गाजर

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search

गाजर
Carrots with stems.jpg
वैज्ञानिक वर्गीकरण
जगत: पादप
अश्रेणीत: एंजियोस्पर्म
अश्रेणीत: बीजपत्री
अश्रेणीत: ऐस्टरिड्स
गण: एपियालेस
कुल: ऐपियेशी
वंश: डॉकस
जाति: D. carota
द्विपद नाम
Daucus carota
L.
Carrot, raw
पोषक मूल्य प्रति 100 ग्रा.(3.5 ओंस)
उर्जा 40 किलो कैलोरी   170 kJ
कार्बोहाइड्रेट     9 g
- शर्करा 5 g
- आहारीय रेशा  3 g  
वसा 0.2 g
प्रोटीन 1 g
विटामिन A equiv.  9 μg  1%
- बीटा-कैरोटीन  8285 μg  77%
थायमीन (विट. B1)  0.04 mg   3%
राइबोफ्लेविन (विट. B2)  0.05 mg   3%
नायसिन (विट. B3)  1.2 mg   8%
विटामिन B6  0.1 mg 8%
विटामिन C  70 mg 117%
कैल्शियम  33 mg 3%
लोहतत्व  0.66 mg 5%
मैगनीशियम  18 mg 5% 
फॉस्फोरस  35 mg 5%
पोटेशियम  240 mg   5%
सोडियम  2.4 mg 0%
प्रतिशत एक वयस्क हेतु अमेरिकी
सिफारिशों के सापेक्ष हैं.
भिन्न रंगों की गाजरें
Daucus carota subsp. maximus

गाजर एक सब्ज़ी का नाम है। यह लाल, काली, नारंगी, कई रंगों में मिलती है। यह पौधे की मूल (जड़) होती है।

स्वास्थ्य वर्धक[संपादित करें]

गाजर के रस का एक गिलास पूर्ण भोजन है। इसके सेवन से रक्त में वृद्धि होती है।[1]मधुमेह आदि को छोड़कर गाजर प्रायः हरेक रोग में सेवन की जा सकती है। गाजर के रस में विटामिन ‘ए’,'बी’, ‘सी’, ‘डी’,'ई’, ‘जी’, और ‘के’ मिलते हैं। गाजर का जूस पीने या कच्ची गाजर खाने से कब्ज की परेशानी खत्म हो जाती है। यह पीलिया की प्राकृतिक औषधि है। इसका सेवन ल्यूकेमिया (ब्लड कैंसर) और पेट के कैंसर में भी लाभदायक है। इसके सेवन से कोषों और धमनियों को संजीवन मिलता है। गाजर में बिटा-केरोटिन नामक औषधीय तत्व होता है, जो कैंसर पर नियंत्रण करने में उपयोगी है।[कृपया उद्धरण जोड़ें] इसके सेवन से इम्यूनिटी सिस्टम तो मजबूत होता ही है साथ ही आँखों की रोशनी भी बढ़ती है गाजर के सेवन से शरीर को उर्जा मिलती हे। [2][3]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]