धड़कन (2000 फ़िल्म)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
धड़कन
धड़कन.jpg
धड़कन का पोस्टर
निर्देशक धर्मेश दर्शन
निर्माता रतन जैन
अभिनेता अक्षय कुमार,
शिल्पा शेट्टी,
सुनील शेट्टी,
महिमा चौधरी,
सुषमा सेठ,
परमीत सेठी
संगीतकार नदीम-श्रवण
प्रदर्शन तिथि(याँ) 11 अगस्त 2000
देश Flag of India.svg भारत
भाषा हिन्दी

धड़कन 2000 में बनी हिन्दी भाषा की नाटकीय प्रेमकहानी फ़िल्म है। इसका निर्देशन धर्मेश दर्शन द्वारा किया गया। इसमें शिल्पा शेट्टी, सुनील शेट्टी और अक्षय कुमार की प्रमुख भूमिकाएं हैं, जबकि महिमा चौधरी एक विस्तारित अतिथि उपस्थिति में है। फिल्म प्रेम त्रिकोण से संबंधित है। यह फिल्म एक आलोचनात्मक और वाणिज्यिक सफलता थी और साल की चौथी सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म थी। सुनील शेट्टी ने अपने प्रदर्शन के लिए फिल्मफेयर बेस्ट विलेन अवॉर्ड जीता। धड़कन सुपरहिट रही थी।[1]

संक्षेप[संपादित करें]

अंजलि (शिल्पा शेट्टी) एक युवा महिला है जो बेहद समृद्ध और प्रभावशाली परिवार से है। उसके पिता श्री चौहान (किरण कुमार) एक प्रसिद्ध व्यवसायी हैं और उनके उनकी बेटी के लिए कई सपने हैं। अंजलि देव (सुनील शेट्टी) से प्यार करती है जो बहुत गरीब हैं। देव अंजलि से प्यार करता है और उससे शादी करना चाहता है, इसलिए उसे उसके पिता से मिलना है।

जब अंजली अपने माता-पिता को देव से शादी करने का प्रस्ताव बताती है, तो उसे पूरी तरह से मना कर दिया जाता है। इसके अलावा उसके माता-पिता ने उसके लिये दिल्ली से एक अमीर लड़का चुना है। अपने माता-पिता को चोट न पहुंचाने की इच्छा रखते हुए, अंजलि अंततः राम (अक्षय कुमार) से शादी करती है, जो उसके माता-पिता का मानना ​​है कि उसके लिए एक आदर्श पति होगा।

राम आदर्शों का एक आदमी है, जो अपनी पत्नी को सही स्थान देने में विश्वास करता है और उसकी संवेदनशीलताओं का सम्मान करता है। इसके बावजूद, वह पहले अंजलि के प्यार को जीतने में असमर्थ है। हालांकि, उसे अपने पति के दिल की क्षमा करने और उसे स्वीकार करने की महानता को देखने के बाद, उसे पता चलता है कि वह उसके साथ प्यार में पड़ गई है। अंजलि आदर्श पत्नी बन जाती है।

लेकिन अचानक, उसकी तीसरी शादी की सालगिरह पार्टी में, देव वापस लौटता है और अंजलि को वापस जीतने के अपने इरादे को बया करता है। देव अब एक अमीर व्यापारी हैं, और अंजली खुद को एक दोराहे पर पाती है जहां वह अपने पति के लिए या उसकी पूर्व प्यार के साथ खड़ी होगी। अंजली अपने पति के लिए खड़े होने का विकल्प चुनती है। उसकी उसके पूर्व प्रेमी के पास वापस लौटने की कोई इच्छा नहीं है।

जब वह उसे यह बताती है तो देव दूसरी बार अस्वीकारता नहीं झेल पाता और राम के जीवन को बर्बाद करने के लिए तैयार हो जाता है। यह कुछ समय तक चलता है, जिससे अंजलि के जीवन में अशांति और उथल-पुथल आती है।

अंत में, जब अंजलि देव को बताती है कि वह राम के बच्चे के साथ गर्भवती है और उसे अकेले छोड़ने के लिए विनती करती है, तो देव अपनी मूर्खता को समझता है और अपने वर्तमान मित्र और व्यापारिक साथी शीतल वर्मा (महिमा चौधरी) से शादी करने का फैसला करता है। जो उसे लंबे समय से गुप्त रूप से प्यार करती है।

मुख्य कलाकार[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

संगीत नदीम-श्रवण की जोड़ी ने दिया और बोल समीर के हैं। एल्बम सफल रही थी।

धड़कन
संगीत नदीम-श्रवण द्वारा
जारी 2000
रिकॉर्डिंग 1997-1999
संगीत शैली फिल्म साउंडट्रैक
निर्माता नदीम-श्रवण
नदीम-श्रवण कालक्रम

सिर्फ तुम
(1999)
धड़कन
(2000)
कसूर
(2001)
क्रम # शीर्षक गायक
1 "दिल ने ये कहा है दिल से" अलका याज्ञनिक, उदित नारायण & कुमार सानु
2 "तुम दिल की धड़कन में" अलका याज्ञनिक & अभिजीत
3 "दूल्हे का सेहरा" नुसरत फतेह अली खान
4 "दिल ने ये कहा है दिल से" अलका याज्ञनिक & सोनू निगम
5 "तुम दिल की धड़कन में" कुमार सानु
6 "ना ना करते प्यार" अलका याज्ञनिक & उदित नारायण
7 "अक्सर इस दुनिया में" अलका याज्ञनिक
8 "तुम दिल की धडकन में" वाद्य संगीत

नामांकन और पुरस्कार[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "जब ब्रेकअप होने के बाद अक्षय कुमार और शिल्पा शेट्टी ने धड़कन में किया था काम, सुपरहिट रही फिल्म". जनसत्ता. 12 अगस्त 2017. अभिगमन तिथि 3 जून 2018.

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]