जामनगर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

जामनगर गुजरात का एक शहर है। यह अरब सागर से लगा कच्छ की खाड़ी के दक्षिण में स्थित है। जामनगर में आधुनिकता व प्राचीनता का समावेश देखा जा सकता है।

इतिहास[संपादित करें]

जामनगर का निर्माण जामसाहेब ने 1540 में करवाया था। अब यह गुजरात के जामनगर ज़िले का प्रशासनिक मुख्यालय है।

यातायात और परिवहन[संपादित करें]

जमनगर शहर सड़क, रेल और वायुमार्ग से जुड़ा हुआ है।

उद्योग और व्यापार[संपादित करें]

सीमेंट, मिट्टी के बर्तन, वस्त्र और नमक यहाँ के प्रमुख औद्योगिक उत्पाद हैं। यह शहर बांधनी कला, जरी की कढ़ाई और धातुकर्म के लिए प्रसिद्ध है।

जामनगर रिफ़ाइनरी भारत और विश्व की सबसे बड़ी तेल रिफ़ाइनरी है। यहाँ प्रति दिन 1.24 मिलियन बैरल तय्यार होता है। इसका स्वामित्व रिलायंस इंड्स्ट्रीज़ के पास है। यह गुजरात में स्थित है।[1]

शिक्षण संस्थान[संपादित करें]

यहाँ के शैक्षणिक संस्थानों में दोषी कालीदास आर्ट ऐंड साइंस कॉलेज, गवर्नमेंट डेंटल कॉलेज, एम. पी. शाह मेडिकल कॉलेज, एम. पी. कॉमर्स कॉलेज और वी. एम. मेहता कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स ऐंड आर्ट्स शामिल हैं। यहाँ गुजरात आयुर्वेद विश्वविद्यालय भी स्थित है। जामनगर में देश का एकमात्र आयुर्वेदिक महाविद्यालय अपनी टाई एण्ड डाई (बन्धानी) कला के लिए भी प्रसिद्ध है।

पर्यटन[संपादित करें]

पर्यटन की दृष्टि से जामनगर में लकोटा संग्रहालय, डॉ॰ अम्बेडकर उद्यान, काली मंदिर, जैन मंदिर, श्री कृष्ण प्रणामी संप्रदायका मूल स्थान श्री 5 नवतनपुरी धाम-खीजडा मंदिर, श्री स्वामी नारायण मंदिर, माणिक भाई मुक्ति धाम, शाही महल, प्रताप विलास आदि दर्शनीय हैं। जामनगर के बीचोंबीच एक सुंदर झील है, साथ ही दो भव्य प्राचीन इमारतें कोठा बैस्टिऑन और लखौटा स्थित हैं, जहाँ सिर्फ पत्थर के पुल द्वारा ही पहुँचा जा सकता है। कई ऐतिहासिक मंदिरों और महलों के साथ-साथ शहर में आधुनिक कारख़ाने, अस्तपताल और आवासीय क्षेत्र भी हैं। जामनगर में ही देश का प्रथम व विश्व का द्वितीय सोलर चिकित्सालय सोलेरियम है। महाराज रणजीतसिंह द्वारा स्थापित इस अस्पताल में सूर्य की किरणों के द्वारा उपचार किया जाता है।

जनसंख्या[संपादित करें]

2001 की जनगणना के अनुसार इस शहर की जनसंख्या 4,47,734 है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]