और प्यार हो गया (धारावाहिक)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
और प्यार हो गया
प्रारूप नाटक
लेखक सोनाली जफर
धीरज सरना
विभा सिंह
निर्देशक प्रदीप गुप्ता
रोमेश कालरा
सृजनात्मक निर्देशक तान्या मुखर्जी
सितारे मिश्कत वर्मा
कांची सिंह [1]
निर्माण का देश भारत
भाषा(एं) हिन्दी
सत्र संख्या 01
प्रकरणों की संख्या 241
निर्माण
निर्माता राजन शाही
संपादक समीर गांधी
स्थल जयपुर
प्रसारण अवधि 20 से 22 मिनट
प्रसारण
मूल चैनल ज़ी टीवी
मूल प्रसारण 6 जनवरी 2014 – 2 दिसम्बर 2014
बाह्य सूत्र
आधिकारिक जालस्थल

और प्यार हो गया एक ज़ी टीवी पर प्रसारित होने वाला भारतीय धारावाहिक था। यह 6 जनवरी 2014 से 2 दिसम्बर 2014 तक चला। इसके पश्चात इसके स्थान पर सतरंगी ससुराल देने लगा।

कहानी[संपादित करें]

ये कहानी राजस्थानी व्यापारी परिवार में जन्मी अवनी की है, जिसे राज से प्यार हो जाता है।

अवनी का बड़ा भाई, अक्षत (जो अपने पिता की तरह सफल व्यापारी है) अपनी प्रेमिका, अर्पिता की तस्वीर चुपके से अपनी माँ, भावना के चुने हुए तस्वीरों के साथ रख देता है। सभी को ऐसा दिखाता है जैसे उसकी शादी अरेंज मैरेज है। पर शादी से पहले ये बात अवनी को पता चल जाती है, पर वो उन दोनों का शादी न टूट जाये, इस कारण ये बात सभी से छुपा देती है। अपनी बहन, अर्पिता की शादी में राज मदद करता है, जिससे राज और अवनी काफी करीब आ जाते हैं।

राज के प्यार को अवनी स्वीकार नहीं करती, क्योंकि उसे डर लगता है कि सारा परिवार इस रिश्ते को स्वीकार नहीं करेगा। कई सारी समस्याओं के बाद परिवार वाले शादी के लिए मान जाते हैं।

अवनी और राज को बाद में पता चलता है कि अवनी की माँ (जिसका असली नाम संगीता है) और राज के पिता एक दूसरे से प्यार करते थे। संगीता के परिवार वाले उनकी शादी से साफ साफ मना कर पुरोहित परिवार के हर सदस्य को मार देते हैं।

असल में पुरोहित परिवार की मौत विराट के खेल का हिस्सा होता है। संगीता के थप्पड़ मारने का बदला लेने के लिए, विराट ये खेल खेलता है। इस योजना के बारे में आभास को पता चल जाता है और सच्चाई छुपाने के लिए वो उसकी हत्या कर देता है। राज और अवनी मिल कर विराट के अपराधों का पर्दा फ़ाश कर देते हैं और उसे जेल भेज देते हैं। उसके बाद दोनों परिवार खुशी खुशी रहते हैं।

कलाकार[संपादित करें]

  • मिश्कत वर्मा — राज विक्रम पुरोहित
  • कांची सिंह — अवनी राज पुरोहित
  • नवी भंगु — समर्थ चौहान
  • परिचय शर्मा — आभास सुकेत खंडेलवाल (मृत)
  • रीना कपूर — भावना सुकेत खंडेलवाल / संगीता
  • राजीव सिंह — सुकेत खंडेलवाल
  • राजीव वर्मा — बाउजी
  • वसीम मुश्ताक़ — अक्षत सुकेत खंडेलवाल
  • निकिता अग्रवाल — अर्पिता अक्षत खंडेलवाल
  • गुंजन खरे — माधुरी जश्न सिंह अरोड़ा
  • अनूप शर्मा — जश्न सिंह अरोड़ा
  • आशिता धवन — सवरी
  • शैलेश गुलबनी — प्रताप
  • विनय जैन — विक्रम पुरोहित
  • रुखसार रहमान — अंजली विक्रम पुरोहित
  • मयूर मेहता — अमित
  • नीलम गांधी — देविका
  • जानवी सांगवान — जहन्वी अगरवाल
  • मानसी सलवी — मानसी (विशेष उपस्थिती)

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]