नाथपा झाकड़ी जलविद्युत परियोजना

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
(नाथपा-झाकरी परियोजना से अनुप्रेषित)
Jump to navigation Jump to search

नाथपा झाकड़ी जलविद्युत परियोजना हिमाचल प्रदेश में राष्ट्रीय राजमार्ग २२ - हिन्दुस्तान तिब्बत मार्ग पर, सतलुज नदी पर स्थित है। इस परियोजना को मई,2004 में कमीशन किया गया था तथा आधिकारिक तौर पर 28 मई,2005 को तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री मनमोहन सिंह ने इसे राष्ट्र को समर्पित किया।

क्षमता[संपादित करें]

नाथपा झाकड़ी पनबिजली स्टेशन की क्षमता 1500 मेगावाट है और यह देश का चौथा सबसे बड़ा जलविद्युत प्लांट है। नाथपा झाकड़ी प्लांट प्रति वर्ष 6950.88 (6612) मिलियन यूनिट बिजली का उत्पादन करने के लिए डिजाइन किया गया है।[1][2] इस प्लांट से विद्युत का आबंटन उत्तर भारतीय राज्यों हरियाणा, हि.प्र., पंजाब, जम्मू एवं कश्मीर, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड तथा दिल्ली व चंडीगढ़ के सभी शहरों को होता है।

लागत[संपादित करें]

नाथपा झाकड़ी जलविद्युत परियोजना पर 8187 करोड़ रुपए की लागत आई। इसे विश्व बैंक से सहायता प्राप्त है।[2]

विशेषताएं[संपादित करें]

  • नाथपा में 486 क्यूमेक्स पानी को चार इनटेकों में डालने के लिए सतलुज नदी पर 62.50 मी.ऊँचा कंक्रीट ग्रेविटी बांध।
  • प्रत्येक 525 मी.लंबे, 16.31 मी.चौड़े तथा 27.5 मी.गहरे चार चैम्बरों वाला बड़ा भूमिगत डिसिल्टिंग कॉम्पलेक्स।
  • सर्जशाफ्ट तक 27.394 कि॰मी॰ लंबी तथा 10.15 मी. व्यास की हेड रेस टनल।
  • 301 मी.गहरा तथा 21.60 मी.व्यास वाला ऊîपर से खुला सर्जशाफ्ट।
  • प्रत्येक 4.90 मी. व्यास की सर्कुलर स्टील लाईन्ड तीन प्रेशर शाफ्टें जिन्हें 6 उत्पादन ईकाईयों के लिए आपूर्ति हेतु विद्युत गृह के समीप दो भागों में विभाजित किया गया है।
  • प्रत्येक 250 मेगावाट की कुल 1500 मेगावाट स्थापित क्षमता की 06 वर्टिकल एक्सिज फ्रांसिस टरबाईनों वाली उत्पादन इकाईयां।
  • 10.15 मी. व्यास के साथ 982 मी. लंबी टेलरेस टनल।[2]

इस परियोजना को विश्व की सबसे लंबी जल सुरंग होने का श्रेय प्राप्त है।

पुरस्कार[संपादित करें]

वर्ष 2011-12 और 2012-13 में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए भारत के सबसे बड़े पनबिजली स्टेशन, नाथपा झाकड़ी को क्रमश: कांस्य व रजत शील्ड से पुरस्कृत किया गया। ये प्रतिष्ठित पुरस्कार केंद्रीय बिजली राज्य मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने 4 फ़रवरी 2014 को सतलुज जल विद्युत निगम लिमिटेड (एसजेवीएनएल) के सीएमडी श्री आर. पी. सिंह और श्री संजीव सूद, महाप्रबंधक (एनजेएचपीएस) को प्रदान किए।[1]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

| एसजेवीएन लिमिटेड की वैबसाईट पर नाथपा झाकड़ी जलविद्युत परियोजना का पृष्ठ

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए नाथपा झाकड़ी बिजली स्टेशन को कांस्य व रजत शील्ड". पत्र सूचना कार्यालय, भारत सरकार. 4 फ़रवरी 2014. अभिगमन तिथि 5 फ़रवरी 2014.
  2. http://sjvn.nic.in/hindi/projects/projects_nathpa.asp