थीन डैम परियोजना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

यह भारत की एक प्रमुख नदी घाटी परियोजना हैं। थीन बाँध परियोजना भारत की नदी घाटी परियोजनाओं में से एक है। पंजाब के पठानकोट ज़िले में रावी नदी पर थीन बाँध बनाया गया है। इसको 'रणजीत सागर बाँध' के नाम से भी जाना जाता है।[1]

थीन बाँध का निर्माण सन 1982 में शुरू हुआ था तथा यह 1999 में बनकर पूरा हुआ था। इस परियोजना की निम्नलिखित इकाइयाँ हैं- रणजीत सागर बाँध रणजीत सागर बाँध प्रमुख सिंचाई योजना - जम्मू रणजीत सागर बाँध प्रमुख सिंचाई योजना - पंजाब रंजीत सागर जलाशय रावी प्रमुख सिंचाई योजना ऊपरी बारी दोआब नहर विद्युत गृह 1, 2, 3 ऊपरी बारी दोआब नहर - प्रमुख सिंचाई नहर इस परियोजना से पंजाब, हिमाचल प्रदेश तथा जम्मू-कश्मीर को लाभ मिलता है। यहाँ पर 150 मेगावाट की चार विद्युत इकाइयाँ लगाई गयी हैं।

परियोजना का प्रारम्भ[संपादित करें]

थीन बाँध का निर्माण रावी नदी पर हुआ है|

== स्थान == पठान कोट पंजाब

उद्देश्य[संपादित करें]

लाभान्वित होने वाले राज्य[संपादित करें]