौधरी - नेत्र परी / तिमनासा
  • पुरवेश पिंपल - मोंटू
  • हीर चोपड़ा - सरल परी
  • अरशीन नामदार - तिमनासा के बाल रूप में
  • शैलेष गुलाबानी - परीक्षित
  • दिग्विजय पुरोहित - जलराज कायकोस

अतिथि[संपादित करें]

एनिमेटड पात्र[संपादित करें]

मुख्य[संपादित करें]

  • शौर्य
  • अक्रूर
  • कीकी

अन्य[संपादित करें]

  • रानी लिम्पार
  • सर्वकाल
  • भूचाल
  • किकी
  • निशाचर पक्षी
  • उधवंशक
  • ज़हरूया

टेलीविजन में आने का समय[संपादित करें]

बालवीर रिटर्न्स टेलीविज़न शो का पहला प्रसारण 10 सितम्बर 2019 को किया गया था. इस शो का प्रसारण सोमवार से शुक्रवार रात 7 बजे किया जाता हैं. इस शो को इसके अलावा सोनी लिव एप और सोनी लिव के वेबसाइट पर किसी भी समय देखा जा सकता हैं।

क्रॉसओवर[संपादित करें]

बालवीर रिटर्न्स ने 27 जनवरी 2020 से 31 जनवरी 2020 तक अलादीन - नाम तो सुना होगा श्रृंखला के साथ एक क्रॉसओवर किया।


इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]