अमरेली जिला

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ
अमरेली ज़िला
Amreli district
અમરેલી જિલ્લો
गुजरात का ज़िला
कोटडी पहाड़
कोटडी पहाड़
गुजरात में स्थिति
गुजरात में स्थिति
देश भारत
राज्यगुजरात
मुख्यालयअमरेली
तालुका11
क्षेत्रफल
 • कुल7397 किमी2 (2,856 वर्गमील)
जनसंख्या (2011)
 • कुल15,14,190
 • घनत्व200 किमी2 (530 वर्गमील)
भाषा
 • प्रचलितगुजराती
समय मण्डलभारतीय मानक समय (यूटीसी+5:30)
वाहन पंजीकरणGJ
वेबसाइटamreli.nic.in

अमरेली ज़िला (Amreli district) भारत के गुजरात राज्य का एक ज़िला है। ज़िले का मुख्यालय अमरेली है।[1][2][3]

विवरण[संपादित करें]

मूंगफली, कपास और गेहूँ की खेती के लीए यह जिला पूरे गुजरात में मशहूर है।[4] पीपावाव बंदरगाह ये जिले में स्थित है।[5] राजुला में देश का सब से बडा सिमेन्ट प्लान्ट है।[6] जिले के कुछ भाग में एशिया का प्रख्यात गीर का जंगल फैला हुआ है। यहा पे एशियाटीक सिंह और हिंसक वन्य प्रानीओ की भी बसती है।२०१५ की सिंहगणना के अनुसार अमरेली जिले में १७४ सिंह का निवास है।[7]

प्राथमिक जानकारी[संपादित करें]

जनसंख्या १३,९०,००० (२००१ की जनगणना)
जनसंख्या गीचता १८८ व्यक्ति प्रति वर्ग कि.मि.
स्त्री-पुरुष गुणाँक ९८७ स्त्री १००० पुरुष के सामने
साक्षरता का दर ६६.१०%
हवाई मथक अमरेली
बंदरगाह पीपावाव
क्षेत्रफल ६७६० वर्ग कि.मि.
एस.टी.डी. कोड +९१२७९२
पोस्टल कोड ३६५६०१
वाहन कोड जीजे १४

अमरेली जिले के तहसील[संपादित करें]

दर्शनिय स्थल[संपादित करें]

अमरेली[संपादित करें]

अमरेली के मुख्य दर्शनीय स्थल इस प्रकार हैं - अमरेली का प्राचीन टावर, राजमहल, गिरधर भाई संग्रहालय, कलात्मक रेल मथक, प्राचीन नागनाथ मंदिर, जुम्मा मस्जिद, कैलास मुक्तिधाम, द्वारकाधीश हवेली, भोजलधाम, फतेपुर, कवि ईश्वरदान स्मृति मन्दिर ईश्वरीया, महात्मा मूलदास समाधि स्थल, कामनाथ जलाशय, लालावाव हनुमान, दादा भगवान मंदिर।

लाठी[संपादित करें]

लाठी के मुख्य दर्शनीय स्थल इस प्रकार हैं - चावंड द्वार, शाहगौरा वाव, कलापी तीर्थ, भुरखीया हनुमान तीर्थ स्थल।

लीलीया[संपादित करें]

लीलीया के मुख्य दर्शनीय स्थल इस प्रकार हैं - उमिया मंदिर, अंटालीया महादेव।

बाबरा[संपादित करें]

बाबरा के मुख्य दर्शनीय स्थल इस प्रकार हैं - पांडवो का कुंड, रन्नादे माँ मंदिर, दडवा।

धारी[संपादित करें]

धारी के दार्शनीय स्थल इस प्रकार हैं - एशियाई सिंह, गीर का जंगल, गलधरा खोडीयार मंदिर, श्याम सुंदर मंदिर, सरसीया, खोडीयार जलाशय, दानगीगेव स्थल।

खांभा[संपादित करें]

खांभा के दार्शनीय स्थल इस प्रकार हैं - वनविहार, मितियाला फोरेस्ट बंगलो, एशियाटीक सिंह, गीर का जंगल, हनुमानगाला।

कुंकावाव[संपादित करें]

कुंकावाव के दार्शनीय स्थल इस प्रकार हैं - वल्लभाचार्य स्मृति मंदिर, संत वेलनाथ समाधि।

राजुला[संपादित करें]

राजुला के दार्शनीय स्थल इस प्रकार हैं - विक्टर, टावर, चांच बंगलो, समुद्र तट, पीपावाव पॉर्ट, अल्ट्राटेक सिमेन्ट फेक्टरी, पीपाभगत स्थल, चांच बंदरगाह।

जाफराबाद[संपादित करें]

जाफराबाद के दार्शनीय स्थल इस प्रकार हैं - शियालबेट द्रीप, वाराह स्वरुप मंदिर, पौराणिक किल्ला, लुणसापुरीया मूर्ति।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Gujarat, Part 3," People of India: State series, Rajendra Behari Lal, Anthropological Survey of India, Popular Prakashan, 2003, ISBN 9788179911068
  2. "Dynamics of Development in Gujarat," Indira Hirway, S. P. Kashyap, Amita Shah, Centre for Development Alternatives, Concept Publishing Company, 2002, ISBN 9788170229681
  3. "India Guide Gujarat," Anjali H. Desai, Vivek Khadpekar, India Guide Publications, 2007, ISBN 9780978951702
  4. "संग्रहीत प्रति". मूल से 7 सितंबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 11 अक्तूबर 2015.
  5. "संग्रहीत प्रति". मूल से 5 मार्च 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 11 अक्तूबर 2015.
  6. "संग्रहीत प्रति". मूल से 15 अक्तूबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 11 अक्तूबर 2015.
  7. "संग्रहीत प्रति". मूल से 21 अक्तूबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 11 अक्तूबर 2015.