अहोरात्रम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

यह हिन्दू समय मापन इकाई है। यह इकाई मध्यम श्रेणी की है। एक 'अहोरात्रम्एक दिन और रातका समय | एक सूर्योदयसे अपर सूर्योदय पूर्वका समय अहोरात्र है | अहश्च रात्रश्च अहोरात्र इसप्रकार द्वन्द समास से बना शब्द है| वैदिक ग्रन्थौं मे तिथिके जगह प्रयुक्त शब्द अहोरात्र है|

ऊष्ण कटिबन्धीय मापन[संपादित करें]

  • एक याम = 7½ घटि
  • 8 याम अर्ध दिवस = दिन या रात्रि
  • एक अहोरात्र = नाक्षत्रीय दिवस (जो कि सूर्योदय से आरम्भ होता है)
  • एक तिथि वह समय होता है, जिसमें सूर्य और चंद्र के बीच का देशांतरीय कोण बारह अंश बढ़ जाता है। वैदक तिथिपत्र के प्रयोग करनेवाले कुछ लोग चन्द्रकला विशेष और सूर्योदयसे सम्बद्ध अहोरात्रको ही एक तिथि मानते है| वह अमान्त चान्द्रमास कभी २९ दिनका और कभी ३०दिनका होता है | यदि १४ वें दिनमे ही चन्द्रकला क्षीण हो तो उस दिन कृष्ण चतुर्दशी टुटा हुआ मानकर अमावास्या माना जाता है दोनों दिनके कृत्य उसी दिन किया जाता है |पञ्चांग सम्बदध तिथियां तो दिन में किसी भी समय आरम्भ हो सकती हैं और इनकी अवधि उन्नीस से छब्बीस घंटे तक हो सकती है।
  • एक पक्ष या पखवाड़ा = पंद्रह तिथियां
  • एक मास = २ पक्ष (पूर्णिमा से अमावस्या तक कॄष्ण पक्ष; और अमावस्या से पूर्णिमा तक शुक्ल पक्ष)[1]
  • एक ॠतु = २ मास
  • एक अयन = 3 ॠतुएं
  • एक वर्ष = 2 अयन [2]