षष्ठी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
षष्ठी
स्वास्थ्य, प्रजनन, संतान, मातृत्व, वंश, संतान रक्षा की देवी ; महामारियों और रोगों को हरने वाली देवी और अविनाशी वंश का वरदान देने वाली देवी
Shashthi.jpg
अन्य नाम षष्ठी, देवसेना, छठी, भगवती, जगदम्बा, देवी, कुलेश्वरी, वंशेश्वरी
संबंध देवसेना, स्कंदप्रिया, इंद्रसूता, जगजननी, पराशक्ति, देवी
निवासस्थान कार्तिकेय लोक
मंत्र
अस्त्र दो कलश, तलवार, ढाल, बालक(गोद में खेलता हुआ )
जीवनसाथी कार्तिकेय
माता-पिता

इंद्र (पिता) , इंद्राणी (मां) , महामुनी कश्यप (दादा), देवमाता अदिति (दादी), सूर्य देव (चाचा), सन्ध्या देवी (चाचि), शिव (ससुर),

पार्वती (सास)
भाई-बहन जयंत, ऋषभ, मिधुषा, जयंती, वली और अर्जुन (सौतेला भाई)
सवारी बिल्ली, कमल
शास्त्र ब्रह्मवैवर्त पुराण, विष्णु पुराण, देवी भागवत पुराण,वेद, उपनिषद, मैथिली लोक कथाएं
क्षेत्र मैथिली, बंगाली, तमिल
समुदाय इनकी पूजा मुख्य रूप से बिहार (मिथिला) के लोगों द्वारा की जाती हैं
त्यौहार छठ

षष्ठी हिंदु धर्म की एक महादेवी हैं। इन्हें भगवती की श्रेणी में रखा जाता है । बच्चों के दाता और रक्षक के रूप में पूजा इनकी की जाती है। माता षष्ठी वनस्पतियों की भी देवी हैं और माना जाता है कि प्रजनन और बच्चों को जन्म देने के दौरान सहायता करती हैं ।

पर्व ऑर त्यौहार[संपादित करें]

सनतीरहैं ्भ[संपादित करें]