प्रवेशद्वार:राजनीति

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ

मुख्यश्रेणियाँ एवं विषयकार्य एवं परियोजनायें
राजनीति प्रवेशद्वार
A coloured voting box.svg
लघु पथ:
प्र:राजनीति

राजनीति एक प्रक्रिया है जिसमें जनता अथवा आम कार्रवाई के लिए सहमति बनायी जाती है अथवा इसमें वृद्धि की जाती है। राजनीति को दूसरे शब्दों में समूह की निर्णय-लेने का व्यवहार है। यद्यपि यह सामान्यतः सरकारों पर लागू होता है, राजनैतिक व्यवहार निगमित, शैक्षिक, धार्मिक और अन्य संस्थानों में प्रेक्षित किया जाता है। राजनैतिक व्यवहार और शक्ति का अधिग्रहण एवं अनुप्रयोग अथवा किसी एक की इच्छा को अन्यों पर लागू करने की क्षमता का अध्ययन राजनीति विज्ञान विषय में किया जाता है। इसके विद्वानों को राजनैतिक पंडित कहा जाता है।

अधिक जानकारी…

चयनित लेख
मॉस्को के रेड स्क्वायर में मध्यवर्ती दूरी की सोवियत आर-12 परमाणु बैलिस्टिक मिसाइल (नाटो द्वारा दिया गया नाम एसएस-4) की सीआईए (CIA) सन्दर्भ तस्वीर.

क्यूबाई मिसाइल संकट (क्यूबा में अक्टूबर संकट के रूप में जाना जाता है) शीत युद्ध के दौरान अक्टूबर 1962 में सोवियत संघ, क्यूबा और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच एक टकराव था। सितंबर 1962 में, क्यूबा और सोवियत सरकारों ने चोरी-छिपे क्यूबा में महाद्वीपीय संयुक्त राज्य अमेरिका के अधिकांश भागों पर मार कर सकने की क्षमता वाली अनेक मध्यम- और मध्यवर्ती-दूरी की प्राक्षेपिक मिसाइलें (MRBMs और IRBM) लगानी शुरू की। 1958 में यूके में थोर आईआरबीएम और 1961 में इटली और तुर्की में जुपिटर आईआरबीएम- मॉस्को पर नाभिकीय हथियारों से हमला करने की क्षमता वाली इन 100 से अधिक अमेरिका-निर्मित मिसाइलों की तैनाती के प्रतिक्रियास्वरूप यह कारवाई की गयी। 14 अक्टूबर 1962 को, एक संयुक्त राज्य अमेरिकी यू-2 फोटोआविक्षण विमान ने क्यूबा में निर्माणाधीन सोवियत मिसाइल ठिकानों के फोटोग्राफिक सबूत जमा किये।

फलस्वरूप बर्लिन नाकाबंदी से पैदा हुआ संकट शीत युद्ध के एक बड़े टकराव का रूप ले लिया और आम तौर पर माना जाने लगा कि शीत युद्ध अब एक नाभिकीय संघर्ष के कगार पर आ पहुंचा है। संयुक्त राज्य अमेरिका ने क्यूबा आकाश और समुद्र मार्ग से हमला करने पर विचार किया और क्यूबा का सैन्य संगरोधन करना तय किया। अमेरिका ने घोषणा की कि वह क्यूबा में आक्रामक हथियारों को ले जाने नहीं देगा और मांग की कि सोवियत संघ क्यूबा में निर्माणाधीन या बन चुके मिसाइल ठिकानों को नष्ट करे और वहां से सभी आक्रामक हथियारों को हटा ले। कैनेडी प्रशासन को बहुत ही कम उम्मीद थी कि क्रेमलिन उनकी मांगों को मान लेगा और वह एक सैन्य टकराव की अपेक्षा कर रहा था। दूसरी ओर सोवियत संघ के निकिता ख्रुश्चेव ने केनेडी को एक पत्र में लिखा कि "अंतरराष्ट्रीय जल मार्ग और आकाश मार्ग के यातायात के" उनके संगरोधन की "कारवाई एक ऐसी आक्रामकता है जो मानव जाति को विश्व नाभिकीय-मिसाइल युद्ध के नरक कुंड में डाल देगी।" अधिक पढ़ें…


चयनित राजनेता
निकिता कृसचेव​

निकिता सरगेयेविच ख़्रुश्चेव​ (रूसी: Никита Сергеевич Хрущёв, जन्म : १५ अप्रैल १८९४, देहांत:११ सितम्बर १९७१) शीत युद्ध के दौरान सोवियत संघ के सर्वोच्च नेता थे। १९५३ से १९६४ में वह सोवियत साम्यवादी पार्टी के प्रथम सचिव रहे और फिर १९५८ से १९६४ तक सोवियत संघ के प्रधान मंत्री रहे। उनके काल में भूतपूर्व सोवियत तानाशाह जोसेफ़ स्टालिन की कुछ नीतियाँ हटाई गई, राजनैतिक और आर्थिक मामलों कुछ खुलापन लाया गया और सोवियत अंतरिक्ष कार्यक्रम को बढ़ावा दिया गया। उन्ही के शासनकाल में संयुक्त राज्य अमेरिका और सोवियत संघ के बीच क्यूबाई मिसाइल संकट नामक घटना भी हुई जो कुछ समीक्षकों के अनुसार शीत युद्ध का सबसे ख़तरनाक मोड़ था। साधारण नागरिकों का जीवन बेहतर बनाने के लिए उन्होने बहुत सी नीतियाँ अपनाई लेकिन वह ज़्यादातर विफल रहीं, मसलन कृषि उत्पादन बढ़ाने के लिए चलाया गया नई भूमि अभियान। १९६४ में उनके साम्यवादी पार्टी के साथियों ने उन्हें अध्यक्षता से हटा दिया और उनके स्थान पर लियोनिद ब्रेझ़नेव महासचिव की कुर्सी पर और अलिक्सेय कोसिगिन प्रधान मंत्री की जगह बैठे। उसके बाद उनकी कोई राजनैतिक भूमिका नहीं रही और १९७१ को उनका दिल के दौरे से देहांत हो गया। अधिक पढ़ें…


क्या आप जानते हैं?
Queens Head Monmouth.jpg


चयनित सूक्ति
कौटिल्य
जो कोई भी कठोर दंड देता है, वह प्रजा के लिए प्रतिकारक बन जाता है; जबकि वह जो हल्का दंड देता है, वह अवमानजनक ​​बन जाता है। लेकिन जो सुयोग्य दंड प्रदान करता है, वह सम्मानजनक हो जाता है। क्योंकि दंड जब उचित विचार के साथ प्रदान की जाती है, तो वह प्रजा को धर्म के प्रति समर्पित करती है तथा धन और आनंद उत्पादन में सहयोग देती है; दंड देने में, जब लालच और क्रोध के प्रभाव में या अज्ञानता के दुष्प्रभाव पड़ जाते हैं, तो जंगल में रहने वाले भिक्षुओं और तपस्वियों में भी रोष पैदा होता है, गृहस्थ नागरिकों की बात तो और है
आचार्य चाणक्य, अर्थशास्त्र (पुस्तक १;अध्याय ४) में दंड और अनुशासन के सन्दर्भ में
चयनित चित्र
सम्बंधित लेख व श्रेणियाँ
आप किस प्रकार सहायता कर सकते हैं
Things you can do
  • हाल में हुए परिवर्तनों की समीक्षा कर पृष्ठों के सुधर में सहायता कर सकते हैं।
  • प्रवेशद्वार:राजनीति के वार्ता पृष्ठ पर आवश्यक विषयों हेतु पृष्ठ निर्मित करने के लिए आवेदन दे सकते हैं।
  • राजनीति व इससे सम्बंधित पृष्ठों का विस्तार कर सकते हैं।
  • पहले से निर्मित पृष्ठों पे चित्र व उद्धरण जोड़ कर उन्हें अधिक सूचनात्मक बना सकते हैं।
  • राजनीति सम्बंधित पृष्ठों में सटीक श्रेणी जोड़कर उनका बेहतर श्रेणीकरण कर सकते हैं।
  • प्रवेशद्वार:राजनीति से जुड़े विकिपरियोजना से जुड़ कर राजनीति के विषयों से जुड़े अन्य कार्यों में सहयोग कर सकते हैं
अन्य परियोजनाओं में
विकिसमाचार पर राजनीति प्रवेशद्वार     विकि-उद्धरण पर राजनीति     विकिताब पर राजनीति विषय     विकिस्रोत पर राजनीति प्रवेशद्वार     कॉमन्स पर राजनीति श्रेणियाँ     विक्षनरी पर राजनीति प्रवेशद्वार     विकि-विश्वविद्यालय पर राजनीति
समाचार उद्धरण हस्तचालित विषय चित्र परिभाषा सीखना
Wikinews-logo.svg
Wikiquote-logo.svg
Wikibooks-logo.svg
Wikisource-logo.svg
Commons-logo.svg
Wiktionary-logo-en.svg
Wikiversity-logo.svg