पाण्डुलिपि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
नन्दिनगरी में लिखी हुई एक पाण्डुलिपि
सूचना का विकास-पथ

पाण्डुलिपि (manuscript) उस दस्तावेज को कहते हैं जो एक व्यक्ति या अनेक लोगों द्वारा हाथ से लिखी गयी हो। जैसे हस्तलिखित पत्र। प्रिन्ट किया हुआ या किसी अन्य विधि से किसी दूसरे दस्तावेज से (यांत्रिक/वैद्युत रीति से) नकल करके तैयार सामग्री को पाण्डुलिपि नहीं कहते हैं।

पाण्डुलिपि अपनी रक्षा के लिये क्या कहती है, देखें-

जलाद्रक्षेत्तैलाद्रक्षेद्रक्षेच्छिथिलबन्धनात् ।
मूर्खहस्ते न मां दद्यादिति वदति पुस्तकम् ॥
( मुझे जल से, तेल से, ढ़ीले बन्धन (बाइंडिंग) से बचायें। मुझे मूर्ख के हाथ में नहीं थमाना चाहिये - ऐसा पुस्तक कहता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]